--Advertisement--

फोर्स की मौजूदगी में कच्चरभन के युवक का अंतिम संस्कार

भास्कर संवाददाता | फिरोजपुर/ जीरा मृतक युवक की बहन को 15 दिनों के भीतर पुलिस में नौकरी देने के एलान के बाद गांव...

Dainik Bhaskar

May 03, 2018, 02:20 AM IST
फोर्स की मौजूदगी में कच्चरभन के युवक का अंतिम संस्कार
भास्कर संवाददाता | फिरोजपुर/ जीरा

मृतक युवक की बहन को 15 दिनों के भीतर पुलिस में नौकरी देने के एलान के बाद गांव कच्चरभन के जितेंद्र के शव का पोस्टमार्टम के बाद अंतिम संस्कार कर दिया गया।

जितेंद्र सिंह को श्रद्धांजलि भेंट करते सतनाम सिंह पन्नू, बलदेव सिंह जीरा ,दिलबाग सिंह जीरा, जगरूप सिंह महीआं वाला इत्यादि ने कहा कि हजारों किसान मजदूरों की एकता के आगे आईजी गुरविंदर सिंह ढिल्लो की अध्यक्षता में पुलिस तथा सिविल प्रशासन ने मांगे मानते हुए ऐलान किया कि युवक की बहन को 15 दिनों के भीतर पुलिस में नौकरी दी जाएगी। युवक जितेंद्र सिंह को आत्महत्या के लिए मजबूर करने वालों को नामजद कर लिया गया है। इसके अलावा एडीसी की ओर से मजिस्ट्रेट जांच की जाएगी। किसानों के धरने पर जिन नेताओं या पुलिस अधिकारियों ने हमला किया, उनकी इंक्वायरी की जाएगी, किसानों के हुए नुकसान की भरपाई की जाएगी वहीं जख्मी हुए किसानों को 50000 मुआवजा दिया जाएगा। प्रशासन को चेतावनी देते हुए किसानों ने कहा की समझौते में देर की गई तो किसान जत्थेबंदियां बड़े स्तर पर संघर्ष करेंगी। किसी अप्रिय घटना से निपटने के लिए गांव कच्चरभन से जीरा अस्पताल तक भारी पुलिस फोर्स तैनात की गई थी। जीरा अस्पताल छावनी में तब्दील हो गया था। पोस्टमार्टम के बाद किसान नेता नारे लगाते हुए शव को संस्कार के लिए ले गए। इस मौके पर अवतार सिंह फेरोके, सुखविंदर सिंह सभरा, सुखदेव सिंह मंड, साहब सिंह दीनेके, भाग सिंह मरखाई, अंग्रेज सिंह बूटे वाला, बलराज सिंह फेरोके, सुलविंदर जानिया, जगराज सिंह, लाडी जीरा इत्यादि किसान नेता उपस्थित थे।

यह था मामला

गांव कच्चरभन में जितेंद्र सिंह नामक 25 साल के युवक ने फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली थी। परिजनों ने आरोप लगाया था कि सत्तादल के कुछ लोगों ने राजनैतिक दबाव के कारण उसकी जमीन अपने नाम करवा ली थी, जिससे परेशान होकर युवक ने आत्महत्या कर ली। गुस्साए गांव वासियों व किसान यूनियन के सदस्यों ने थाना सदर जीरा के सामने धरना लगा कर इंसाफ की मांग की। सोमवार को कुछ शरारती तत्वों ने शांतिपूवर्क धरना दे रहे लोगों पर पत्थरबाजी शुरू कर दी थी, जिसके कारण पीड़ित परिवार युवक लाश अपने घर पर ले गए थे। दबाव के बाद इस संबंध में थाना सदर पुलिस ने युवक को आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में पांच लोगों पर मामला दर्ज किया था।

गांव कच्चरभन में किसी अप्रिय घटना से निपटने के लिए पुलिस बल को किया तैनात।

X
फोर्स की मौजूदगी में कच्चरभन के युवक का अंतिम संस्कार
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..