Hindi News »Punjab »Dhuri» फौज पर टिप्पणी के विरोध स्वरूप युकां सदस्यों ने मोहन भागवत का पुतला फूंका

फौज पर टिप्पणी के विरोध स्वरूप युकां सदस्यों ने मोहन भागवत का पुतला फूंका

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत द्वारा फौज पर की गई टिप्पणी से नाराज यूथ कांग्रेसियों द्वारा यूथ...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 14, 2018, 02:15 AM IST

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत द्वारा फौज पर की गई टिप्पणी से नाराज यूथ कांग्रेसियों द्वारा यूथ कांग्रेस के विधानसभा हलका धूरी के प्रधान मिट्ठू लड्डा के नेतृत्व में स्थानीय कक्ड़वाल चौक में मोहन भागवत का पुतला फूंका गया। पुतला जलाने से पहले इन प्रदर्शनकारियों द्वारा गधे पर मोहन भागवत का पुतला रख कर शहर भर में रोष मार्च भी किया गया।

इस मौके मिट्ठू लड्डा ने कहा कि भाजपा की बी टीम आरआरएस के प्रमुख मोहन भागवत की यह टिप्पणी कि भारतीय फौज जो 6 महीने में नहीं कर सकती है, वह आरएसएस की टीम तीन दिनों में करके दिखा सकती है, बेहद निंदनीय है। उन्होंने कहा कि ऐसी टिप्पणी करके आरएसएस प्रमुख ने जहां फौज का मनोबल गिराने की कोशिश की है, वहीं यह फौज का अपमान भी है। उन्होंने कहा कि मोहन भागवत को अपनी इस टिप्पणी के लिए भारतीय फौज से माफी मांगनी चाहिए। इस मौके यूथ कांग्रेस के लोकसभा हलका संगरूर के इंचार्ज बन्नी खैहरा, जगदीप सिंह सरपंच धांदरा, निशान सिंह, शमशेर सिंह कंधारगढ़, हिमांशु धूरी, कुलविंदर बिल्ला, लवली सिंह, हरजीत सिंह बब्बी, हरमेल सिंह धूरी, मनु शारदा, रवि सिंगला, बब्बू भुल्लर, इष्ट भुल्लर, मनी वैद्य तथा राजू आदि मौजूद थे। (राजेश टोनी)

धूरी में यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ता मोहन भागवत का पुतला फूंकते हुए।

सुनाम में आरएसएस मुखी का पुतला फूंका

सुनाम |यूथ कांग्रेस द्वारा यूथ विंग के प्रधान मालविंदर सिंह की अगुवाई में आईटीआई चौक में आरएसएस के मुखी मोहन भागवत का पुतला फूंका गया। मालविंदर ने कहा कि मोहन भागवत ने इंडियन आर्मी के मनोबल को ठेस पहुंचाई है। मोहन ने कहा है कि सीमा पर लड़ाई लडऩे के लिए भारतीय सेना को तैयारी करने में 6-7 महीने लगेंगे। जबकि आरएसएस के जवान कम समय में लड़ाई लडऩे के लिए तैयार हो जाएंगे। भागवत ने तिरंगे का भी अपमान किया है। मोहन को आर्मी से माफी मांगनी चाहिए।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Dhuri

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×