पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Malot News Drug Smuggler Accused Family And Friends Firing On Villagers One Injured

नशा तस्कर आरोपी ने परिवार व दोस्तों संग मिल ग्रामीणों पर की फायरिंग, एक घायल

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
बुधवार की शाम शामखेड़ा गांव में नशा तस्कर ने साथियों अाैर परिवार वालाें के साथ मिलकर ग्रामीणाें पर फायरिंग की जिसमें एक व्यक्ति घायल हो गया। ग्रामीणों का कहना है कि आरोपी को शक है उसकी सूचना पुलिस को दे रहे हैं। घायल को सिविल अस्पताल दाखिल करवाया गया। अस्पताल में दाखिल घायल अमर सिंह पुत्र करतार सिंह बताया कि उपमंडल के शामखेड़ा गांव में उस समय दहशत का माहौल बन गया, जब सतपाल सिंह सत्ती ने अपने भाई केवल सिंह, पिता अजीत सिंह पुत्र मंशा सिंह, सोनी व किक्कर सिंह को साथ लेकर गांव के तीन से चार घरों में हमलाकर दिया व गोलियां चलानी शुरू कर दी, जिससे गांव में दहशत का माहौल बन गया। जब वह गोली चला रहा था तो लाेग इधर-उधर भाग रहे थे उसमें एक गोली उसको लगी जबकि बाकी जाली में दरवाजे में लगी। अमर सिंह ने बताया कि रंजिश की वजह यह है कि सतपाल सत्ती नशों के मामले में पुलिस के पास भगोड़ा है उसे संदेह है कि हम उसके खिलाफ मुखबीरी करते हैं।

सरपंच के घर को भी बनाया निशाना

वह सबसे पहले सरपंच प्रीतम सिंह के घर को निशाना बनाया और गोलियां चलाई, परंतु उनके पारिवारिक मेंबरों ने भागकर जान बचाई। इसके बाद वह अमर सिंह पुत्र करतार सिंह के घर गए, वहां गोलियां चलाई। इसमें अमर सिंह टांग में गोली लगी। इसके बाद यह सभी गुरूसर के रास्ते पर टिब्बों पर फूम्मन सिंह पुत्र करतार सिंह की दुकान पर गए व उसकी दुकान पर गोलियां चलाई, परंतु उन्होंने भागकर जान बचाई। पुलिस का कहना है कि इस घटना में गांव में दहशत पैदा हो गई व एसपी इकबाल सिंह, एसएचओ दरबार सिंह, एसएचओ मलकीत सिंह सहित पुलिस मौके पर पहुंचे।

ग्रामीणों पर पुलिस की मुखबीरी करने का करता था शक

गांव के सरपंच प्रीतम सिंह से बात की गई तो उन्होंने बताया कि सतपाल सिंह ने उनके घर पर भी फायरिंग की। वह गांव के सरपंच हैं उनका अक्सर पुलिस व प्रशासिनक अधिकारियों के पास आना जाना लगा रहता है, परंतु उसे यह संदेह है कि वह उसकी जानकारी पुलिस को देता है। इसी रंजिश के चलते उसने आज फायरिंग की है।

सुबह 12 बजे की घटना, गोली की आवाज सुन भागे ग्रामीण

अंग्रेज सिंह बोले....घर के दरवाजे पर कार सवार आए और लोगों को जान से मार देने की बात कहते हुए फायरिंग शुरू कर दी

पुलिस को दिए बयानों में अंग्रेज सिंह उर्फ बूटा वासी शामखेड़ा ने बताया कि सुबह करीब पौने 12 बजे एक कार हमारे घर के दरवाजे के आगे आकर रुकी जिसमें से सतपाल सिंह उर्फ सत्ती व कई लोग उतरे व इतने में दो महिलाएं भी वहां आ गई। यह सब हमारे घर में दाखिल हुए व कहने लगे कि इन्हें जान से मार दो। फिर इन्होंने मेरे पिता अमर सिंह पर हमला कर दिया व मेरे पिता की ओर फायर भी किए। जिससे वह घायल हो गए। शोर होने पर मेरी प|ी कमरे की और दौड़ गई व उसने दरवाजा बंद कर लिया तो इन्होंने उस ओर भी फायर किए व मैं जब भागकर सीढ़ियों से छत पर चढ़ा तो सतपाल सिंह ने मेरे पर भी फायर किए परंतु मैंने अपना बचाव कर लिया। इस वारदात के कुछ समय पहले हमारे गांव में फायर होने की आवाज सुनाई दी थी। जिस बारे में पता चला कि इन सभी ने प्रीतम सिंह सरपंच के घर में घुसकर उसके बेटे रविन्द्रपाल सिंह पर भी जान से मारने की नीयत से हमला किया था लेकिन उसने घर से भागकर जान बचाई थी। रंजिश यह है कि उक्त आरोपी नशा बेचने का धंधा करते हैं व इनके खिलाफ इस संबंधी मुकदमे भी दर्ज हैं व यह हमारे पर शक करते हैं कि हम इनके नशे बेचने संबंधी सूचना पुलिस को देते हैं।

आरोपियों में दो महिलाएं भी शामिल

सतपाल पर पहले भी हैं आठ मामले दर्ज

आरोपी सतपाल सिंह पर थाना सिटी मलोट में 4 एनडीपीएस एक्ट, 3 लडाई झगडे के एक चोरी का और एक आज हुई फायरिंग का मामला भी पुलिस ने दर्ज कर लिया है।

फायरिंग करने के आरोप में मामला दर्ज

एसएचओ दरबार सिंह ने बताया कि पुलिस ने इस मामले में सत्ती, उसके पिता अजीत सिंह, भाई केवल सिंह, साथी किक्कर सिंह व सोनी के बिना उन्हें शह देने के लिए मां सुखविंदर कौर, भाभी रानी व बहन बलजीत कौर मानी सहित 8 व्यक्तियों के खिलाफ धारा 307, 452, 323, 148, 120 बी व 25/27/54/59 के तहत मामला दर्ज कर दिया है।

गांवों में युवाओं से सप्लाई करवाता है नशा

गांव वासियों ने बताया कि उक्त आरोपी ने कुछ नौजवानों को बाइक दिए हुए है, जोकि गांव व शहर के विभिन्न हिस्सों में नशा सप्लाई करके नौजवानों को नशे में लगा रहे हैं। उन्होंने कहा कि उक्त लोग अपने फायदे के लिए नौजवानों को चिट्टा सप्लाई करते हैं। गांव में सरेआम नशा बिकता है।

इधर...प्रशासन की सकारात्मक पहल

नशा छोड़ने वाले युवाओं को दी जाएगी स्किल डेवलपमेंट ट्रेनिंग

सभी जिलों में बनाए जाएंगें सेंटर, जल्द शुरू होंगे बैच

कपिल सेठी| फिरोजपुर

नशे की दलदल में फंस अपनी जिंदगी बर्बाद कर रहे नौजवानों को इससे बाहर निकालने के लिए जहां प्रदेश सरकार की ओर से कई प्रकार के प्रयास किए जा रहे हैं इसके साथ ही अब उन्हें स्किल डिवलपमेंट ट्रेनिंग देकर रोजगार के काबिल बनाने का अभियान शुरू किया गया है। इसके तहत प्रदेश भर में नशामुक्ति केंद्रों व ओट सेंटरों के नजदीक ट्रेनिंग सेंटर खोले जाएंगे जिनमें उम्मीदवारों की संख्या के अनुसार बैच बनाकर उन्हें विभिन्न ट्रेड की ट्रेनिंग दी जाएगी। ट्रेनिंग पूरी करने के बाद उम्मीदवार अपना खुद का राेजगार शुरू कर सकेंगें।

स्किल डिवलपमेंट मिशन की ओर से चलाए जा रहे अभियान के तहत नशामुक्ति केंद्रों व ओट सेंटराें में रोजाना नशा छोड़ने की दवा लेने आने वालाें की प्रतिदिन काउंसलिंग की जाएगी। काउंसलिंग के बाद उक्त व्यक्ति की जिस भी ट्रेड में रूचि होगी उसे उस ट्रेड के बैच की निशुल्क ट्रेनिंग दी जाएगी। प्रदेश सरकार की ओर से इस मुहिम के तहत सभी जिलों के सिविल सर्जन व संबंधित अधिकारियों को पत्र भेजकर नशामुक्ति केंद्रों व ओट सेंटरों में इलाज करवा रहे मरीजों की सूचि तैयार कर डायरेक्टर सेहत व परिवार भलाई विभाग को भेजने के निर्देश दिए गए हैं। वहीं इसके अलावा जिला स्तर पर भी स्किल डिवलपमेंट मिशन से जुड़े कर्मी सेंटराें में पहुंचकर काउंसलिंग प्रक्रिया शुरू कर चुके हैं व सूची तैयार की जा रही है। प्रदेश में सबसे पहले फिरोजपुर में उक्त अभियान की शुरूआत कर दी गई है। देश के पिछड़े 115 जिलों की सूची में शुमार फिरोजपुर में इसकी शुरूआत होना बॉर्डर एरिया के लोगों के लिए बहुत ही कारगर साबित होगा। इसके तहत शहर में बीडीओ कार्यालय के समक्ष स्किल सेंटर तैयार किया जा रहा है जोकि जल्द ही तैयार हो जाएगा जिसके बाद यहां एक दिन में प्रति 30 उम्मीदवार के हिसाब से प्रतिदिन 3 स्किल ट्रेनिंग बैच चलाए जाएंगें। पंजाब स्किल डिवलपमेंट मिशन की ओर से उक्त प्रोजेक्ट को फिरोजपुर में लार्ड गणेशा इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एंड टेक्नाेलाॅजी की टीम संचालित करेगी। वहीं ट्रेनिंग प्रक्रिया की पूरी मॉनिटरिंग स्किल डिवलपमेंट मिशन के अधिकारी करेंगें। मिशन मैनेजर सरबजीत सिंह की ओर से काउंसलिंग प्रक्रिया शुरू कर उम्मीदवारों की रजिस्ट्रेशन की शुरूआत कर दी गई है।

ओट सेंटरों में काउंसलिंग शुरू

सिविल अस्पताल स्थित ओट सेंटर में काउंसलिंग करते जिला मिशन मैनेजर सरबजीत सिंह।

इन ट्रेडों की होगी ट्रेनिंग

मिशन की ओर से शुरू किए जा रहे स्किल ट्रेनिंग सेंटरों में उम्मीदवारों को प्लंबर, होम एप्लाइस, एलईडी रिपेयर, कंप्यूटर अापरेटर, कस्टमर केयर एक्जीक्यूटिव, कंप्यूटर सॉफ्टवेयर एंड हार्डवेयर की ट्रेनिंग दी जाएगी। इसके अलावा बेसिक कंप्यूटर व स्पीकिंग इंग्लिश का कोर्स भी निशुल्क करवाया जाएगा।

काउंसलिंग प्रक्रिया शुरू

एडीसी डिवलपमेंट रविंद्र पाल सिंह संधु ने कहा कि प्रदेश सरकार की ओर से शुरू किए गए इस अभियान के तहत फिरोजपुर में स्किल डिवलपमेंट सेंटर की जल्द शुरूआत की जा रही है। इसके लिए काउंसलिंग प्रक्रिया शुरू कर पंजीकरण किया जा रहा है। नशे की दलदल में धंसे युवा इस अभियान के साथ जुड़कर न केवल स्किल्ड होेंगें बल्कि नशे की बीमारी से अपना पीछा छुड़ा रोजगार चलाने के काबिल बनेंगें।

खबरें और भी हैं...