Hindi News »Punjab »Garhshankar» जेपीएमओ ने मजदूर दिवस पर रैली निकालकर दी श्रद्धांजलि

जेपीएमओ ने मजदूर दिवस पर रैली निकालकर दी श्रद्धांजलि

जनतक संगठनों के सयुंक्त मोर्चे (जेपीएमओ) ने अंतरराष्ट्रीय मजदूर दिवस को पूंजीवादी तथा मनुवादी गुलामी के खिलाफ...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 03, 2018, 02:25 AM IST

जेपीएमओ ने मजदूर दिवस पर रैली निकालकर दी श्रद्धांजलि
जनतक संगठनों के सयुंक्त मोर्चे (जेपीएमओ) ने अंतरराष्ट्रीय मजदूर दिवस को पूंजीवादी तथा मनुवादी गुलामी के खिलाफ स्थानीय बस स्टैंड में शहीद ए आजम भगत सिंह के स्मारक के निकट विशाल रैली तथा मार्च निकाला मनाया। मजदूर लहर का झंडा इंकलाबी नाहरों की गूंज में ट्रेड यूनियन नेता शादी राम कपूर, निर्भय सिंह बहिवलपूरी तथा बलवंत राम ने फहराया। इसमें भारी संख्या में महिलाएं भी शामिल हुई, जिसमें विभिन्न नेताओं ने मजदूर आंदोलन के दौरान शहीद हुए मजूदरों को श्रद्धांजलि दी और मौजूदा समय में विभिन्न सरकारें समाराजी लोगों की कठपुतली बन चुकी है तथा मजदूर लहर को सरकार द्वारा की जा रही पेश चुनौतियों की इस दौरान चर्चा की गई। इसके अलावा विभिन्न हिस्सों में महिलाओं व नाबालिग बच्चियों के साथ हो रही रेप तथा हत्याओं की घटनाओं की कड़ी निंदा की और असहिष्णुता की घटनाओं को शांत करने की मांग की गई। इस समय जेपीएमओ के जिला कन्वीनर राम जी दास चौहान, मखन सिंह वाहिदपूरी, निर्भय सिंह, जीत सिंह बगवाई, शादी राम कपूर, मास्टर बलवंत राम, शिंगारा राम भज्जल, मिथलेश कुमार, पेंशनर नेता सरूप चंद बीरमपुर, अमरीक सिंह, गुरनाम सिंह, रवि कुमार, कश्मीर कौर भंमियां, सुच्चा सिंह सतनौर, जगदीश राम, मास्टर नरेश कुमार, सोहन सिंह सुन्नी, परमानंद, शाम सुंदर कपूर, अनुराधा, किरन अग्निहोत्री, हरपाल कौर सतनौर, शर्मिला रानी, मीना रानी, पवन कुमार जंगलात विभाग, जसविंदर कौर, हरबंस कित्तनां आदि ने संबोधित किया।

रैली के दौरान जेपीएमओ के जिला कन्वीनर राम जी दास चौहान, मखन सिंह वाहिदपूरी, मास्टर बलवंत राम व अन्य। -भास्कर

तलवाड़ा के सब्जी मंडी चौक में मई दिवस मनाया

कमाही देवी| मजदूर वर्ग की मांगों और सरकार की ओर से की जा रही अनदेखी के विरोध में तलवाड़ा के सब्जी मंडी चौक में मई दिवस मनाया गया। इस दिवस को सन 1886 में अमेरिका के शिकागो शहर में मजदूर यूनियन पर किए गए अत्याचार के विरोध में मनाया जाता है, जो अपने हक और इंसाफ लेने के लिए इकट्ठे हुए थे। इस मौके अमरिंदर ढिल्लों ने कहा की आज मजदूर 8 घंटे काम कर रहा है वह 1886 में उन हजारों शहीदों की बदौलत है, जिन्होंने सरकार को मजदूरी का समय निश्चित करने के लिए बाध्य किया और अपने प्राणों की आहुति दे डाली। मास्टर शिव कुमार ने कहा कि आजकल की सरकारें फिर पुराने मजदूरी के मापदंड लागू करवाने पर आमदा हैं। प्राइवेट क्षेत्र में नौकरी करने वालों से दिन में 15 से 20 घंटे काम लिया जा रहा है। एक तरफ सरकारी नौकरी वाला 50 हजार वेतन ले रहा है दूसरी और वही काम प्राइवेट नौकरी करने वाला पांच हजार में कर रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार पूंजीपतियों की हाथ की कठपुतली बन कर आम जनता का शोषण कर रही है। दीपक ठाकुर ने कहा कि हमें एकजुट होकर सरकार से मजदूर वर्ग की लड़ाई लड़नी होगी और सरकार को नौकरी में प्राइवेट, ठेके प्रणाली को बंद करने पर मजबूर करना चाहिए। इस मौके इलाके के स्वतंत्रता सेनानी पंडित किशोरी लाल की याद में 13 मई को धर्मपुर देवी में समागम करवाने की बात कही गई। इस मौके वरिंदर विक्की, राजीव शर्मा, युगराज सिंह, सोहन लाल, बिशन दास, कामरेड शमशेर सिंह, सरिता रानी, दीपक जरियाल व दविंदर राणा हाजिर थे।

मजदूर मुलाजिम व विद्यार्थी जत्थेबंदियों ने मजदूर दिवस मनाया

गढ़शंकर | गांधी पार्क गढ़शंकर में विभिन्न मजदूर, मुलाजिम, विद्यार्थी जत्थेबंदियों ने अंतरराष्ट्रीय मजदूर दिवस पर रैली निकाली। उपरांत शहर में रोष मार्च करके श्रद्धांजलि भेंट की। जत्थेबंदी के वक्ता महिंदर सिंह खैरड़, मा. मुकेश कुमार, जोगिंदर कुल्लेवाल, बलजीत सिंह धर्मकोट ने मई दिवस के शहीदों संबंधी जानकारी दी। इस मौके बगीचा सिंह, सोढी राम, चैन सिंह, परवेज कुमार, तजिंदर बहिबलपुरी, राज रानी, कृष्णा चक गुरु, मा. नरेश कुमार, सुखदेव डानसीवाल, हरमेश भाटिया, सतपाल, बलजीत सिंह, विक्रम कुल्लेवाल ने संबोधित किया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Garhshankar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×