• Hindi News
  • Punjab News
  • Gurdaspur News
  • मांगें मनवाने के लिए हीटर, लाइटें जलतीं छोड़कर डीसी दफ्तर के मुलाजिमों ने तीन घंटे की नारेबाजी
--Advertisement--

मांगें मनवाने के लिए हीटर, लाइटें जलतीं छोड़कर डीसी दफ्तर के मुलाजिमों ने तीन घंटे की नारेबाजी

भास्कर संवाददाता | गुरदासपुर मांगे पूरी नहीं होने के विरोध में वीरवार को डीसी दफ्तर के बाहर दिए जाने वाले धरने...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 02:30 AM IST
भास्कर संवाददाता | गुरदासपुर

मांगे पूरी नहीं होने के विरोध में वीरवार को डीसी दफ्तर के बाहर दिए जाने वाले धरने को लेकर मुलाजिम इतनी जल्दबाजी में थे कि हीटर, लाइटें व अन्य उपकरण चलते ही छोड़ गए। मुलाजिमों ने डीसी दफ्तर के बाहर तीन घंटे धरना देकर प्रदेश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। मुलाजिमों ने चेतावनी दी कि यदि उनकी मांगें पूरी नहीं हुईं तो वह शुक्रवार को पंजाब सरकार का पुतला फूंकेंगे। इसके पहले भी मुलाजिमों ने 22 व 23 जनवरी को भी डीसी दफ्तर के बाहर धरना देकर अपना आक्रोश जताया था। तीन घंटे धरने के दौरान कर्मियों ने प्रदेश सरकार पर वादा खिलाफी का आरोप लगाते हुए उन्हें कर्मचारी विरोधी बताया।

मांगें पूरी नहीं होने पर धरने पर बैठ नारेबाजी करते डीसी दफ्तर के मुलाजिम।

धरने में येे रहे मौजूद

इस अवसर पर ड्राइवर यूनियन के प्रधान गुरनाम सिंह, कुलजीत सिंह, ओंकार शर्मा, कुलविंदर सिंह, नरिंदर कुमार, सुखजिन्दर सिंह, बलविन्दर कुमार धर्मवीर, सर्बजीत सिंह मुलतानी, राज कुमार,गुरजिंदर सिंह सोहल, गुरिन्दर सिंह, नीलम कुमारी, सुरिंदर कुमार, गुरनाम सिंह, व डीसी कार्यालय के समूह कर्मचारियों ने हिस्सा लिया।

यूनियन की मांगें | डीसी दफ्तरों में स्टाफ पूरा किया जाए, एसीपी स्कीम के तहत अधिकारियों की तरह हायर स्केल दिया जाए, डीए की बकाया किश्त जारी की जाए, स्टेनों की प्रमोशन के समय टेस्ट की हिदायतें वापस ली जाएं, सुपरिटेंडेंट ग्रेड-2 की प्रमोशन की पावर डीसी को दी जाएं, साल 2004 के बाद भर्ती हुए कर्मचारियों को जीपी फंड, पेंशन घेरे में लिया जाए।

डीसी दफ्तर में चलता हीटर।

डीसी दफ्तर में हो रही बर्बादी का जिम्मेदार कौन

सरकारी दफ्तरों में इसका खुलेआम उल्लंघन होता है। वीरवार को भी कर्मी अपने धरने में चले गए और पीछे दफ्तर की लाइटें, हीटर और अन्य उपकरण चलते ही छोड़कर चले गए। इस बारे जब डीसी दफ्तर कर्मियों से बात की गई तो वह कोई भी जवाब देने को तैयार नहीं हुए।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..