Hindi News »Punjab »Dhuri» जिले के योग्य किसानों को फसली कर्ज मुक्ति स्कीम से वंचित नहीं रखा जाएगा : डीसी थोरी

जिले के योग्य किसानों को फसली कर्ज मुक्ति स्कीम से वंचित नहीं रखा जाएगा : डीसी थोरी

डीसी घनश्याम थोरी ने बताया कि पंजाब सरकार द्वारा आर्थिक तंगी के कारण कर्ज के बोझ में फंसे जिले के किसी भी योग्य...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 22, 2018, 02:20 AM IST

डीसी घनश्याम थोरी ने बताया कि पंजाब सरकार द्वारा आर्थिक तंगी के कारण कर्ज के बोझ में फंसे जिले के किसी भी योग्य किसान को फसली कर्ज मुक्ति स्कीम से वंचित नहीं रखा जाएगा। कर्ज मुक्ति स्कीम के तहत विभिन्न योग्य लाभपात्रियों के प्राप्त हुए दस्तावेजों संबंधी जांच प्रक्रिया जारी है व स्व घोषणा पत्र लिए जा रहे हैं। थोरी ने किसानों को विश्वास दिलाते हुए कहा कि कर्जमाफी स्कीम के अधीन आने वाले प्रत्येक किसान का कर्ज माफ किया जाएगा।। यदि किसी भी योग्य किसान का नाम सूची में शामिल होने से रह गया हो या कोई ऐतराज हो तो वह संबंधित एसडीएम से संपर्क कर सकते हैं।

डीसी ने किसानी कर्जों संबंधी आम लोगों व किसानों को सचेत करते हुए बताया कि पंजाब सरकार की कर्जमाफी स्कीम के अधीन 2. 5 एकड़ तक वाले सभी सीमांत किसानों का 2 लाख रुपए तक का कर्ज माफ किया जाएगा। इसके साथ ही उन्होंने यह भी साफ किया कि 2. 5 से 5 एकड़ वाले छोटे किसानों को भी इस स्कीम का लाभ दिया जाएगा व उनके केसों पर कर्जमाफी स्कीम के अधीन विचार किया जाएगा। उन्होंने जिले के किसानों से अपील की कि वह कर्जमाफी स्कीम के विरुद्ध फैलाई जा रही अफवाहों पर यकीन न करें। उन्होंने स्पष्ट किया कि यदि किसी किसान का नाम किसी कारण इस स्कीम में शामिल होने से रह गया है तो वह इस संबंधी अपनी सब डिवीजन से संबंधित एसडीएम या सोसायटी से तालमेल कर सकता है व पेश किए जाने वाले सबूत योग्य पाए जाने पर उसे भी इसका लाभ दिया जाएगा।

डीसी घनश्याम ।

कर्जमाफी स्कीम का लाभ लेने के लिए किसान 23 मार्च को रखे अपना पक्ष : अमरेशवर सिंह

धूरी| कर्जमाफी स्कीम का लाभ लेने के लिए योग्य किसान 23 मार्च को अपना पक्ष दोपहर 1 बजे से शाम 4 बजे तक गठित की गई कमेटी के समक्ष रख सकते है। एसडीएम अमरेश्वर सिंह ने बताया कि स्कीम के तहत 2.5 एकड़ तक वाले किसानों का 2 लाख रुपए तक का कर्ज माफ किया जाएगा। उन्होंने स्पष्ट किया कि 2.5 एकड़ से 5 एकड़ तक जमीन वाले छोटे किसानों को भी इस स्कीम का लाभ दिया जाएगा और उनके केसों पर दूसरे चरण में कर्जमाफी हेतू विचार किया जाएगा। उन्होंने कहा कि माल विभाग के रिकार्ड व आधार कार्ड के विवरण मेल न होने तथा कुछ अन्य तकनीकी कारणों के चलते कई किसानों के नाम कर्जमाफी स्कीम में शामिल नहीं किए गए हैं। उन्होंने कहा कि कर्जमाफी स्कीम के तहत आने वाले प्रत्येक किसान का कर्जा माफ किया जाएगा। (राजेश टोनी)

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Dhuri

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×