Hindi News »Punjab »Dharamkot» मोगा-फरीदकोट भास्कर

मोगा-फरीदकोट भास्कर

बुराई को देखना और सुनना ही बुराई की शुरुआत है। -कन्फ्यूशियस कोटकपूरा जैतो ...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jan 25, 2018, 02:10 AM IST

बुराई को देखना और सुनना ही बुराई की शुरुआत है।

-कन्फ्यूशियस

कोटकपूरा जैतो निहालसिंहवाला बाघापुराना कोटईसेखां धर्मकोट

बठिंडा, वीरवार 25 जनवरी, 2018



माघ, शुक्ल पक्ष अष्टमी, 2074

पप्पू की छत टपक रही थी ठीक डाइनिंग टेबल के ऊपर... पलंबर ने पूछा- आपको कब पता चला? पप्पू- कल रात को जब मेरा पैग तीन घंटे तक ख़त्म नहीं हुआ।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Dharamkot

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×