• Hindi News
  • Punjab
  • Ferozepur
  • Firozpur News the accused are wanted in the murder case the relation of the arrested assailant is also related to the same case being questioned on two days remand

इरादा कत्ल मामले में वांछित हैं आरोपी, पकड़े गए हमलावर का संबंध भी इसी केस से, दो दिन के रिमांड पर लेकर हो रही पूछताछ

Ferozepur News - वर्ष 2017 में थाना लक्खो के बहराम में दर्ज हुए एक मामले में भगाेड़ा हुए आरोपियों में से दो व्यक्तियों को शुक्रवार को...

Feb 16, 2020, 07:40 AM IST
Firozpur News - the accused are wanted in the murder case the relation of the arrested assailant is also related to the same case being questioned on two days remand

वर्ष 2017 में थाना लक्खो के बहराम में दर्ज हुए एक मामले में भगाेड़ा हुए आरोपियों में से दो व्यक्तियों को शुक्रवार को थाना लक्खो के बहराम पुलिस ने दो वर्ष बाद काबू किया। दोनों आरोपियों को पूछताछ के लिए सीआईए फिरोजपुर ले जाया गया जहां से देर शाम वापस थाना लक्खो के बहराम लेकर जाते समय आरोपियों के आधा दर्जन के करीब साथियों ने पुलिस की गाड़ी को रास्ते में घेरकर उक्त दोनों आरोपियों को पुलिस के कब्जे से छुड़वा लिया व गाड़ी की तोड़-फोड़ करने के बाद मौके से फरार हो गए। घटना के बाद थाना लक्खो के बहराम पुलिस ने पूरी जानकारी उच्चाधिकारियों को दी व थाना ममदोट में 10 व्यक्तियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 341/353/186/225/427/148/149 के तहत मामला दर्ज किया गया है। पुलिस पार्टी से आरोपियों को छुड़वाने आए उनके एक साथी को मौके से काबू किया जोकि खुद उसी केस में वांछित है।

थाना ममदोट में दी गई शिकायत में एएसआई सुखदेव राज ने बताया कि शुक्रवार को पुलिस पार्टी की अाेर से उक्त दर्ज मामले में अदालत की अाेर से 13 व्यक्तियों को भगाेड़ा करार दिया गया है जिसमें से 2 युवक जरमन सिंह व हरमीत सिंह को गुप्त सूचना के आधार पर काबू किया गया था। उनके साथियों के बारे में पूछताछ के लिए दोनों आरोपियों को सीआईए फिरोजपुर ले जाया गया था। पूछताछ के बाद जब दोनों युवकों को पुलिस थाना लक्खो के बहराम वापस लेकर जा रही थी तो फिरोजपुर-फाजिल्का मार्ग पर स्थित खाई महल सिंह वाला में स्थित बीएसएफ की 136 बटालियन के मुख्य गेट के पास एक गाड़ी में सवार होकर आए आधा दर्जन युवकों ने पुलिस की गाड़ी के आगे अपनी गाड़ी लगाकर उनकी गाड़ी को रुकवा दिया। पुलिस की गाड़ी के रुकते ही दूसरी गाड़ी में सवार होकर आए युवकों ने उनकी गाड़ी पर हमलाकर दिया व तोड़फोड़ करनी शुरू कर दी। पुलिस कर्मियों ने जब रोकने की कोशिश की तो हमलावराें ने उनके साथ भी मारपीट की व उनके कब्जे से दोनो आरोपियों को छुड़वाकर भागने में कामयाब हो गए। लेकिन पुलिस ने एक हमलावर काे काबू कर लिया जिसकी पहचान अंग्रेज सिंह के रूप में हुई है। उन्होंने बताया कि पुलिस की ओर से मौके पर पकड़ा गया व्यक्ति भी उक्त केस में पीओ था।

पुलिस बोली }

घटनाक्रम के दौरान पुलिस की ओर से कंट्रोल रूम में वायरलेस पर नाकाबंदी कर हमलावरों को पकड़ने के लिए सूचना दी गई। वायरलेस सूचना में साफ तौर पर खेलमंत्री के पीए का नाम लिखा गया है कि उसके साथ 6-7 अन्य लोगों ने पुलिस टीम पर फायर कर आरोपियोंं को पुलिस से छुड़वाया है। मगर वायरलेस मैसेज को इग्नोर कर पुलिस अधिकारियों की ओर से इस मामले में पकड़े गए आरोपी व भागे दो आरोपियों को नामजद करते हुए 6-7 अज्ञात हमलावरों पर मामला दर्ज किया गया है।

इस मामले की जांच कर रहे ममदोट थाना प्रभारी इंस्पेक्टर वजीर चंद से बात की गई तो उन्होंने कहा कि उन्हें इस बारे में जानकारी नहीं है कि मौके से वायलेस सूचना किसकी ओर से दी गई। अभी जांच कर रहे हैं। मौके से जिस आरोपी अंग्रेज सिंह पुत्र बलकार सिंह को काबू किया गया था उसे अदालत में पेशकर कर 2 दिन का रिमांड हासिल किया गया है। अाराेपी से पूछताछ की जाएगी।

पुलिस से हाथापाई कर इनोवा गाड़ी भी तोड़ी

वर्ष 2017 में दर्ज हुए 307 के मामले में वांछित 13 आरोपियों में से मान सिंह जिस पर बीती 9 फरवरी को थाना ममदोट में एक और मामला दर्ज किया गया है। इस मामले के तार प्रदेश के गैंगस्टरों को अवैध हथियार सप्लाई करने के आरोप में धोखाधड़ी व आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है। इस मामले में अभी तक मान सिंह पुलिस की गिरफ्त से बाहर है जिसकी पुलिस तालाश कर रही है। इस मामले के बारे में जब एसएसपी भूपिंद्र सिंह से बात की गई तो उन्होंने कहा कि पुलिस की ओर से घटनाक्रम के दौरान मौके से एक आरोपी को काबू किया गया है जिससे पूछताछ की जा रही है। सीसीटीवी फुटेज या वीडियो की भी तलाश की जा रही है अगर फुटेज या वीडियो में कोई आरोपी सामने आता है तो उस पर कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।


कंट्रोल रूम में दी गई सूचना के अनुसार हमलावरों में खेलमंत्री के करीबी होने की कही बात, पर एफआई में कहीं जिक्र नहीं

घटनाक्रम के बाद पुलिस कंट्रोल रूम में घटना की दी गई सूचना में हलका गुरु हरसहाय के विधायक व खेल मंत्री राणा गुरमीत सिंह सोढ़ी के एक बहुत करीबी का हाेना बताया गया था कि उक्त व्यक्ति अपने अन्य साथियों के साथ दोनों आरोपियों को पुलिस के कब्जे से छुड़वाकर ले गया है। मगर पुलिस की अाेर से दर्ज की गई एफआईआर में ऐसे किसी भी व्यक्ति का जिक्र नहीं किया गया।

मामले के 2 वर्ष बाद भी आरोपी नहीं हुए थे काबू

1 कनाल 12 मरले जमीन पर कब्जे का मामला

वायरलेस सूचना किसकी ओर से दी गई, इसकी जांच की जा रही है

चक्क हराज बैरका में पंचायती जमीन को लेकर हुए विवाद के मामले में भगोड़े थे आरोपी

वर्ष 2012 में गांव चक्क हराज बैरका में पंचायत की 1 कनाल 12 मरले जमीन के कब्जे को लेकर अकाली दल व कांग्रेस पक्ष के लोगों में विवाद चल रहा था। उक्त जमीन पिछले लंबे समय से गांव के कांग्रेस पक्ष के लोगों के पास थी। वर्ष 2012 में अकाली सरपंच प्रीतम सिंह बाठ ने उक्त जमीन का एक हिस्सा कब्जे से छुड़वाकर गांव के विरसा सिंह नामक व्यक्ति को खेती के लिए दे दिया था। वह जमीन प्रीतम सिंह की जमीन के साथ लगती थी। 2017 में सत्ता बदलते ही कांग्रेस पक्ष लोगों ने जमीन पर खेती कर रहे प्रीतम सिंह व उसके बेटे के ऊपर जानलेवा हमलाकर दिया। इस हमले में प्रीतम सिंह, उसका बेटा व एक अन्य व्यक्ति घायल हो गए। थाना लक्खो के बहराम में पुलिस ने इस घटना को अंजाम देने वाले 13 व्यक्तियों अंग्रेज सिंह, मान सिंह, हरमीत सिंह, दविंदर सिंह, हरजिंदर सिंह, जरमन सिंह, सुखबीर सिंह, बलवंत सिंह, राजविंदर सिंह, सुखजिंदर सिंह, बलकार सिंह, साहिब सिंह व कुलवंत सिंह वासी चक्क हराज बैरका के खिलाफ इरादा कत्ल व अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज किया था। केस दर्ज होने के 2 वर्ष बाद भी पुलिस आरोपियों को गिरफ्तार नहीं कर पाई थी। इसके बाद पीड़ित प्रीतम सिंह ने हाईकोर्ट में रिट दाखिल की थी। हाईकोर्ट की अाेर से पुलिस को 19 फरवरी तक आरोपियों को गिरफ्तार करने का समय दिया गया था।


घटना के बाद वायरलेस पर किया मैसेज**

Firozpur News - the accused are wanted in the murder case the relation of the arrested assailant is also related to the same case being questioned on two days remand
X
Firozpur News - the accused are wanted in the murder case the relation of the arrested assailant is also related to the same case being questioned on two days remand
Firozpur News - the accused are wanted in the murder case the relation of the arrested assailant is also related to the same case being questioned on two days remand

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना