धुरी

--Advertisement--

1 फरवरी से लागू होगा ई-वे बिल : दीक्षित

व्यापार मंडल के प्रधान धर्मपाल गर्ग के नेतृत्व में जीएसटी तथा ई-वे बिल को लेकर विभाग के अधिकारियों द्वारा...

Danik Bhaskar

Jan 15, 2018, 02:15 AM IST
व्यापार मंडल के प्रधान धर्मपाल गर्ग के नेतृत्व में जीएसटी तथा ई-वे बिल को लेकर विभाग के अधिकारियों द्वारा व्यापारियों के साथ बैठक की गई। जिसमें ईटीओ जसवीत दीक्षित ने व्यापारियों को ई-वे बिल संबंधी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि 50 हजार रुपए से अधिक माल लाते समय ई-वे बिल होना जरूरी किया गया है। उन्होंने बताया कि यह ई-वे बिल एक राज्य से दूसरे राज्य में माल की खरीद करने के लिए 1 फरवरी से लागू हो रहा है तथा पंजाब में कारोबार करने वालों के लिए इसे जून-जुलाई 2018 में लागू किए जाने की संभावना है। ई-वे बिल की शर्तों को लेकर व्यापार मंडल के प्रधान धर्मपाल गर्ग और अन्य व्यापारियों ने अपनी नाराजगी जाहिर की। उन्होंने कहा कि इस ई-वे बिल की कुछ शर्तें बेहद गैर वाजिब हैं। उन्होंने कहा कि यदि कोई व्यापारी लुधियाना या फिर दिल्ली आदि शहरों से 5-6 अलग-अलग दुकानों से 15-15 हजार रुपए का माल खरीदता है, तो उक्त कोई भी दुकानदार उन्हें महज 15 हजार रुपए का माल खरीदने पर ई-वे बिल जारी नहीं करेगा। उन्होंने कहा कि उक्त कई दुकानों से खरीदे गए माल की कुल कीमत यदि 50 हजार रुपए से अधिक बन जाती है, तो फिर उसका ई-वे बिल वह कहां से लाएंगे। उक्त मुश्किलों पर विभाग के अधिकारियों ने सहमति प्रगट करते हुए कहा कि वह व्यापारियों की मुश्किलों के निपटारे के लिए इस संबंधी विभाग के उच्च अधिकारियों को लिख कर भेजेंगे। प्रधान धर्मपाल गर्ग ने ईटीओ जसवीत दीक्षित को सम्मानित भी किया। मीटिंग में कपड़ा एसोसिएशन, मोबाइल एसोसिएशन, कैमिस्ट एसोसिएशन, शूज़ एसोसिएशन, रेडिमेड गारमेंट्स एसोसिएशन, बसाती एसोसिएशन सहित अन्य व्यापारिक संगठनों के प्रतिनिधि मौजूद थे। (राजेश टोनी)

बैठक

ई-वे बिल को लेकर अधिकारियों ने व्यापारियों से की मीटिंग

ईटीओ जसवीत दीक्षित को सम्मानित करते प्रधान धर्मपाल गर्ग व अन्य।

Click to listen..