Hindi News »Punjab »Dasua» मिनी बसों के किराये में बढ़ोतरी पर संधवाल में ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन

मिनी बसों के किराये में बढ़ोतरी पर संधवाल में ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन

दसूहा विधानसभा क्षेत्र के अधीन आते गांवों में प्राइवेट बस मालिकों की ओर से मनमानी कर किरायों में बढ़ौतरी की जा रही...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 18, 2018, 02:05 AM IST

मिनी बसों के किराये में बढ़ोतरी पर संधवाल में ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन
दसूहा विधानसभा क्षेत्र के अधीन आते गांवों में प्राइवेट बस मालिकों की ओर से मनमानी कर किरायों में बढ़ौतरी की जा रही है। जिससे गांव वासियों में काफी रोष है। गांव संधवाल में रोष प्रदर्शन करते लोगों का कहना है कि निजी बस मालिकों ने 14 किलोमीटर तक के सफर में 5 रुपए की वृद्धि कर दी है। उनका कहना है कि किराए में की वृद्धि के बारे में प्रशासन को कोई जानकारी नहीं है, बस मालिक अपनी मनमर्जी से किराए में वृद्धि कर रहे है।

विद्यार्थियों को उठानी पड़ रही है परेशानी : विद्यार्थियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। विद्यार्थियों का कहना है कि पहले वह 10 रुपए में सफर करते थे। लेकिन मिनी बस मालिकों की मनमर्जी से किराए में वृद्धि करने से उन्हें परेशानी ज्यादा किराया देना पड़ रहा है। सरकारी बसें न होने के कारण उन्हें प्राइवेट बसों में ही सफर करना पड़ रहा है। इस मौके रोष प्रदर्शन दौरान कपिल देव शर्मा, सुरिन्द्र, मोहन, प्रदीप शर्मा, सुभाष चंद्र, तरसेम कुमार और अन्य मौजूद थे।

बसों के किराए में वृद्धि के विरोध में रोष प्रदर्शन करते हुए ग्रामीण लोग।

3 मिनी बसों पर 20 हजार ग्रामीण हैं निर्भर

दसूहा से मात्र 14-16 किलोमीटर के क्षेत्र में विभिन्न गांव पड़ते हैं जिनमें जलोटा, बंगालीपुर, मांड पंडेर, रजपालमा, तेली चक्क, भटोलियां, जांगला, संगवान, मक्कोवाल, अदोचक्क, अगलौर, काहनुवाल आदि शामिल हैं। दसूहा से 3 मिनी बसें चलती हैं जोकि ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को शहर से जोड़ती हैं। विद्यार्थियों के अलावा 20,000 से अधिक लोग इन बसों में सफर करते है। पहले लोग 15 रुपए किराया देकर एक तरफ का सफर करते है लेकिन अब लोगों को 5 रुपए ज्यादा देना पड़ रहा है। यानि एक यात्री को आने-जाने के जहां पहले 30 रुपए देने पड़ते थे, अब 40 रुपए देने पड़ रहे है।

किराए में की गई वृद्धि को जल्द वापस लिया जाए |गांव संधवाल में सरपंच कुलभूषण शर्मा के नेतृत्व में गांव वासियों ने रोष प्रदर्शन करते कहा कि मिनी बस मालिकों द्वारा किराए में की गई वृद्धि को जल्द वापिस लिया जाए। गांव से दसूहा का सफर मात्र 14 किलोमीटर है और गांव से उनका हर रोज आना-जाना होता है। अब जब किराया बढ़ा दिया गया है तो उन्हें आर्थिक बोझ उठाना पड़ेगा।

डीजल के रेटों में वृद्धि से बढ़ाना पड़ रहा है किराया

डीजल के रेट में वृद्धि होने के कारण उन्हें बसों के किराए में वृद्धि करनी पड़ी है। बसों की मरम्मत और अन्य खर्चों में भी दिन-ब-दिन वृद्धि हो रही है। जहां तक विद्यार्थियों की बात है तो उनसे आधा किराया लिया जा रहा है। मनु, बस मालिक

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Dasua

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×