Hindi News »Punjab »Gurdaspur» किरती बोले- अगस्त से ऑनलाइन प्रक्रिया का ऐलान, 8 महीने बाद भी नहीं हुई शुरू

किरती बोले- अगस्त से ऑनलाइन प्रक्रिया का ऐलान, 8 महीने बाद भी नहीं हुई शुरू

भास्कर संवाददाता | गुरदासपुर मांगों को मनवाने के लिए निर्माण किरती 4 अप्रैल को चंडीगढ़ में प्रदेश रैली के रूप में...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 02, 2018, 02:25 AM IST

किरती बोले- अगस्त से ऑनलाइन प्रक्रिया का ऐलान, 8 महीने बाद भी नहीं हुई शुरू
भास्कर संवाददाता | गुरदासपुर

मांगों को मनवाने के लिए निर्माण किरती 4 अप्रैल को चंडीगढ़ में प्रदेश रैली के रूप में सड़कों पर उतरेंगे। प्रदेश स्तरीय रैली में अपनी आवाज बुलंद करने के लिए गुरदासपुर से भी किरतियों का बड़ा काफिला बसों में रवाना होगा। यह जानकारी इफ्टू प्रदेश उपप्रधान रमेश राणा ने दी। इससे पहले निर्माण मिस्त्री मजदूर यूनियन संबंधित इफ्टू की बैठक जिला प्रधान जोगिंदर पाल पनियाड़ की अध्यक्षता में शहीद कामरेड अमरीक सिंह यादगार हॉल में हुई।

बैठक में प्रदेश स्तरीय रैली में शामिल होने के लिए की जा रही तैयारियों का जायजा लिया गया। इस अवसर पर मजदूर नेताओं ने बताया कि 09-08-2017 से पंजाब निर्माण बोर्ड ने निर्माण किरतियों के सभी काम ऑनलाइन करने का ऐलान किया था, लेकिन 8 माह बीत जाने के बाद भी आज तक ऑनलाइन प्रक्रिया की शुरुआत नहीं हुई। इस वजह से किरतियों के एक साल के सभी लाभ मिट्टी में मिल गए। रमेश राणा ने बताया कि निर्माण किरतियों का बहुत बड़ा हिस्सा अनपढ़ है, जबकि कुछेक की गिनती कम पढ़े-लिखों में आती है। उन्हें ऑनलाइन प्रक्रिया के बारे में जरा भी जानकारी नहीं है। इस वजह से मजदूर वर्ग के सामने भारी परेशानियां आएंगी। उन्होंने बताया कि संबंधित रैली में मजदूर वर्ग की कई अहम मांगों के प्रति आवाज बुलंद की जाएगी। बैठक में दफ्तर सचिव जोगिंदर पाल घुराला, जिला नेता संसार सिंह, मुख्तयार सिंह, सुखदेव राज, भूपिंदर सिंह पप्पी, बलदेव सिंह कादियां, गुरमीत राज पाहड़ा, महंगा राम मीरपुर, कुंदन लाल खोजेपुर ने निर्माण किरतियों को रैली में शामिल होने का पुरजोर आह्वान किया।

बैठक में प्रदेश स्तरीय रैली के बारे में जानकारी देते इफ्टू नेता।

किरतियों की मुख्य मांगें

निर्माण किरतियों की रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन के साथ-साथ ऑफलाइन भी जारी रखने, हर प्रकार की योजना के लिए ऑफलाइन फार्म अनिवार्य रखने, किरत इंस्पेक्टरों के खाली पदों पर भर्ती करने, मकान बनवाने के लिए 2 लाख की ग्रांट सुविधा, दुर्घटना केस में सारा खर्चा बोर्ड की ओर से देने, मेडिकल बिल सिविल सर्जन से पास करवाने की शर्त खत्म करने, स्कूलों/कॉलेजों द्वारा निर्माण किरतियों के फार्म अटेस्टेड न करने वाले अधिकारियों/कर्मचारियों पर कार्रवाई करने, किरती की मौत होने पर परिवार की राशि सहायता आदि मांगें मुख्य हैं।

भास्कर संवाददाता | गुरदासपुर

मांगों को मनवाने के लिए निर्माण किरती 4 अप्रैल को चंडीगढ़ में प्रदेश रैली के रूप में सड़कों पर उतरेंगे। प्रदेश स्तरीय रैली में अपनी आवाज बुलंद करने के लिए गुरदासपुर से भी किरतियों का बड़ा काफिला बसों में रवाना होगा। यह जानकारी इफ्टू प्रदेश उपप्रधान रमेश राणा ने दी। इससे पहले निर्माण मिस्त्री मजदूर यूनियन संबंधित इफ्टू की बैठक जिला प्रधान जोगिंदर पाल पनियाड़ की अध्यक्षता में शहीद कामरेड अमरीक सिंह यादगार हॉल में हुई।

बैठक में प्रदेश स्तरीय रैली में शामिल होने के लिए की जा रही तैयारियों का जायजा लिया गया। इस अवसर पर मजदूर नेताओं ने बताया कि 09-08-2017 से पंजाब निर्माण बोर्ड ने निर्माण किरतियों के सभी काम ऑनलाइन करने का ऐलान किया था, लेकिन 8 माह बीत जाने के बाद भी आज तक ऑनलाइन प्रक्रिया की शुरुआत नहीं हुई। इस वजह से किरतियों के एक साल के सभी लाभ मिट्टी में मिल गए। रमेश राणा ने बताया कि निर्माण किरतियों का बहुत बड़ा हिस्सा अनपढ़ है, जबकि कुछेक की गिनती कम पढ़े-लिखों में आती है। उन्हें ऑनलाइन प्रक्रिया के बारे में जरा भी जानकारी नहीं है। इस वजह से मजदूर वर्ग के सामने भारी परेशानियां आएंगी। उन्होंने बताया कि संबंधित रैली में मजदूर वर्ग की कई अहम मांगों के प्रति आवाज बुलंद की जाएगी। बैठक में दफ्तर सचिव जोगिंदर पाल घुराला, जिला नेता संसार सिंह, मुख्तयार सिंह, सुखदेव राज, भूपिंदर सिंह पप्पी, बलदेव सिंह कादियां, गुरमीत राज पाहड़ा, महंगा राम मीरपुर, कुंदन लाल खोजेपुर ने निर्माण किरतियों को रैली में शामिल होने का पुरजोर आह्वान किया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Gurdaspur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×