Hindi News »Punjab »Dasua» किसानों व मजदूरों की कर्ज माफी केंद्र का फर्ज: गुरनेक

किसानों व मजदूरों की कर्ज माफी केंद्र का फर्ज: गुरनेक

भास्कर संवाददाता | गढ़दीवाला किसानों की जायज मांगों को लेकर 9 अगस्त को जिला हेड क्वार्टर पर कुल हिंद किसान सभा...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 16, 2018, 02:05 AM IST

किसानों व मजदूरों की कर्ज माफी केंद्र का फर्ज: गुरनेक
भास्कर संवाददाता | गढ़दीवाला

किसानों की जायज मांगों को लेकर 9 अगस्त को जिला हेड क्वार्टर पर कुल हिंद किसान सभा सीटू तथा कुल हिंद खेत मजदूर यूनियन द्वारा दी जाने वाली गिरफ्तारी के संबंध में कुल हिंद किसान सभा की जनरल बाॅडी की मीटिंग की अध्यक्षता चरनजीत सिंह चठियाल ने की। जिसमें सभा के राज्य सचिव गुरनेक सिंह भज्जल, जिला प्रधान चैंचल सिंह, जनरल सचिव गुरबख्श सिंह सूस तथा राज्य कमेटी मैंबर आशा नंद विशेष तौर पर उपस्थित हुए। विभिन्न वक्ताओं ने कहा कि किसानी इस समय घोर संकट के दौर में से गुजर रही है। जिसके चलते देश भर में 4 लाख के करीब किसान खुदकुशी कर चुके हैं।

जिस तरह मुट्ठी भर बड़े व्यापारिक घरानों के केंद्र सरकार कर्जे माफ कर देती है उसी तरह किसानी को भी संकट से निकालने के लिए किसानों तथा मजदूरों को कर्ज मुक्त करना केंद्र सरकार की जिम्मेदारी है। बड़े व्यापारिक घरानों के ढाई लाख करोड़ के कर्जे सरकार माफ कर चुकी है तथा 10 से 12 लाख करोड़ अन्य घाटे खाते डालने के लिए तैयार है परंतु करोड़ों किसानों का 13 लाख करोड़ रुपए के कर्जे बारे केंद्रीय वित्त मंत्री अरूण जेतली का कहना है कि कर्ज माफी राज्य सरकारें अपने तौर पर करें तथा केंद्र सरकार इसके लिए फूटी कौड़ी नहीं देगा।

केंद्र सरकार किसानों तथा मजदूरों का समूचा कर्जा माफ करे, स्वामी नाथन कमिशन की सिफारिशों को लागू किया जाए। किसानों की जमीन जबरी एकवायर करने की नीती बंद की जाए, सर प्लस जमीन बे जमीनों में बांटी जाए। मीटिंग में यह भी पास किया गया कि 1 अगस्त से 6 अगस्त तक विभिन्न गांव के अंदर जनतक प्रचार मुहिम चलाई जाएगी तथा 9 अगस्त के जेल भरो आंदोलन में भारी संख्या में किसान शामिल होंगे। यहां चरन सिंह, कुलदीप, हरमिंदर, सिमरनजीत, गुरदीप उपस्थित थे।

सीपीआई एम तहसील कमेटी दसूहा के वर्कर चरनजीत सिंह चठियाल व अन्य।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Dasua

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×