Hindi News »Punjab »Dharamkot» धर्मकोट में सैंपल लेने गई फूड ब्रांच की टीम काे व्यापारियों ने घेरा

धर्मकोट में सैंपल लेने गई फूड ब्रांच की टीम काे व्यापारियों ने घेरा

भास्कर संवाददाता | कोटईसेखां सेहत विभाग की फूड ब्रांच की टीम ड्यूटी मजिस्ट्रेट के साथ दो स्थानों पर खाद्य...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 19, 2018, 02:15 AM IST

भास्कर संवाददाता | कोटईसेखां

सेहत विभाग की फूड ब्रांच की टीम ड्यूटी मजिस्ट्रेट के साथ दो स्थानों पर खाद्य पदार्थों के सैंपल लेने के लिए पहुंची तो टीम को दोनों जगह दुकानदारों के विरोध का सामना करना पड़ा। टीम आने के बाद कोटईसेखां में दुकानदारों द्वारा दुकानें बंद कर दी गईं। वहीं धर्मकोट में व्यापारियों ने टीम का विरोध करना शुरू कर दिया।

कोटईसेखां में पिछले दो दिनों से सैंपल भरने वालों की अफवाहों कारण दुकानें बंद बार बार बंद हो रही थीं, लेकिन बुधवार को सेहत विभाग की टीम कस्बे में सैंपल भरने के पहुंच गई। तहसीलदार प्रशोतम शर्मा की देखरेख में फूड सेफ्टी अधिकारी अभिनव खोसला ने टीम के साथ कस्बे में सुबह 8:30 बजे सैंपल भरने शुरू किए। इसकी भनक लगते ही करियाना, हलवाई, खाने-पीने वाली वस्तुएं बेचने वाले दुकानदार दुकानें बंद कर चले गए। टीम 2 घंटे कस्बे में घूमती रही, दुकानें बंद होने से ज्यादा सैंपल नहीं ले सकी। अभिनव खोसला ने बताया कि कस्बे में 3 सैंपल ही भरे, जिसमे 2 फारूक डेयरी पर व 1 अन्य दूध का भरा गया है। (मनू)

कोटईसेखां में बंद दुकानें ।

दूध के टैंकर की जांच करते खोसला व तहसीलदार।

धर्मकोट में टीम के साथ गए ड्यूटी मजिस्ट्रेट से धक्कामुक्की

ड्यूटी मजिस्ट्रेट रमेश कुमार के साथ फूड ब्रांच की टीम कस्बा धर्मकोट में पहुंची। वहां पर टीम ने दुकानों से 8 सैंपल लिए। इनमें दाल, चावल, दाल हरि मूंगी, काले माह, छोले की दाल, राजमाह, मस्टर्ड आयल के सैंपल शामिल हैं। इस दौरान कस्बे के दुकानदार सैंपल लेने वाली दुकान के बाहर इकट्ठा होकर सैंपल लेने का विरोध करने लगे। जैसे ही टीम सैंपल लेकर जाने लगी तो व्यापारियों द्वारा सेहत विभाग की सरकारी गाड़ी को घेर लिया गया। किसी तरह से सेहत विभाग की गाड़ी को वहां से निकली।

फूड सेफ्टी अधिकारी ने माना लोगों ने रोकी गाड़ी

वहीं फूड सेफ्टी अधिकारी अभिनव खोसला ने कहा कि उनकी टीम कोटईसेखां व धर्मकोट में सैंपल लेने के लिए गई थी। उनको मात्र दो पुलिस वाले दिए गए थे। कोटईसेखां में विवाद होने पर दोनों पुलिस वाले वहां से गायब हो गए थे। जबकि धर्मकोट में उनकी सरकारी गाड़ी को व्यापारियों ने घेर लिया था, किसी तरह वे वहां से निकले।

अधिकारी ने नकारा |सूत्रों के अनुसार व्यापारी सैंपल लेने से इतने आक्रोशित थे कि उन्होंने ड्यूटी मजिस्ट्रेट के साथ धक्का-मुक्की की। हालांकि ड्यूटी मजिस्ट्रेट रमेश कुमार ने ऐसी घटना से साफ इंकार कर दिया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Dharamkot

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×