Hindi News »Punjab »Dhuri» खरीद एजेंसियों की लापरवाही से नाराज आढ़तियों ने की नारेबाजी

खरीद एजेंसियों की लापरवाही से नाराज आढ़तियों ने की नारेबाजी

आढ़तिया एसोसिएशन ने प्रधान जगतार सिंह समरा के नेतृत्व में खरीद एजेंसियों की लापरवाही के रोष में नई अनाज मंडी में...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 13, 2018, 02:10 AM IST

आढ़तिया एसोसिएशन ने प्रधान जगतार सिंह समरा के नेतृत्व में खरीद एजेंसियों की लापरवाही के रोष में नई अनाज मंडी में प्रशासन व सरकार के खिलाफ रोष प्रदर्शन किया। इस मौके पर प्रधान जगतार सिंह ने घटिया खरीद प्रबंधों पर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि गत दिनों पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने गेहूं के सीजन में किसानों, आढ़तियों तथा लेबर को कोई भी मुश्किल न आने की बात कही थी। उन्होंने इसके लिए सरकारी एजेंसियों के अधिकारियों को सख्त हिदायतें भी दी थी लेकिन निचले स्तर पर खरीद एजेंसियों के अधिकारियों द्वारा सरेआम मुख्यमंत्री के आदेशों की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। उन्होंने कहा कि धूरी मंडी में गेहूं की खरीद जारी है वहीं बारदाने की कमी के कारण उन्हें भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। धूरी मंडी में पनग्रेन के अलावा किसी अन्य खरीद एजेंसी द्वारा अभी तक बारदाना ही नहीं भेजा गया है। उन्होंने खरीद एजेंसियों के अधिकारियों पर गेहूं में अधिक नमी होने का बहाना बना गेहूं की खरीद करने में आना-कानी करने का आरोप भी लगाया। उन्होंने इसे लेकर सरकारी खरीद एजेंसियों के अधिकारियों, प्रशासन व पंजाब सरकार के खिलाफ जम कर नारेबाजी की। उन्होंने चेतावनी भी दी कि यदि खरीद एजेंसियों ने अपना ढुलमुल रवैया न बदला तो वह संघर्ष तेज करने से भी गुरेज नहीं करेंगे। इस मौके पर लाल गर्ग पूर्व प्रधान, जाग सिंह, हरदेव सिंह बड़ैच, प्रेम शर्मा, मेजर सिंह, गुरदीप सिंह, राजिंदर सिंह, आशु सिंगला, रमेश कुमार, सतवीर गोयल, नरेश बांसल, हरविंदर कुमार, बिमल मुनि, हरमनजीत सिंह, मुकेश सिंगला, अखिलेश कुमार, भवनजीत सिंह सहित अन्य आढ़तिए मौजूद थे। (अमित जिंदल)

धूरी अनाज मंडी में खरीद एजेंसियों की लापरवाही से नाराज आढ़तिए प्रदर्शन करते हुए।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Dhuri

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×