दौसा

  • Hindi News
  • Punjab News
  • Dasua News
  • एेप के जरिए 26 स्कीमों की प्रोग्रेस बता रहे जीओजी : शेरगिल
--Advertisement--

एेप के जरिए 26 स्कीमों की प्रोग्रेस बता रहे जीओजी : शेरगिल

भास्कर संवाददाता | गढ़दीवाला ‘खुशहाली के रखवाले’ जमीनी स्तर पर लोक पक्षीय योजनाओं तथा समस्याओं के निपटारे के...

Dainik Bhaskar

Jun 13, 2018, 02:05 AM IST
भास्कर संवाददाता | गढ़दीवाला

‘खुशहाली के रखवाले’ जमीनी स्तर पर लोक पक्षीय योजनाओं तथा समस्याओं के निपटारे के लिए महत्वपूर्ण योगदान दे रहे हैं। अब तक राज्य में कुल 2900 खुशहाली के रखवाले कार्य कर रहे हैं तथा इस वर्ष के अंत तक इनकी संख्या 6 हजार करने का टीचा है। यह बात मुख्यमंत्री पंजाब के सीनियर सलाहकार तथा गार्डियन ऑफ गवर्नेंस (जीओजी) के सीनियर उप चेयरमैन रिटायर्ड लेफ्टिनेंट जनरल टीएस शेरगिल ने गढ़दीवाला में बैठक दौरान कही। उनके साथ एसडीएम दसूहा हिमांशु अग्रवाल भी उपस्थित थे। शेरगिल ने कहा कि खुशहाली के रखवालों द्वारा किए जा रहे कार्य जरूरत अनुसार नतीजे दे रहे हैं। उनके द्वारा की जा रही रिपोर्ट से प्रशासनिक सुधार, लोग पक्षीय योजनाओं को जमीनी स्तर तक लागू करने तथा लोगों की समस्याओं के निपटारे के लिए अहम साबित हो रही है। रिपोर्टों के आधार पर तरनतारन जिले में सबसे ज्यादा 74 प्रतिशत कार्य हुए हैं तथा लोग पक्षीय योजनाओं को लोगों तक पहुंचाया गया है। इस स्कीम को सुचारू ढंग के साथ चलाने के लिए एक ऐप डाउनलोड किया गया है। इस ऐप में विभिन्न विभागों द्वारा चलाई जा रही 26 स्कीम अपलोड की गई है जो शिक्षा, सड़कें, सेहत सहूलियतें, खेलें तथा अन्य विभागों से संबंधित हैं। खुशहाली के रखवाले अपने गांव को देखते हैं कि यह 26 स्कीमें किस ढंग के साथ लागू की गई है। अगर उनको लगता है कि कोई स्कीम सही ढंग से लागू नहीं होती तो उसकी रिपोर्ट ऐप द्वारा दी जाती है तथा स्कीम को सही ढंग से लागू न करने पर सबूत के तौर पर दस्तावेज सहित अपलोड की जाती है। यह रिपोर्ट आगे संबंधित विभाग के सचिव, जीओजी के कंट्रोल रूम तथा मुख्यमंत्री तक पहुंचती है। आगे कार्रवाई के लिए विभाग स्तर तथा जिला सब डिवीजन स्तर पर कार्रवाई होती है। इस मौके डिस्ट्रिक्ट हेड रिटायर्ड ब्रिगेडियर मनोहर सिंह, तहसील हेड पीएस राणा, तहसील हेड गढ़शंकर कर्नल गुरचरन सिंह, जिला प्रधान कांग्रेस जालंधर रूरल हरमिंदर सिंह तथा डीएसपी रविंदर उपस्थित थे।

X
Click to listen..