गैंगस्टर मनप्रीत सिंह मन्ना मर्डर की जांच के लिए विशेष जांच टीम गठित

Ferozepur News - जसकरन/हरदीप सिंह खालसा | मलोट सोमवार की शाम को मलोट के एक मॉल के बाहर अंधाधुंध फायरिंग में कत्ल किए गए गैंगस्टर...

Dec 04, 2019, 08:35 AM IST
Malot News - special investigation team set up to investigate gangster manpreet singh manna murder
जसकरन/हरदीप सिंह खालसा | मलोट

सोमवार की शाम को मलोट के एक मॉल के बाहर अंधाधुंध फायरिंग में कत्ल किए गए गैंगस्टर मनप्रीत सिंह मन्ना के मामले में थाना सिटी मलोट पुलिस ने अज्ञात हमलावरों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरु कर दी है। उधर मृतक मनप्रीत सिंह मन्ना के शव के पोस्टमार्टम के बाद उसका अंतिम संस्कार उसके पैतृक गांव भूंदड़ में कर दिया गया। इस कत्ल की जिम्मेदारी लॉरेंस ग्रुप ने अपने फेसबुक अकाउंट पर पोस्ट डाल ली थी। थाना सिटी पुलिस ने इस हमले में घायल हुए मन्ना के साथी जैकी कुमार के बयानों पर अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है। मनप्रीत सिंह मन्ना के परिवार में माता-पिता के अलावा प|ी व एक सात साल की बेटी रह गए। मन्ना की चिता को पिता कुलदीप सिंह, चाचा रजिंदर सिंह, ममेरे भाई शुभदीप सिंह बिट्टू, धन्नजीत ने चिता को अग्नि दी। मंगलवार सुबह मन्ना का पोस्टमार्टम करने के लिए तीन डॉक्टरों का पैनल बनाया, जिसमें सर्जन डॉ. विकास बांसल, डॉ. गुरलभ जोड़ा व डॉ. गुरपाश शामिल थे।

सर्जन डॉ. विकास बांसल ने बताया कि उसकी छाती, सिर सहित मल्टीपल इंजीरीज थे व अंधाधुंध फायरिंग कारण गिनती असंभव है। इसके अतिरिक्त पूरे शरीर का एक्सरे करने के बाद रिपोर्ट फारेंसिक लैब को भेजें जा रहे हैं।

मन्ना (मृत)

एक एसपी और 2 डीएसपी करेंगे जांच

एसएसपी राज बचन सिंह संधू ने बताया कि उक्त कत्ल के मामले में जांच के लिए उन्होंने पांच मेंबरी एसआईटी बनाई है। जिसमें एसपी इन्वेस्टिगेशन गुरमेल सिंह के अलावा डीएसपी इन्वेस्टिगेशन जसमीत सिंह, डीएसपी मलोट मनमोहन सिंह औलख, सीआईए इंचार्ज इंस्पेक्टर प्रताप सिंह व थाना सिटी मलोट के एसएचओ अमनदीप सिंह शामिल हैं। उन्होंने कहा कि यह एसआईटी पूरे मामले की जांच कर जल्द ही कातिलों को गिरफ्तार करेगी। उधर घटना स्थल पर पहुंचे एसपी इन्वेस्टिगेशन गुरमेल सिंह ने बताया कि आज पुलिस ने घटना स्थल पर उक्त हुई घटना के बारे में पूरी छानबीन की है।

मनप्रीत सिंह मन्ना के खिलाफ दर्ज थे 14 आपराधिक मामले

मन्ना के खिलाफ पहला आपराधिक मामला 19 मई 2002 को दर्ज किया गया था। मन्ना के खिलाफ कुल 14 आपराधिक मामले दर्ज थे जिनमें से अधिकतर थाना सिटी मलोट में दर्ज हैं। हांलाकि तीन मामलों में तीन आपराधिक पर्चों को जांच के बाद रद कर दिया गया।

X
Malot News - special investigation team set up to investigate gangster manpreet singh manna murder
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना