Hindi News »Punjab »Dhuri» कालाबूला में जरूरतंमद परिवारों के नहीं बनाए शौचालय, लोगों में रोष

कालाबूला में जरूरतंमद परिवारों के नहीं बनाए शौचालय, लोगों में रोष

स्वच्छ भारत मिशन के तहत शुरू की गई शौचालय बनाने की चेतना मुहिम अभी जरूरतमंद परिवारों के घरों तक नहीं पहुंची है।...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jan 18, 2018, 02:15 AM IST

स्वच्छ भारत मिशन के तहत शुरू की गई शौचालय बनाने की चेतना मुहिम अभी जरूरतमंद परिवारों के घरों तक नहीं पहुंची है। शौचालय न बनने से खासकर गांवों के परिवार की महिलाओं को बड़ी मुश्किल का सामना करना पड़ रहा है।

गांव कालाबूला निवासी सिंदर सिंह, मनजीत सिंह, भान सिंह, गोपाल सिंह ने बताया कि उनके घरों में आरजी शौचालय होने के बावजूद अभी तक जरूरतंमद परिवारों को शौचालय की स्कीम का लाभ नहीं मिला है। जिसका लोगों में रोष पाया जा रहा है। इसी प्रकार गांव हेड़ीके, अलाल, ईना बाजवा, खेड़ी खुर्द व अन्य गांव के परिवारों ने सरकार से मांग की है कि नए सिरे से वंचित परिवारों को शौचालय स्कीम में शामिल किया जाए।

उन्होंने बताया कि वर्ष 2015 में राज्य सरकार के वाटर सप्लाई व सेनिटेशन विभाग द्वारा गांवों में जाकर पंचायतों के सहयोग से घरों की शिनाख्त की थी। जहां पर शौचालय नहीं बने हुए हैं। लेकिन सरकार ने शिनाख्त किए घरों में शौचालय बनाने के बजाय पंचायतों पर दबाव डालकर यह लिखवाना शुरू कर दिया कि गांव का कोई भी व्यक्ति खुले में शौच नहीं जाता है। जिसका गांव की पंचायतों ने डटकर विरोध किया था। पंचायतों ने संबंधित विभाग के सामने यह शर्त रखी थी कि जितना समय तक पंचायत के मते मुताबिक बाकी जरूरतमंद लोगों के नाम शौचालय बनाने की लिस्ट में शामिल नहीं किए जाते हैं उतनी देर तक गांव में एक भी शौचालय नहीं बनने दिया जाएगा। जिसके बाद सरकार को दोबारा सर्वे करवाना पड़ा था।

शेरपुर में शौचालय बनाने की मांग करते हुए जरूरतंद परिवार। -भास्कर

वंचित लाभार्थी मोटीवेटर के पास नाम दर्ज करवाएं : दास

वाटर सप्लाई व सेनिटेशन विभाग के एसडीओ धूरी हरीचरन दास ने बताया कि अगर कोई जरूरतमंद परिवार शौचालय की सुविधा से वंचित है तो वह यहां आकर मोटीवेटर के पास अपना नाम लिखवा सकता है। जिसके बाद विभाग उसे शौचालय की सुविधा दिलाने के लिए आगे सिफारिश करेगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Dhuri

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×