रेहड़ी चालक पर 6 लाेगाें ने तेजधार हथियार से किया हमला, घायल, अस्पताल में माैत

Ferozepur News - जीरा में डीएसपी कार्यालय व थाना सदर जीरा के पास बुधवार काे कुछ युवकों ने रेहड़ी चालक पर तेजधार हथियाराें से हमला कर...

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 07:50 AM IST
Firozpur News - rehadi driver on 6 lanes made sharp weapons with assault injuries hospital death
जीरा में डीएसपी कार्यालय व थाना सदर जीरा के पास बुधवार काे कुछ युवकों ने रेहड़ी चालक पर तेजधार हथियाराें से हमला कर उसे घायल कर दिया। इस घटना से क्षेत्र में अफरातफरी मच गई। हमलावर वारदात को अंजाम देने के बाद हथियारों को लहराते हुए मौके से फरार हो गए। घटना के बाद आई पुलिस ने मामले में कार्रवाई की खानापूर्ति करने में जुट गई। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि जिस समय हमलावर रेहड़ी चालक काे पीट रहे थे उस समय वहां कुछ पुलिस कर्मचारी भी माैजूद थे लेकिन उन्हाेंने काेई कार्रवाई नहीं की बल्कि अन्य लाेगाें की तरह वह भी तमाशा देख रहे थे। अासपास के लाेगाें ने घायल रेहड़ी चालक सुनील कुमार उर्फ साेनू काे इलाज के लिए जीरा सिविल अस्पताल में भर्ती कराया जहां उसकी हालत काे गंभीर देखते हुए डाॅक्टराें ने प्राथमिक उपचार के बाद फरीदकाेट मेडिकल काॅलेज के लिए रेफर कर दिया जहां देर रात उसकी माैत हाे गयी।

पिता ने बताया कि उक्त हमलावर उसके बेटे सुनील पर इल्जाम लगाते थे कि वह शहर में उनकी बदनामी करता है इसी रंजिश के चलते आरोपियों ने हमलाकर उसे मार डाला। केस की जांच कर रही थाना सिटी प्रभारी शिमला रानी ने बताया उन्होंने शिकायत के आधार पर गांव बंब बंडाला नो के रहने वाले जसपाल सिंह, गुरप्रीत सिंह, जीरा के रहने वाले कर्ण कुमार, गोरा, रणजीत सिंह, गांव सनेर के रहने वाले सुखचैन सिंह, गांव नूरपुर के रहने वाले केसर व उनके चार अज्ञात साथियों के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है। उन्होंने मृतक को पोस्टमार्टम करवाकर शव को वारिसों के हवाले कर दिया है। आरोपियों की खोज की जा रही है जिन्हें जल्द ही गिरफ्तार करके सलाखों के पीछे भेज दिया जाएगा।


प्रत्यक्षदर्शी बाेले..जिस समय हमलावर सुनील काे पीट रहे थे उस समय पुलिस वहां माैजूद थी लेकिन काेई हस्तक्षेप नहीं किया

हमले के बाद जीरा के सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया सुनील।


मृतक के पिता जीरा के रहने वाले सतपाल मोगा ने बताया कि उसका बेटा सुनील, उसकी प|ी ममता व वह खुद पुरानी तहसील के पास रेहड़ी लगाते हंैं। वह सब्जी लेने के लिए रेहड़ी पर गया तभी कुछ लोगों ने सुनील पर बैसबाल से हमला कर दिया जिसके कारण उसका बेटा गंभीर तौर पर घायल हो गया हमलावरों ने उसके बेटे को बचाने आए इंद्रजीत पर भी हमलाकर उसे घायल कर दिया जिसका इलाज जीरा के सिविल अस्पताल में चल रहा है।

परिजन बोले...आरोपियों को जल्द गिरफ्तार नहीं किया तो देंगे धरना

सुनील के रिश्तेदारों ने बताया कि हत्याराें को जल्द से जल्द गिरफ्तार करके उन्हें सलाखों के पीछे नहीं भेजा गया तो वह पुलिस प्रशासन के विरुद्ध धरना देने के लिए मजबूर होंगे जिसका जिम्मेदार प्रशासन खुद होगा। रिश्तेदार ने बताया कि मृतक के भाई को दो माह पहले बिमारी के कारण मौत हो गई थी उसे मामूली प्राब्लम हुई थी जिसके कारण उसकी मौत हो गई । परिवार को अभी उसका दुख नहीं भुला पाया था कि हत्यारों ने उसे भी मार दिया।

X
Firozpur News - rehadi driver on 6 lanes made sharp weapons with assault injuries hospital death
COMMENT