हां! मैंने ही चलवाई गोली, बैंस को डराना चाहते थे न्यूजीलैंड के 2 कबड्‌डी प्रमोटर

Gurdaspur News - पंजाबियों की मां खेल कबड्डी अब गैंगस्टरों के साये में पल बढ़ रही है। यह गैंगस्टर कबड्डी कप करवाने वाले प्रमोटरों...

Feb 15, 2020, 07:45 AM IST
Gurdaspur News - yes i was the one who shot the bullet wanted to intimidate bains 2 kabaddi promoter

पंजाबियों की मां खेल कबड्डी अब गैंगस्टरों के साये में पल बढ़ रही है। यह गैंगस्टर कबड्डी कप करवाने वाले प्रमोटरों पर अपनी धौंस जमां रहे हैं। इसका खुलासा गैंगस्टर जग्गू भगवानपुरिया के थाना बुल्लोवाल की पुलिस की तरफ से लिए गए दो दिन के रिमांड में हुआ है। रिमांड खत्म होने के बाद शुक्रवार को जग्गू को जज जसलीन नारंग की अदालत में पेश किया गया। यहां से उसे वापस पटियाला जेल भेज दिया गया है।

पुलिस के मुताबिक रिमांड में की गई पूछताछ में जग्गू ने माना है कि गांव माणकढेरी में प्रवासी पंजाबी साहिब सिंह के घर के बाहर उसके कहने पर ही फायरिंग हुई है। जांच अधिकारी तरसेम सिंह ने मीडिया को बताया कि जग्गू भगवानपुरिया ने यह माना है कि न्यूजीलैंड में रहने वाले कबड्डी प्रमोटर मनजोत और हरकमलजोत जिला गुरदासपुर के गांव सुक्खा राजू के रहने वाले है अौर उसके जानकार हैं। उनके कहने पर ही उसने अपने साथियों को साहिब सिंह के घर के बाहर फायरिंग करने के लिए कहा था ताकि साहिब सिंह और उसके बेटे गुरविंदर सिंह बैंस जो कि न्यूजीलैंड में अलग से कबड्डी कप करवाते हैं उन्हें डराया जा सके। जग्गू ने माना कि उनका मकसद किसी की हत्या करवाना नहीं था बल्कि सिर्फ डर पैदा करना था। ताकि साहिब सिंह और उसका बेटा गुरविंदर सिंह बैंस उसके जानकार मनजोत और हरकमलजोत के बराबर न्यूजीलैंड में कबड्डी कप करवाकर बराबरी करनी छोड़ दे। ताकि मनजोत और हरकमलजोत का कबड्डी कप ही न्यूजीलैंड का सबसे बड़ा कबड्डी कप बने और वहीं पर बड़े खिलाड़ी खेलने जाएं।

कबड्‌डी से पिछले साल जुड़ा जग्गू का नामफेडरेशन के मेंबर ने दी थी शिकायत

कबड्डी से गैंगस्टर जग्गू भगवानपुरिया का नाम नवंबर 2019 में जुड़ा था, जब नॉर्थ इंडिया सर्कल स्टाइल कबड्डी फेडरेशन के मेंबर सुरजन सिंह ने डीजीपी पंजाब को शिकायत देते हुए कहा था कि पंजाब या विदेश में होने वाले बड़े खेल मुकाबले में गैंगस्टर जग्गू भगवानपुरिया पैसे और डरा धमकाकर अपनी पकड़ बना रहा हैं और यह खेल के लिए घातक है। उन्होंने अपनी शिकायत में तब हरकंवल वासी गांव सुक्खा राजू का भी जिक्र किया था जो कि न्यूजीलैंड में रहता है और वह जग्गू का साथी है। इसके बाद पूर्व अकाली मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया ने दावा किया था कि हरकंवल पंजाब सरकार में मौजूदा जेल मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा का करीबी है लेकिन तब मंत्री रंधावा ने हरकंवल के साथ संबंध होने से इंकार किया था। अब गांव माणकढेरी में हुई फायरिंग के मामले में इसी हरकंवल को पुलिस ने नामजद किया है।

पहले घोड़ी, फिर बिन्नी गुज्जर और आखिर जग्गू तक पहुंची पुलिस

पिछले साल जून महीने में जब गांव माणकढेरी में साहिब सिंह के घर पर गोलियां चलाई थी तब साहिब सिंह के पुत्र गुरविंदर सिंह बैंस ने ई-मेल के जरिए एक शिकायत एसएसपी होशियारपुर को की थी। इस पर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने पहले गोलियां चलाने वाले घोड़ी नाम के नौजवान को जनवरी 2020 में पकड़ा। फिर उसने जांच में बताया कि गोलियां चलाने के लिए बिन्नी गुज्जर ने कहा था। जिस पर कार्रवाई आगे बढ़ाते हुए कुछ दिन पहले थाना बुल्लोवाल की पुलिस बिन्नी गुज्जर को रिमांड पर लाई थी। तब बिन्नी ने जग्गू भगवानपुरिया का नाम लिया था। एसआई तरसेम सिंह ने बताया कि इस मामले में उक्त तीनों मुलजिमों के साथ-साथ मनजोत और हरकमलजोत को भी नामजद किया गया है।


न्यूजीलैंड में बैंस करवाने लगा था बड़ा टूर्नामेंट, मनजीत-हरकंवल चाहते थे उनकी बराबरी न करे, डराने को लिया गैंगस्टर का सहारा

न्यूजीलैंड में हुई थी बैंस और मनजीत-हरकंवल की बहस

पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक प्रवासी पंजाबी साहिब सिंह के पुत्र गुरविंदर सिंह बैंस और मनजोत और हरकंवलजीत के दरमियान पिछले साल न्यूजीलैंड के एक क्लब में बहसबाजी हुई थी। इस दौरान दोनों पक्षों ने अपने-अपने टूर्नामेंट को न्यूजीलैंड का बड़ा टूर्नामेंट बताया था। मनजोत और हरकंवलजीत का कहना था कि गुरविंदर सिंह बैंस उन खिलाड़ियों को ज्यादा पैसे देकर अपने टूर्नामेंट में खेलने के लिए बुला रहा है जो कि पहले उनके टूर्नामेंट में खेलते थे। इसी बात को लेकर दोनों पक्षों में बहस अौर एक-दूसरे को धमकियां भी दी गई।

मारना नहीं डराना ही था इनका मकसद : पुलिस

जांच अधिकारी तरसेम सिंह ने बताया कि जग्गू भगवानपुरिया खुद कबड्डी खिलाड़ी रह चुका है। उसका मकसद किसी की हत्या करना नहीं था। जग्गू ने इस काम के लिए होशियारपुर से संबंधित गैंगस्टर बिन्नी गुज्जर की मदद ली और बिन्नी ने आगे यह काम कस्बा हरियाना से संबंधित घोड़ी नाम के नौजवान को सौंपा था। घोड़ी ने अपने दो अन्य साथियों के साथ साहिब सिंह के घर के बाहर फायरिंग की थी।

रिमांड पर गैंगस्टर जग्गू भगवानपुरिया का कबूलनामा

X
Gurdaspur News - yes i was the one who shot the bullet wanted to intimidate bains 2 kabaddi promoter
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना