• Home
  • Punjab News
  • Hajipur News
  • चलयाणी मोहल्ले में 15 दिनों से पानी की किल्लत लोगों ने जलविभाग के खिलाफ की नारेबाजी
--Advertisement--

चलयाणी मोहल्ले में 15 दिनों से पानी की किल्लत लोगों ने जलविभाग के खिलाफ की नारेबाजी

कंडी क्षेत्र के गांव बह मावा में पिछले 15 दिनों से चलयाणी मोहल्ले के लोगों में पीने वाला पानी न आने से वाटर सप्लाई...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 03:25 AM IST
कंडी क्षेत्र के गांव बह मावा में पिछले 15 दिनों से चलयाणी मोहल्ले के लोगों में पीने वाला पानी न आने से वाटर सप्लाई विभाग के प्रति भारी रोष है। पंच बिधी चंद ने बताया कि कंडी क्षेत्र के लोगों के लिए पिछले कई वर्षों से गर्मी का मौसम आते ही बिजली ओर पानी की किल्लत आना एक आम बात हो चुकी है।

उन्होंने कहा कि चुनावों दौरान कंडी क्षेत्र में कांग्रेस सरकार 24 घंटे बिजली ओर पर्याप्त मात्रा में लोगों को पानी उपलब्ध करवाने का दम भर कर सत्ता में काबिज हुई थी पर कंडी क्षेत्र के लोग इस बार तो गर्मी का मौसम शुरू होते ही बिजली के कटों ओर पानी की किल्लत से परेशान होना शुरू हो गए हैं। लोगों की समस्या को देखते हुए जल विभाग द्वारा 2 वर्ष पहले मेन पाइप से मोहल्ले को दो पाइप डाल कर सप्लाई दी थी, जिससे पानी की सप्लाई घरों तक ठीक आ रही थी पर कुछ माह पहले मोहल्ले के सात-आठ घरों द्वारा विभाग के साथ मिलीभगत कर अपने-अपने घरों तक मेन पाइप से निजी कनेक्शन करवा लिए गए थे और टुल्लू पंप लगा उक्त घरों के लोग पानी ले रहें हैं और पीने वाला पानी बेखौफ अपने खेतों में भी लगा रहे हैं। जिसके चलते आगे पानी न आने से बाकी के मोहल्ला निवासी परेशान हैं,ओर विभाग खामोश है। उन्होंने बताया कि इस बात की शिकायत विभाग के एसडीओ को कई बार की गई।पर उनके आश्वासन देने के बाद भी अभी तक उन कनेक्शनों को मोहल्ले के साथ नहीं जोड़ा गया।

यहां मौजूद मोहल्ला वासियों में से भाग सिंह, मलकीत सिंह, बशंवरो देवी, कांता देवी, कुलवंत कौर, सीमा देवी ने पंजाब सरकार व हलका विधायक से अपील करते हुए कहा कि मोहल्ले के लोगो को पेश आ रही उक्त समस्या का जल्दी से जल्दी हल निकाला जाए।

जल विभाग के खिलाफ नारेबाजी करते चलयाणी मोहल्ले के लोग। -भास्कर

लोगों की मुश्किल जरूर हल करेंगे : आरपी सिंह

जल विभाग के एक्सईएन आरपी सिंह से जब उक्त समस्या के संबंध में बात की गई तो उनका कहना था कि अगर लोगों ने कोई शिकायत विभाग के एसडीओ को की है तो उसका हल जरूर किया जाएगा। ओर वह खुद भी देखेंगे कि उक्त समस्या का हल जल्दी किया जा सके।