• Hindi News
  • Rajya
  • Punjab
  • Gurdaspur
  • Dina nagar News the names of the council chief and the former deputy prime minister will be called from the voters list the sdm will conduct a check up

कौंसिल प्रधान व पूर्व उपप्रधान का वोटर सूची से नाम कटा, एसडीएम बोले-जांच करवाएंगे

Gurdaspur News - चुनाव आयोग ने लोकसभा चुनाव में वोट प्रतिशत बढ़ाने के लिए एक वर्ष से नए वोट बनाने पर न सिर्फ जोर दिया बल्कि चुनाव का...

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 07:46 AM IST
Dina nagar News - the names of the council chief and the former deputy prime minister will be called from the voters list the sdm will conduct a check up
चुनाव आयोग ने लोकसभा चुनाव में वोट प्रतिशत बढ़ाने के लिए एक वर्ष से नए वोट बनाने पर न सिर्फ जोर दिया बल्कि चुनाव का ऐलान होने के वावजूद नए वोट बनाने की समयावधि 19 मई तक बढ़ाई। इन सब प्रयासों के बावजूद वोटर सूचियों के अंतिम प्रकाशन में अनियमितताएं उजागर हो रही हैं। दीनानगर के बूथ नंबर 99 की वोटर सूची में से नगर कौंसिल के प्रधान राकेश महाजन और पूर्व वाइस प्रधान डॉ. दीपक निश्चल का नाम काट दिया गया है। जबकि, उनके परिवार के बाकी सदस्यों के नाम वोटर सूचियों में पहले की तरह ही दर्ज हैं।

कौंसिल प्रधान राजेश महाजन ने बताया कि बूथ नंबर 99 की वोटर सूची में सीरियल नंबर 536 में दर्ज उनके नाम को डिलीट कर दिया गया है। जबकि, उनकी प|ी मृदुला गुप्ता और बेटे मोहित गुप्ता का नाम सीरियल नंबर 539 और 541 में दर्ज है। बूथ लेवल आफिसर मनोज कुमार को बुलाकर स्पष्टीकरण मांगा तो उन्होंने वोट कटने संबंधी किसी प्रकार की जानकारी न होने की बात कही। वहीं, नगर कौंसिल के पूर्व उपप्रधान डॉ. दीपक का नाम सीरियल नंबर दो पर था। उस पर भी डिलीट का स्टैंप लगा दी गई है। हालांकि, सीरियल नंबर 3 से 7 तक उनकी प|ी, बेटियां और बेटे का नाम दर्ज है। सिर्फ उन्हीं का वोट काटा गया। उन्होंने बताया कि वह बीएलओ को साथ लेकर एसडीएम से जाकर मिले थे। वहां बीएलओ ने स्पष्ट कहा कि उनका वोट काटने के लिए उनके पास कोई फार्म नहीं आया। उसे खुद वोट कटा देख हैरानी हुई है। एसडीएम ने अब अंतिम समय पर उनका नाम वोटर सूची में डालने में असमर्थता व्यक्त करते हुए कहा कि इस मामले में पूरी जांच करवाई जाएगी। जो भी दोषी पाया गया कार्रवाई की जाएगी। कौंसिल प्रधान राकेश और पूर्व उपप्रधान डॉ. दीपक ने कहा कि मामले की पूरी जांच करवाएंगे। इसके लिए जिम्मेदार शख्स को बख्शा नहीं जाएगा।

कटा नाम िदखाते प्रधान राकेश।

फार्म नंबर 7 भर कर ही कटता है वोट

बीएलओ मनोज कुमार ने बताया कि उसे खुद दोनों के वोट कटने के बारे कोई जानकारी नहीं है। किसी की वोट काटने के लिए फार्म नंबर 7 भरना जरूरी होता है। इसके बिना किसी के वाेट को नहीं काटा जा सकता। मेरे पास इन वोटों को काटने के लिए किसी ने फार्म नंबर 7 भर कर नहीं दिया और नाम वोटर सूची में से डिलीट होने पर वह खुद हैरान हैं।

X
Dina nagar News - the names of the council chief and the former deputy prime minister will be called from the voters list the sdm will conduct a check up
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना