• Home
  • Punjab News
  • Dhuri News
  • चोरी से गुस्साए आढ़तियों का पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन
--Advertisement--

चोरी से गुस्साए आढ़तियों का पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन

नई अनाज मंडी में चोरों द्वारा 4 दुकानों को निशाना बनाए जाने से नाराज आढ़तियों ने आढ़तिया एसो. धूरी के प्रधान जगतार...

Danik Bhaskar | Feb 03, 2018, 03:20 AM IST
नई अनाज मंडी में चोरों द्वारा 4 दुकानों को निशाना बनाए जाने से नाराज आढ़तियों ने आढ़तिया एसो. धूरी के प्रधान जगतार सिंह के नेतृत्व में पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की।

जगतार सिंह ने कहा कि चोरों द्वारा अंजाम दी गई इस वारदात को देख कर लगता है कि चोरों ने इस घटना को बेखौफ तरीके से 3-4 घंटों में अंजाम दिया है। उन्होंने कहा कि पुलिस और प्रशासन को नई अनाज मंडी में पीसीआर की गश्त बढ़ाने संबंधी उनके द्वारा कई बार अपील की जा चुकी है, लेकिन उक्त अपील को नजरंदाज किए जाने के चलते चोर बेखौफ हो कर चार दुकानों को निशाना बनाने में कामयाब हुए हैं। उन्होंने बताया कि नई अनाज मंडी में सरेआम कुछ ढाबों, चाय की दुकानों पर अनधिकृत त तरीके से रात को 12 बजे तक शराब पीने-पिलाने का काम चलता है, जिस कारण मंडी में ऐसी घटनाएं होने का अंदेशा बना रहता है। उन्होंने कहा कि मंडीकरण बोर्ड द्वारा मंडी की चारदीवारी न करवाए जाने के कारण भी अक्सर आढ़ती, किसान और मजदूर खुद को असुरक्षित महसूस करते हैं। उन्होंने कहा कि मंडीकरण बोर्ड के अधीन आती अनाज मंडी में शराब के ठेके का होना और अहातों आदि पर शराब पिलाना मंडीकरण बोर्ड के नियमों के खिलाफ है। उन्होंने कहा कि यदि प्रशासन ने कोई ठोस कदम न उठाया गया तो आढ़ती संघर्ष करने से पीछे नहीं हटेंगे। इस मौके विपिन, बसंत कुमार, कंवरदीप सिंह, नरेश कुमार, प्रवीण कुमार, गुरदीप सिंह, अनिल देवगण तथा नवीन बांसल आदि भी मौजूद थे। (राजेश टोनी)

धूरी की अनाज मंडी में पुलिस और प्रशासन के खिलफ नारेबाजी करते आढ़ती।

गैस कटर से तिजोरी काट Rs.7 हजार और कागजात उड़ाए

धूरी| पीड़ित आढ़ती मैस. जगदीश चंद राकेश कुमार के मालिक विपिन कांझला ने बताया कि चोर छत के रास्ते से दुकान में धुसे थे। दुकान में पड़ी लोहे की मजबूत सेफ (तिजोरी) को गैस कटर से काट कर उसमें पड़े 7 हजार रुपए एवं अन्य कागजात चोरी कर ले गए हैं। उन्होंने बताया कि फसल का सीजन न होने के कारण दुकान में कैश व अन्य सामान ज्यादा न होने के चलते अधिक नुकसान होने से बचाव रह गया। इसी तरह से फर्म मैस. रौनक राम हरी चंद सहित दूसरी दो दुकानों में चोर दाखिल तो हुए परंतु दुकान पर नकदी नहीं होने के कारण कोई नुकसान नहीं हुआ है। (राजेश टोनी)