धर्मकोट

  • Hindi News
  • Punjab News
  • Dharamkot News
  • भांजा लड़की भगाकर ले गया, पुलिस ने मौसी को थाने ले जाकर की मारपीट, कपड़े फाड़ने का भी आरोप
--Advertisement--

भांजा लड़की भगाकर ले गया, पुलिस ने मौसी को थाने ले जाकर की मारपीट, कपड़े फाड़ने का भी आरोप

भास्कर संवाददाता | कोटईसे खां एक युवक द्वारा प्रेम जाल में फंसाकर लड़की को भगा ले जाने के मामले में पुलिस ने युवक...

Dainik Bhaskar

Mar 14, 2018, 02:15 AM IST
भास्कर संवाददाता | कोटईसे खां

एक युवक द्वारा प्रेम जाल में फंसाकर लड़की को भगा ले जाने के मामले में पुलिस ने युवक की मौसी को थाने ले जाकर बदसलूकी की और मारपीट कर घायल कर दिया। पुलिस पर महिला के कपड़े फाड़ने का भी आरोप है। घायल दलित महिला को कस्बा कोटईसेखां के सरकारी अस्पताल में दाखिल करवाया गया है। 45 वर्षीय मेशो प|ी दुल्ला सिंह ने बताया कि 10 मार्च को कस्बा कोटईसे खां थाने के एएसआई कृष्ण कुमार शर्मा 4 बजे उसे उसके घर से उठाकर थाने ले आया। जहां उसने बिना लेडी पुलिस के उससे पूछताछ और मारपीट की। एएसआई ने उसके कपड़े तक फाड़ दिए। जब उसने इसका कारण पूछा तो एएसआई कृष्ण कुमार ने कहा कि उसका भांजा अब्दुल कस्बे के एक लड़की को भगाकर ले गया है। उस बारे मुझे बताओ वह कहां है। उसने कहा कि उसे इस बारे में बारे कुछ पता नहीं है। अगर उसका भांजा किसी लड़की को भगाकर ले गया है तो आप मुझे क्यों मार रहे हो, उसको पकड़ लाओ। लेकिन वह फिर भी नहीं माना और उसे लगातार मारता रहा।

इंसाफ की मांग करते मेशो के पति दुल्ला सिंह, लड़की ज्योति व रिश्तेदार।

लड़की बोली-मैं तो अनपढ़ हूं, हस्ताक्षर कैसे करुंगी

पीड़ित महिला की लड़की ज्योति ने कहा कि मैं तो अनपढ़ हूं फिर साइन कैसे कर सकती हूं। जब शाम 7 बजे मैं अपनी मां को थाने से लेने गई तो उसकी हालत बहुत नाजुक थी। मेरी मां से बहुत मारपीट की गई थी। 181 पर फोन करने के बाद इस संबंध में मंगलवार को जब धर्मकोट डीएसपी से मिलने गई तो वह किसी बैठक में गए थे। इसलिए हम वापस आ गए।

महिला से मारपीट नहीं की: थानेदार कृष्ण कुमार

इस संबंधी जब थानेदार कृष्ण कुमार से बातचीत की गई तो उन्होंने कहा कि मैं सिर्फ पूछताछ के लिए थाने लेकर आया था। मेरे साथ लेडी कांस्टेबल भी थी। सिर्फ पूछताछ करके मैने मेशो को करीब 7 बजे उसकी लड़की ज्योति के हवाले कर दिया और ज्योति से लिखवाकर साइन करवा लिए थे कि पुलिस द्वारा मेशो को सिर्फ पूछताछ करके सही सलामत उसकी लड़की को सौंप दिया गया है। मैंने उसके साथ कोई मारपीट व बदसलूकी नहीं की।

X
Click to listen..