धर्मकोट

--Advertisement--

कोठी व ढाबे पर कब्जा करने के मामले में तीन आरोपी नामजद

मोगा|पुलिस व नेताओं द्वारा गांव के कुछ लोगों के साथ मिलकर एक दिव्यांग किसान की कोठी व ढाबे पर कब्जा करने की नीयत से...

Dainik Bhaskar

May 11, 2018, 03:25 AM IST
मोगा|पुलिस व नेताओं द्वारा गांव के कुछ लोगों के साथ मिलकर एक दिव्यांग किसान की कोठी व ढाबे पर कब्जा करने की नीयत से पांच साल पहले जेसीबी मशीन चलाकर गिरा दिया था। जांच के बाद पुलिस ने तीन लोगों को नामजद करने के साथ-साथ दस अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है। थाना मैहना के एएसआई मेजर सिंह ने बताया कि गांव तलवंडी भंगेरियां निवासी दिव्यांग किसान परमजीत सिंह ने आठ मई 2017 को मोगा के एसएसपी को दी लिखित शिकायत में आरोप लगाया था कि उसने छह से सात कनाल में ढाबा व पीछे कोठी बनाई हुई थी। उसका ताया व ताई जबरन जमीन पर कब्जा करने की नीयत रखते थे। इसी बीच ताया ने वह जमीन कुलदीप सिंह निवासी दौसांझ रोड मोगा, बलतेज सिंह उर्फ बहादुर निवासी तलवंडी भगेरियां व गांव खोसा कोटला निवासी अंग्रेज सिंह को बेच दी। शिकायतकर्ता का आरोप है कि ताया ने जाली वसीयत तैयार कर पहले जमीन अपने नाम करवाई बाद में उक्त लोगों को बेच दी। इस घटनाक्रम में पुलिस अधिकारी व नेता भी उक्त लोगों का साथ दे रहे थे। जिसके चलते साल 2013 में उक्त लोगों ने मिलकर उसका ढाबा व कोठी को गिरा दिया। अंदर से आठ से दस लाख रुपए का सामान भी चोरी कर ले गए।

5 सालों में मोगा से लेकर चंड़ीगढ़ तक पीड़ित लगा चुका है इंसाफ की गुहार

परमजीत सिंह का आरोप है कि जिस समय उसके साथ घटना घटी उस समय राज्य में अकाली दल की सरकार थी। वह समय-समय जिला मोगा से लेकर चंड़ीगढ़ तक पुलिस के अधिकारियों के समक्ष इंसाफ की गुहार लगाई। लेकिन पांच साल तक सुनवाई नहीं हुई। अब सरकार बदलने के बाद एक साल पहले उसने फिर से एसएसपी को शिकायत देकर इंसाफ की गुहार लगाई। मामले की जांच डीएसपी धर्मकोट को सौंप दी गई। जांच अधिकारी ने एक साल तक चली लंबी जांच के बाद शिकायतकर्ता के आरोप सही पाए। मामले में कुलदीप सिंह निवासी दौसांझ रोड मोगा, बलतेज सिंह उर्फ बहादुर निवासी तलवंडी भगेरियां व गांव खोसा कोटला निवासी अंग्रेज सिंह के अलावा दस अज्ञात लोगों के खिलाफ धारा 380, 427, 447,148व 506 के तहत केस दर्ज कर आरोपियों की तलाश में छापेमारी की जा रही है।

X
Click to listen..