फिरोजपुर के 5 विरासती गेटों का 50 लाख से होगा कायाकल्प

Ferozepur News - अगले माह काम हाेगा शुरू बॉर्डर डिस्ट्रिक्ट में पर्यटन व सैर-सपाटे को प्रोत्साहित करने के लिए प्रदेश सरकार की...

Feb 15, 2020, 07:41 AM IST
Firozpur News - 5 heritage gates of ferozepur will be rejuvenated with 50 lakhs
}अगले माह काम हाेगा शुरू

बॉर्डर डिस्ट्रिक्ट में पर्यटन व सैर-सपाटे को प्रोत्साहित करने के लिए प्रदेश सरकार की तरफ से फिरोजपुर के शहर के पांच ऐतिहासिक गेटों के कायाकल्प का प्रोजेक्ट तैयार किया गया है जिसपर 50 लाख रुपए की लागत आएगी। इस प्रोजेक्ट को विधायक परमिंदर सिंह पिंकी के प्रयासों से तैयार किया गया है। उन्होंने बताया कि इन सभी प्रोजेक्ट्स पर काम अगले महीने से शुरू हो जाएगा। सबसे पहले दिल्ली गेट का कायाकल्प किया जाएगा।

विधायक परमिंदर सिंह पिंकी ने बताया कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंदर सिंह की अगुवाई में पंजाब सरकार फिरोजपुर शहर की शानदार विरासतों और धरोहरों को सहेजने और इस शहर को बतौर टूरिस्ट प्लेस विकसित करने के लिए वचनबद्ध है। इस मिशन के तहत करीब 60 करोड़ रुपए के प्रोजेक्ट पाइपलाइन में हैं। करीब 50 करोड़ रुपए की लागत से हरीके वैटलेंड को डिवेल्प करने का प्रोजेक्ट चल रहा है, जिससे यह स्थल एक मेजर टूरिस्ट सपॉट के तौर पर विकसित होगा। इसके अलावा फिरोजपुर शहर को पर्यटन के लिहाज से विकसित करने के लिए 10 करोड़ रुपए की लागत से कई प्रोजेक्ट चल रहे हैं। इन सभी प्रोजेक्टों से न सिर्फ शहर विकास के मार्ग पर तेजी से आगे बढ़ेगा बल्कि विश्वस्तर पर एक टूरिस्ट प्लेस के तौर पर उभरकर सामने आएगा। उन्होंने कहा कि युवाओं को हमारे गौरवशाली इतिहास से वाकिफ करवाने के लिए प्राचीन धरोहरों को संभालना समय की जरूरत है।

उन्होंने कहा कि इन सभी पुराने गेटों के कायाकल्प प्रोजेक्ट के तहत जीरा गेट, मक्खू गेट, दिल्ली गेट, मैगजीन गेट और मुल्तानी गेट का कायाकल्प होगा। सबसे पहले दिल्ली गेट के कायाकल्प का काम शुरू होगा। इन सभी गेटों के कायाकल्प के वक्त इनकी प्राचीन ऐतिहासिक बनावट को संभालने का खास ध्यान रखा जाएगा। उन्होंने कहा कि एक प्राचीन व ऐतिहासिक शहर होने की वजह से यहां पर्यटन का काफी स्कोप है। उन्होंने कहा कि भारत-पाक के बंटवारे से पहले यहां से पाकिस्तान को सीधी ट्रेन जाया करती थी और ट्रेड के मामले में फिरोजपुर सबसे अग्रणी जिला हुआ करता था। विधायक ने बताया कि फिरोजपुर शहर एक ऐतिहासिक शहर है, जिसे सदियों पहले फिरोजशाह तुगलक ने बसाया था। यह चारों तरफ से बाउंड्री वॉल से घिरा हुआ था, जिसमें अलग-अलग जगह पर दस दरवाजे बनवाए गए थे। इनका दरवाजों (गेटों) को अलग-अलग नाम दिए गए थे, दिल्ली गेट, मोरी गेट, बगदादी गेट, जीरा गेट, मक्खू गेट, बांसावाला गेट, अमृतसरी गेट, कसूरी गेट, मुलतानी गेट और मैगजीन गेट। इनमें से पांच गेटों का कायाकल्प किया जाएगा। विधायक पिंकी के इस प्रयास की शहर के कई समाजसेवी संगठनों ने प्रशंसा की है। समाज सेवी पीडी शर्मा, अशोक गुप्ता, तिलक राज, डॉ. एचएस भल्ला ने कहा कि इससे पहले फिरोजपुर के इन प्राचीन गेटों और धरोहरों को संभालने के इतने बड़े स्तर पर कोई प्रयास नहीं हुआ। इन गेटों के कायाकल्प से शहर की पुरानी शान दोबारा लौट आएगी और लोगों के लिए यह एक दर्शनीय नजारा होगा।

फिरोजपुर का मुल्तानी गेट जिसका किया जाना है कायाकल्प।

X
Firozpur News - 5 heritage gates of ferozepur will be rejuvenated with 50 lakhs

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना