Hindi News »Punjab »Dhuri» आंगनबाड़ी वर्करों ने लालबत्ती चौक में किया ट्रैफिक जाम, राहगीरों से तकरार

आंगनबाड़ी वर्करों ने लालबत्ती चौक में किया ट्रैफिक जाम, राहगीरों से तकरार

महिला दिवस पर जिले भर में एक तरफ जहां महिलाओं के अधिकारों की बातें की जा रही थी वहीं दूसरी तरफ महिला आंगनबाड़ी...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 09, 2018, 02:10 AM IST

आंगनबाड़ी वर्करों ने लालबत्ती चौक में किया ट्रैफिक जाम, राहगीरों से तकरार
महिला दिवस पर जिले भर में एक तरफ जहां महिलाओं के अधिकारों की बातें की जा रही थी वहीं दूसरी तरफ महिला आंगनबाड़ी वर्कर अपनी मांगों को लेकर सड़कों पर दिखाई दीं। बड़ी संख्या में जुटीं आंगनबाड़ी वर्करों ने जिले के हर ब्लॉक में सरकार के विरुद्ध खूब प्रदर्शन किया। शहर में जिला प्रबंधकीय परिसर के समक्ष बड़ी संख्या में जुटी वर्करों को डीसी दफ्तर के अंदर नहीं जाने दिया गया। ऐसे में गुस्साई वर्करों ने लालबत्ती चौक तक रोष मार्च कर चौक में धरना लगा दिया। शहर के बस स्टैंड के साथ लगते मुख्य चौक होने के कारण यातायात काफी प्रभावित हुआ। प्रदर्शन के दौरान आंगनबाड़ी वर्करों और राहगीरों में रास्ता को लेकर तकरार भी हुई।

तय प्रोग्राम के अनुसार जिले भर से आंगनबाड़ी वर्कर डीसी कार्यालय के समक्ष जमा हुए। आंगनबाड़ी वर्करों के प्रदर्शन को देखते हुए पुलिस ने बैरीकेड लगाकर महिला व पुरुष पुलिस कर्मचारियों को तैनात कर दिया। डीसी दफ्तर के दोनों बाहरी गेटों को बंद कर दिया गया। ऐसे में गुस्साई वर्कर लाल बत्ती चौक में पहुंच गई जहां करीब आधा घंटा तक धरना देकर यातायात को ठप किया गया। इस मौके पर रणजीत कौर, सर्बजीत कौर संगरूर, बलविंदर कौर लहरा, कृष्णजीत कौर सुनाम, आशा धूरी, रूपिंदर मालेरकोटला, मनदीप कुमारी आदि उपस्थित थे।

वर्करों ने डीसी कार्यालय के बाहर पड़े बैरीकेड्स उठाकर सड़क के बीच रख ट्रैफिक किया जाम।

मांग : आंगनबाड़ी सेंटरों से लिए गए बच्चे वापस भेजें

मांग की गई कि आंगनबाड़ी सेंटरों से लिए गए बच्चे वापस भेजे जाएं। आंगनबाड़ी वर्करों और हेल्परों को सरकारी मुलाजिम मानते हुए दर्जा-3 व दर्जा-4 दिया जाए। वर्करों को कम से कम 18 हजार व हेल्परों को 15 हजार वेतन दिया जाए। किराए पर चल रही आंगनबाड़ी केन्द्रों का पिछले दो वर्ष का किराया तुरंत जारी किया जाए।

20 मार्च को चंडीगढ़ में रैली

चेतावनी दी कि आंगनबाड़ी मुलाजिम अपनी मांगों की पूर्ति के लिए 20 मार्च को चंडीगढ़ में महिला व बाल विकास विभाग के मुख्य कार्यालय के समक्ष रोष रैली करेंगे।

नाराजगी: पक्की नौकरी के लिए एनएचएम मुलाजिमों ने काले रिबन बांधकर की ड्यूटी

संगरूर| बराबर काम बराबर वेतन की मांग को लेकर एनएचएम मुलाजिमों ने वीरवार को ड्यूटी के दौरान काले रिबन बांध कर अपना रोष जाहिर किया। यूनियन नेता लखबीर कौर, अमनजोत कौर, सुखजिंदर कौर ने बताया कि एनएचएम मुलाजिम पिछले कई वर्षों से काफी कम वेतन पर काम कर रहे हैं। जिस कारण उनके परिवार का गुजारा काफी मुश्किल से हो रहा है। यूनियन नेता जसकीरत सिंह ने कहा कि उनका मुख्य मकसद बराबर काम बराबर वेतन व ठेका मुलाजिमों को पक्का करवाना है। इस लिए मुलाजिमों ने दफ्तरी कार्यकाल के दौरान अपनी बाजू पर काले रीबन बांध कर रोष जाहिर किया है। अकाली भाजपा सरकार ने ठेका मुलाजिमों को रेगुलर करने के लिए एक्ट बनाया था।

संगरूर के लालबत्ती चौक में आंगनबाडी वर्करों और राहगीरों में रास्ते को लेकर हुई तकरार।

बाजू पर काले रिबन बांधकर रोष जाहिर करतीं एनएचएम मुलाजिम।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Dhuri

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×