Hindi News »Punjab »Dharamkot» मायके से डेढ़ लाख रुपए नहीं लाने पर ससुराल वालों ने विवाहिता को मारपीट कर घर से निकाला

मायके से डेढ़ लाख रुपए नहीं लाने पर ससुराल वालों ने विवाहिता को मारपीट कर घर से निकाला

डेढ़ लाख रुपए की मांग पूरी न होने पर लगभग तीन साल पहले ससुराल वालों ने विवाहिता को घर से निकाल दिया था। पीड़िता की...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 24, 2018, 02:15 AM IST

डेढ़ लाख रुपए की मांग पूरी न होने पर लगभग तीन साल पहले ससुराल वालों ने विवाहिता को घर से निकाल दिया था। पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने ससुराल परिवार के पांच लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है। धर्मकोट थाना के एएसआई गुरदेव सिंह ने बताया कि शेरपुर तोयबां निवासी बलविंदर कौर ने दो जून 2017 को एसएसपी को दी लिखित शिकायत में आरोप लगाया है कि उसकी शादी एक मार्च 2014 को हरियाणा के कुरुक्षेत्र जिले के गांव बुबैन निवासी बलदेव सिंह के साथ हुई थी। शादी के एक महीने बाद उसका पति उसे लेकर बड़े भाई रणजीत सिंह कालगढ़ के पास ले गया जहां पर वह ग्रंथी के तौर पर काम करता था। बाद में उसका पति उसे लेकर डबवाली स्थित एक गुरुद्वारा साहिब में सात हजार रुपये में ग्रंथी के तौर पर काम करने लगा। इसी बीच उसके जेठ-जेठानी ने फोन करके उनको वापस अपने पास बुला लिया। इसके बाद ससुराल वाले उसे नौकरी दिलवाने की बात कहकर मायके वाले से डेढ़ लाख रुपए की मांग करने लगे। विवाहिता ने भी अपने मायके वाले से रुपए लाकर देने से इंकार कर दिया। इस पर रुपए लेकर ही वापस लौटने की बात कह कर ससुराल वालों ने उससे मारपीट की और 15 मई 2015 को घर से निकाल दिया। इसके बाद उसके मायके वाले ने ससुराल परिवार से कई बार इस संबंध में समझौते की बात की। लेकिन ससुराल परिवार ने समझौता करने से इंकार कर दिया। एसएसपी को लिखित शिकायत देने पर जांच डीएसपी धर्मकोट को सौंपी गई। जांच अधिकारी ने साढ़े नौ महीने की जांच के बाद ससुराल पक्ष पर लगाए आरोप सही पाए। हरियाणा के कुरुक्षेत्र जिले के गांव बुबैन निवासी पति बलदेव सिंह, सास बलवीर कौर, ससुर बचन सिंह, जेठ रणजीत सिंह व जेठानी अमरजीत कौर के खिलाफ दहेज उत्पीड़न के साथ-साथ घरेलू हिंसा के आरोप में केस दर्ज किया है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Dharamkot

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×