पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हरप्रीत की निशानदेही पर हत्या में इस्तेमाल पिस्तौल बरामद

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

सिटी थाना पुलिस की ओर से मिली गुप्त सूचना के आधार पर कार्रवाई करते हुए नवंबर माह में खरड़ जिला मोहाली में फिरोजपुर के एक नौजवान युवक को 18 गोलियां मारकर मौत के घाट उतारने वाले गैंगस्टर को बीते बुधवार को काबू किया था। अब उक्त गैंगस्टर की निशानदेही पर सीआईए पुलिस ने मर्डर में इस्तेमाल की गई .32 बोर पिस्तौल व 5 जिंदा कारतूस बरामद किए हैं। आरोपी पर इससे पूर्व भी 2 मामले दर्ज हैं जिनमें वह लंबे समय से पुलिस की पकड़ से बाहर था। वहीं खरड़ में आरोपी ने जिस युवक की गोलियां मारकर हत्या की थी वह भी फिरोजपुर में दर्ज 302 के मामले में भगोड़ा था। पुलिस की ओर से आरोपी को पकड़ने के बाद उसे कोर्ट में पेशकर 2 दिन का रिमांड हासिल किया गया था जोकि पूरा होने के बाद अब उसे जेल में भेज दिया गया है।

सिटी थाना पुलिस को मर्डर, अवैध हथियार रखने व जानलेवा हमला करने के आरोपों में फरार चल रहे गैंस्टर हरप्रीत सिंह उर्फ हैप्पी निवासी इच्छेवाला की तलाश थी। थाना सिटी के प्रमुख जतिंदर सिंह ने बताया कि उन्हें गुप्त सूचना मिली थी कि उक्त आरोपी कुछ दिनों से शहर में घूम रहा है। इसी जानकारी के आधार पर कार्रवाई करते हुए एएसआई शर्मा सिंह व पुलिस पार्टी ने बुधवार को उसे काबू कर लिया। आरोपी को 21 मार्च 2019 को जब थाना शहर पुलिस की टीम मल्लवाल रोड पर गश्त पर थी तो आई-20 कार मे दो संदिग्ध कार सवारों को रुकने का इशारा किया था। इनमें आरोपी हरप्रीत उर्फ हैप्पी मौके से फरार हो गया था जबकि दूसरे आरोपी नितिन कुमार को पुलिस ने हिरासत में लेकर कार की तलाशी की तो उसमें से 12 बोर डबल बैरल बंदूक बरामद हुई थी। पुलिस ने दोनों आरोपियों के खिलाफ आर्म्ज एक्ट के तहत मामला दर्ज किया था व उसके बाद से पुलिस आरोपी हैप्पी की तालाश कर रही थी। पुलिस ने आरोपी को काबू कर जब पूछताछ की तो आरोपी ने खरड़ जिला मोहाली में इंद्रजीत सिंह उर्फ ढिड़ा के मर्डर की वारदात को भी कबूला। इसके बाद पुलिस की ओर से मिले दो दिन के रिमांड के दौरान आरोपी गैंस्टर हैप्पी की निशानदेही पर बॉर्डर रोड़ फिरोजपुर शहर से इंद्रजीत के मर्डर में इस्तेमाल की गई 32 बोर पिस्तौल व 5 जिंदा कारतूस बरामद किए हैं।

थाना सिटी में हरप्रीत पर हत्या के मामले में दो केस दर्ज, 21 मार्च से पुलिस को थी तलाश

गैंगस्टर हरप्रीत सिंह के खिलाफ पहला मामला 16 दिसंबर 2017 का है जोकि थाना सिटी में दर्ज किया गया था। इस मामले में हरप्रीत सिंह उर्फ हैप्पी ने अपने साथियों आशीष, मणि, अमरजीत सिंह व अन्य 10-12 अज्ञात व्यक्तियों के साथ खालसा कॉलोनी में स्थित घर में घुसकर मेजर सिंह पर जानलेवा हमला किया था। इस मामले में पुलिस ने आरोपी पर अाईपीसी धाराओं के तहत केस दर्ज किया था। दूसरा मामला 21 मार्च 2019 को 188 आईपीसी व आर्म्स एक्ट के तहत थाना सिटी फिरोजपुर में दर्ज किया था जिसमें शहर थाना पुलिस की ओर से उसकी तलाश की जा रही थी। इसके बाद हरप्रीत सिंह के खिलाफ तीसरा मामला 8 नवंबर 2019 को थाना सिटी खरड़ जिला मोहाली में 302, 120बी आईपीसी व आर्म्स एक्ट के तहत दर्ज किया गया जिसमें उसने अपने साथियों रोहित सेठी, अजय कुमार, आशीष चोपड़ा, हैप्पी भुल्लर, अमरजीत सिंह, मनी, बाबा मेजर, लाली और गगन जज के साथ मिलकर फिरोजपुर निवासी इंद्रजीत सिंह उर्फ ढिडा का दर्पण सिटी खरड़ में 18 गोलियां चलाकर मर्डर किया था।

बुधवार को इंद्रजीत सिंह ढिड्डा की हत्या के मामले में गिरफ्तार भगोड़ा हरप्रीत सिंह हैप्पी से पुलिस ने की पूछताछ

खबरें और भी हैं...