Hindi News »Punjab »Dharamkot» अवैध माइनिंग के खिलाफ किसान ने दी शिकायत, पुलिस ने कहा-निशानदेही करवाकर जमीन को चारों ओर से करें कवर

अवैध माइनिंग के खिलाफ किसान ने दी शिकायत, पुलिस ने कहा-निशानदेही करवाकर जमीन को चारों ओर से करें कवर

एक तरफ मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह अवैध माइनिंग करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की बात कहते हैं, वहीं...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 14, 2018, 02:15 AM IST

एक तरफ मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह अवैध माइनिंग करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की बात कहते हैं, वहीं 11 दिन पहले एक किसान द्वारा पुलिस को उसके खेत में रेत माफिया द्वारा काफी समय से की जा रही अवैध माइनिंग के संबंध में शिकायत देने के बावजूद पुलिस कार्रवाई करने की बजाय उसे समझौते के लिए मजबूर कर रही है। जबकि रेत की काला बाजारी करने वाले ठेकेदारों द्वारा खेत से 15 फुट गहराई तक रेत निकाली जा चुकी है, ऐसे में जमीन खेती लायक भी नहीं रही।

मक्खू कस्बे के गांव जोगेवाला निवासी जगवंत सिंह ने बताया कि उसने कई साल पहले जिला मोगा के गांव कमालके 58 कनाल 11 मरले जमीन व गट्टी कमालके में 58 कनाल 11 मरले जमीन खरीदी थी। उसकी जमीन दरिया के साथ लगती है, इस कारण ज्यादातर इस जमीन पर ध्यान नहीं देते थे। इस बात का फायदा उठाकर रेत माफिया पहले उनके साथ लगती जमीन से रेत निकालते रहे। धीरे-धीरे उनके खेतों से रेत निकालने लगे। जैसे ही उसे इस बात का पता चला कि उनके खेत से अवैध ढंग से रेत निकाली जा रही है तो उसने तीन से चार बार मोगा के एसएसपी से लेकर सभी अधिकारियों को मिलकर गुहार लगाई कि उसके खेत से रेत माफिया द्वारा अवैध ढंग से रेत निकाली जा रही है।

किसान ने कहा कि उसको एक महीना पहले पता चला था कि उनके खेत से अवैध ढंग से कुछ लोग रेता निकाल रहे हैं। उसने पहले मौके पर जाकर सारी स्थिति देखने के बाद पुलिस को अवगत कराया। वह एक महीने से लगातार गुहार लगा रहा है पर रेत माफिया के खिलाफ कार्रवाई नहीं की जा रही है। जबकि एक सप्ताह पहले मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह के जालंधर दौरे के दौरान हेलीकॉप्टर से जाते समय अवैध माइनिंग देखकर तुरंत कार्रवाई करने के आदेश दिए थे। लेकिन मोगा पुलिस को मुख्यमंत्री के आदेशों की भी परवाह नहीं है।

किसान जगवंत सिंह ने बताया कि रेत माफिया द्वारा उसके दो खेतों से लाखों रुपयों की रेता चोरी करके बेची गई है। इससे सरकारी खजाने को काफी नुकसान हुआ है। किसान ने रेत माफिया के खिलाफ दी शिकायत में उनके नाम जरनैल सिंह, अजीत सिंह, मक्खन सिंह, अमर सिंह, भगत सिंह बताई है। उसका कहना है कि आठ मार्च तक उसके दोनों खेतों से अवैध माइनिंग कर रेत निकाली जा रही थी।

थाना धर्मकोट के सब इंस्पेक्टर राजिंदर सिंह ने कहा कि जिस जमीन से अवैध माइनिंग की शिकायत उनके पास आई है। वहां पर दस साल पहले से अवैध माइनिंग हो रही है। क्योंकि दरिया के साथ जमीन होने के चलते वहां पानी आ जाता है। और पांच छह साल तक जमीन में पानी रहता है। जब पानी सूख जाता है तो रेत रह जाती है। जिसको लेकर विवाद रहता है। शिकायतकर्ता से कहा है कि जमीन की निशान देही करवाकर अपनी जमीन में तारें लगा ले। ताकि कोई भी उनकी जमीन में दाखिल न हो सके।

गांव कमालके में अवैध ढंग से निकाली जाने वाली जगह पर जेसीबी ट्रक में रेत लोड करती हुई।

अवैध माइनिंग के संबंध में जानकारी देता किसान जगवंत सिंह व अन्य।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Dharamkot

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×