Hindi News »Punjab »Gardhiwala» बच्चों को खिलाई एलबेंडाजोल गोलियां

बच्चों को खिलाई एलबेंडाजोल गोलियां

भास्कर संवाददाता | गढ़दीवाला एसएमओ डाॅ. रणजीत घोतरा सीएचसी भूंगा के दिशा-निर्देशों अनुसार डॉ. . निर्मल सिंह की...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 11, 2018, 02:05 AM IST

बच्चों को खिलाई एलबेंडाजोल गोलियां
भास्कर संवाददाता | गढ़दीवाला

एसएमओ डाॅ. रणजीत घोतरा सीएचसी भूंगा के दिशा-निर्देशों अनुसार डॉ. . निर्मल सिंह की अध्यक्षता में मिडल स्कूल दारापुर में डी वार्मिंग दिवस मनाया गया। जिसमें स्कूल विद्यार्थियों को दोपहर का खाना खाने के आधा घंटा बाद में पेट के कीड़े मारने वाली गोलियां खिलाई गई। डॉ. निर्मल सिंह ने बच्चों को जानकारी देते हुए बताया कि यह गोलियां बच्चों को इस करके दी जाती है ताकि पेट के कीड़ों के कारण शरीर में खून की कमी न आए। इस मौके उन्होंने बच्चों को खाना खाने से पहले हाथ धोने, संतुलन भोजन, मौसमी फल तथा हरी सब्जियां खाने के लिए प्रेरित किया। डाॅ. निर्मल सिंह के अलावा मुख्याध्यापक अशोक कुमार, सुखपाल सिंह, इंद्रजीत सिंह, एएनएम जसपाल कौर, आशा वर्कर कमलजीत कौर, हेल्थ वर्कर गुरिंदर सिंह उपस्थित थे।

हाई स्कूल दारापुर में बच्चों को पेट के कीड़ों सबंधी गोलियां खिलाते डाॅ. निर्मल सिंह। (दाएं) संसारपुर स्कूल में बच्चों को गोलियां खिलाते डॉ. साहिल व अन्य।

पीएचसी मंड पंधेर अधीन पड़ते सभी आंगनबाड़ी सेंटरों तथा स्कूलों में गोलियां खिलाई जा रहीं : डॉ. साहिल

एसएमओ डाॅ. दविंदर पुरी सीनियर मेडिकल अफसर प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र मंड पंधेर की अध्यक्षता में सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल संसारपुर में ब्लॉक स्तरीय राष्ट्रीय पेट के कीड़ों से मुक्ति दिवस मनाया गया। डाॅ. साहिल पवन ने बताया कि पेट के कीड़ों से मुक्ति दिवस दौरान 1 से 19 वर्ष के बच्चों को पेट के कीड़े मारने के लिए गोलियां खिलाई जा रही हैं। पीएचसी मंड पंधेर अधीन पड़ते सभी आंगनवाड़ी सेंटरों तथा स्कूलों में यह गोलियां खिलाई जा रही हैं। यदि किसी बच्चे के पेट में कीड़े हैं तो उसके शरीर में खून की कमी, कमजोरी व अन्य बीमारियां होने का खतरा बना रहता है। राजीव कुमार बीईई ने बताया कि जो बच्चे इस दवाई से वंचित रह गए हैं उनको 17 अगस्त को यह दवाई खिलाई जाएगी। इस मौके प्रिसिंपल विनय शर्मा, डाॅ. मोनिका, डाॅ. वरूण, डाॅ. संदीप, अमरीक कौर, बलविंदर कुमार, राजीव रोमी व स्कूल स्टाफ उपस्थित था।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Gardhiwala

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×