--Advertisement--

नशा छोड़ने वाले नशा छुड़ाओ केंद्र का लें लाभ : डीसी

भास्कर संवाददाता | होशियारपुर डिप्टी कमिश्नर विपुल उज्जवल ने कहा कि नशा छोड़ने वाले मरीज सरकार द्वारा जिला में...

Dainik Bhaskar

Jul 14, 2018, 02:05 AM IST
भास्कर संवाददाता | होशियारपुर

डिप्टी कमिश्नर विपुल उज्जवल ने कहा कि नशा छोड़ने वाले मरीज सरकार द्वारा जिला में स्थापित किए गए नशा छुड़ाओ और पुनर्वास केंद्र का लाभ ले सकते हैं। उन्होंने बताया कि केंद्र में जहां मरीजों का मुफ्त इलाज किया जाता है, वहीं कई अहम सिखलाई कोर्स करवाए जा रहे हैं, ताकि मरीज नशा छोड़ने के बाद अपने पैरों पर खड़े हो सकें। जिला नशा छुड़ाओ और पुनर्वास केंद्र मोहल्ला फतेहगढ़, होशियारपुर के अलावा सिविल अस्पताल होशियारपुर और दसूहा में नशा छोड़ने वाले मरीजों का मुफ्त इलाज किया जा रहा है।

डीसी ने बताया कि अब तक 475 मरीज अपना इलाज करवा चुके हैं। इसके अलावा मरीजों की काउंसलिंग, पारिवारिक व अाध्यात्मिक काउंसलिंग, मेडिटेशन व ध्यान क्रिया, इनडोर व आउटडोर खेलें, जिम, कसरत, योगा, कंप्यूटर शिक्षा के अलावा अन्य रोजगार कोर्स करवाए जा रहे हैं। गांवों में जो नौजवान नशे की दलदल में फसे है, उनको इस दलदल में से निकालने के लिए पंचायत पहलकदमी करें। नशा छुड़ाओ केंद्र के इंचार्ज डॉ. गुरविंदर सिंह ने कहा कि नशाखोरी एक मानसिक बीमारी है। इसका इलाज सिविल अस्पताल होशियारपुर और दसूहा में किया जाता है और उसके बाद मरीज को 90 दिनों के लिए पुनर्वास केंद्र में इलाज अधीन रखा जाता है। इस अवसर पर सुखविंदर सिंह, प्रशांत आदिया, प्रिंस प्रभाकर के अलावा विभिन्न गांवों के सरपंच, मैंबर और पंचायत सचिव मौजूद थे।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..