• Hindi News
  • Rajya
  • Punjab
  • Gurdaspur
  • Gurdaspur News the police took away the miscreants laborers who were wallowing the plot on the lease in village rania stopped them in the police station left the ghera

गांव रनिया में लीज पर लिए प्लाट की चारदीवारी कर रहे मिस्त्री-मजदूरों को उठाकर ले गई पुलिस, थाने में किया बंद, घेराव पर छोड़ा

Gurdaspur News - भास्कर संवाददाता|गुरदासपुर/धारीवाल गांव रनियां में प्लाट में चल रहे निर्माण को पुलिस ने वीरवार को रोक दिया था।...

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 07:52 AM IST
Gurdaspur News - the police took away the miscreants laborers who were wallowing the plot on the lease in village rania stopped them in the police station left the ghera
भास्कर संवाददाता|गुरदासपुर/धारीवाल

गांव रनियां में प्लाट में चल रहे निर्माण को पुलिस ने वीरवार को रोक दिया था। पुलिस का कहना था कि थाने में फोन आया है कि यह जमीन खादी बोर्ड की है और इस पर अवैध निर्माण कराया जा रहा है। जबकि, जमीन मालिक का कहना है कि पुलिस को प्लाट को लीज पर लेने के सभी कागजात दिखाए थे, पर शुक्रवार को मिस्त्री और मजदूर उक्त प्लाट पर निर्माण कार्य कर रहे थे तो थाना धारीवाल की पुलिस ने उनसे मारपीट की, जिस कारण एक मजदूर गंभीर जख्मी हो गया, जबकि बाकी लोगों को पुलिस ने थाने में बंद कर दिया। गांव के लोगों ने थाना घेरा तो छोड़ दिया। डीएसपी मनजीत सिंह के आश्वासन पर लोगों ने धरना दिया।

रनियां के परमजीत सिंह ने बताया कि खादी बोर्ड की जमीन काफी समय से खाली थी। उक्त जमीन उसने संबंधित विभाग से 99 साल के लिए लीज पर ली है। उसने उक्त जमीन पर जब निर्माण शुरू किया तो किसी ने पुलिस को फोन कर दिया कि उक्त जमीन पर कब्जा हो रहा है, जिसके चलते वीरवार को पुलिस ने मौके पर पहुंच कर काम रुकवा दिया। मैंने जमीन से संबंधित सभी दस्तावेज थाना धारीवाल में जाकर पुलिस अधिकारी को दिखाए। शुक्रवार को भी मिस्त्री व मजदूर काम कर रहे थे तो एएसआई राजविन्दर सिंह, पुलिस कर्मियों और मजदूरों में तकरारबाजी हुई। आरोप लगाया कि पुलिस ने मजदूरों को पीटा और थाने में लेजाकर बंद कर दिया।

अस्पताल में भर्ती परवेज

थाना धारीवाल का घेराव करते गांव रनिया के लोग। भास्कर

जख्मी होने के बावजूद थाने में बिठाए रखने का आरोप परमजीत ने आरोप लगाया कि एक पुलिस कर्मचारी ने परवेज मसीह पुत्र तरसेम मसीह निवासी रनियां के सिर पर ईंट से वार कर दिया, जिससे वो गंभीर जख्मी हो गया। पुलिस अधिकारी सभी मिस्त्री व मजदूरों को थाने ले गई और बंद कर दिया, जबकि जख्मी परवेज को भी काफी देर थाने में बिठाए रखा।

धक्केशाही करने वाले पुलिस अधिकारी और कर्मचारियों पर कार्रवाई की मांग

घटना का पता चलते ही गांव रनियां व शहरवासियों ने थाने का घेराव कर पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की। मामला गर्माता देख पुलिस ने परवेज को सिविल अस्पताल गुरदासपुर भेज दिया। थाने में बंद लोग भी छोड़ दिए। घेराव में शहर के कुछ राजनीतिक पार्टी के नेताओं ने भी लोगों का साथ दिया। लोगों ने मांग की कि मजदूरों से धक्केशाही करने वाले पुलिस अधिकारी व कर्मचारियों पर कार्रवाई की जाए। घेरने करने वालों में डॉ. कमलजीत सिंह, लाभा मसीह, सोनू रंधावा भी शामिल थे।

डीएसपी बोले-जो भी कर्मचारी कसूरवार होगा, कार्रवाई करेंगे | घटना का पता चलने पर डीएसपी मनजीत सिंह मौके पर पहुंच गए और लोगों को समझाया। उन्होंने धरनाकारियों को विश्वास दिलाया कि जो भी पुलिस कर्मचारी मामले में कसूरवार पाया जाएगा, उसके खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जाएगी। उक्त आश्वासन के बाद धरनाकारियों ने धरना हटाया।

Gurdaspur News - the police took away the miscreants laborers who were wallowing the plot on the lease in village rania stopped them in the police station left the ghera
X
Gurdaspur News - the police took away the miscreants laborers who were wallowing the plot on the lease in village rania stopped them in the police station left the ghera
Gurdaspur News - the police took away the miscreants laborers who were wallowing the plot on the lease in village rania stopped them in the police station left the ghera
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना