--Advertisement--

दुष्कर्मियों को सजा होने तक संघर्ष रहेगा जारी : पीएसयू

पंजाब स्टूडेंट्स यूनियन की ओर से जम्मू कश्मीर में आसिफा 8 वर्षीय बच्ची से किए दुष्कर्म के बाद उसकी हत्या करने व...

Dainik Bhaskar

Apr 17, 2018, 03:20 AM IST
दुष्कर्मियों को सजा होने तक संघर्ष रहेगा जारी : पीएसयू
पंजाब स्टूडेंट्स यूनियन की ओर से जम्मू कश्मीर में आसिफा 8 वर्षीय बच्ची से किए दुष्कर्म के बाद उसकी हत्या करने व उन्नाव दुष्कर्म वाले आरोपियों के खिलाफ रोष रैली निकाली गई। संबोधित करते नेता धीरज कुमार व सुखमंदर कौर ने कहा कि आज देश में महिला वर्ग की हालत बेहद दयनीय हो गई है। महिलाओं के साथ छेड़छाड़ व दुष्कर्म की घटनाएं बढ़ रही हैं। उन्होंने कहा कि आज 8 माह की बच्ची से लेकर 80 वर्ष की की महिलाओं के साथ दुष्कर्म हो रहे हैं और सरकार आरोपियों पर कोई सख्त कार्रवाई नहीं कर रही है। उन्होंने कहा कि सरकार गउओं की सुरक्षा के लिए आए दिन लोगों में अशांति पैदा करके आपस में लड़ा रही है, परंतु लड़कियों की सुरक्षा की ओर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा। उन्होंने कहा वर्ष 2015 में दुष्कर्म की संख्या 34000 थी और 2016 में यह संख्या 34600 से भी अधिक हो गई। उन्होंने चेतावनी देते कहा कि जब तक आरोपियों को सजा नहीं दी जाएगी, तब तक पीएसयू द्वारा तीखा संघर्ष किया जाएगा। इस अवसर पर हन्नी महाबद्धर, सतवीर कौर, मनदीप सिंह, कर्मजीत कौर, पूर्वनीत सिंह, जगदीप काऊनी, कर्मजीत भागसर, गुरबीर सिंह, अशतीश सिंह, कुलविंदर सिंह भागसर आदि उपस्थित थे। (अमित अरोड़ा)

रोष मार्च करते हुए पीएसयू के सदस्य।

शहरवासियों ने निकाला कैंडल मार्च

मुक्तसर|जम्मू के कठुआ क्षेत्र में 8 साल की बच्ची के साथ हुए गैंगरेप के बाद उसकी हत्या किए जाने के रोष में आज मुक्तसर कांग्रेस पार्टी के महासचिव जगजीत सिंह हन्नी फत्तनवाला व आम आदमी पार्टी के सदस्यों व शहर वासियों ने आसिफा को इंसाफ दिलाने के लिए कैंडल मार्च निकाला गया। इस कैंडल मार्च दौरान शामिल लोगों ने उक्त बच्ची के दोषियों को सख्त सजा देने की मांग की। लोगों ने केहा कि सरकार को बलात्कार के मामले में ऐसा सख्त कानून लाना चाहिए जोकि दूसरों के लिए भी मिसाल बन सके ताकि कोई ऐसी घिनौनी हरकत न कर सके।

आसिफा की आत्मिक शांति के लिए निकाला कैंडल मार्च

फिरोजपुर|आसिफा की आत्मिक शांति के लिए और कातिलों को जल्द पकड़ने को लेकर विभिन्न संगठनों ने कैंडल मार्च निकाला। जिसके चलते कांग्रेस की जिला टीम और कुम्हार मंडी की युवा सोसायटी के सदस्यों ने बताया कि कैंडल मार्च छावनी के राकेश पायलट चौक से शुरु कर नीमवाला चौक, मेन बाजार, कबाड़ी बाजार, लालकुर्ती अड्डा, शनि मंदिर चौक से होते हुए वापस राकेश पायलट चौक पर आकर समाप्त हुआ। उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार ने लड़कियों की सुरक्षा के लिए कई प्रबंध किए गए हैं, लेकिन कठुआ के एक मंदिर के पुजारी और कुछ अन्य लोगों ने अशिफा के साथ दुष्कर्म कर उसे मौत के घाट उतार दिया। सभी युवा सदस्यों ने कड़े शब्दों में सरकार की निंदा की और मांग की कि आरोपियों को सख्त सजा दी जाए। (रवि कुमार)

कठुआ में हुए दुष्कर्म के रोष में निकाला कैंडल मार्च

फिरोजपुर|रविवार देर सायं फिरोजपुर शहर व छावनी के लोगों द्वारा उत्तर प्रदेश के उन्नाव और जम्मू-कश्मीर के कठुआ में देश की बेटियों के साथ हुए दुष्कर्म पर रोष जताते हुए कैंडल मार्च किया। यह कैंडल मार्च फिरोजपुर शहर के गोबिंद नगरी से शुरु होकर बाबा नाम देव चौक तक निकाला गया। लोगों ने अपराधियों को कड़ी से कड़ी सजा देने और निष्पक्ष न्याय की मांग की। उन्होंने कहा कि ऐसे जानवरों को फांसी की सजा होनी चाहिए। इस कैंडल मार्च में कमलजीत शर्मा, सुखदेव अबरोल, विक्रम सिंह, अमन,दीपक शर्मा, मन्नू आदि लोग मौजूद थे। (नरेश कुमार)

X
दुष्कर्मियों को सजा होने तक संघर्ष रहेगा जारी : पीएसयू
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..