• Hindi News
  • Punjab News
  • Hoshiarpur News
  • पुलिस ने एनआरआई की बच्ची को ढूंढा एसडीएम ने किया मामा-मामी के हवाले
--Advertisement--

पुलिस ने एनआरआई की बच्ची को ढूंढा एसडीएम ने किया मामा-मामी के हवाले

भास्कर संवाददाता | होशियारपुर कनाडा की महिला अमरजीत कौर ने 29 मार्च को एसएसपी दफ्तर में शिकायत दी थी कि उसके भारत...

Dainik Bhaskar

Apr 02, 2018, 02:30 AM IST
भास्कर संवाददाता | होशियारपुर

कनाडा की महिला अमरजीत कौर ने 29 मार्च को एसएसपी दफ्तर में शिकायत दी थी कि उसके भारत में रह रहे भाई-भाभी ने उसकी 9 साल की बेटी उसके पूर्व पति को सौंप दी है जिसे उसको वापस दिलवाया जाए। एसएसपी दफ्तर ने यह शिकायत एनआरआई थाना भेजी। यहां एसआई राजविंदर सिंह ने बच्ची को ढूंढ एसडीएम के आगे पेश कर अमरजीत के भाई-भाभी को सौंप दिया है।

एसआई राजविंदर सिंह ने बताया कि अमरजीत कौर का पति जगजीत सिंह से 2012 में तलाक हो गया था। उनके दो बच्चे हैं। कनाडा की अदालत ने बेटी को मां के साथ और बेटे को बाप के साथ रहने का हक दिया है। विदेश में अकेली होने के कारण अमरजीत बेटी जसकीरत कौर को भारत में भाई रशपाल के पास छोड़ गई। अमरजीत ने पुलिस को बताया था कि 25 मार्च को उसकी भाभी ने फोन पर बताया कि उसकी बेटी को अमरजीत का पूर्व पति ले गया है। इस पर अमरजीत ने भारत आकर पुलिस को शिकायत दी। एसआई राजविंदर सिंह ने मामले की जांच करते हुए इसे एसडीएम जतिंदर जोरावर के ध्यान में लाया गया। एसडीएम ने बच्ची की तलाश कर उनके समक्ष पेश करने का आदेश दिया। इस पर पुलिस अमरजीत के पूर्व पति के पुश्तैनी गांव ढेरिया जिला जालंधर गई जहां उनका पूर्व पति नहीं मिला लेकिन उनके परिवार ने बच्ची को एसडीएम जतिंदर जोरावर के समक्ष पेश किया। जहां बच्ची के बयान दर्ज किए गए और उसके आधार पर बच्ची को उसके मामा-मामी रशपाल सिंह और रुपिंदर कौर को जिनके खिलाफ उक्त एनआरआई अमरजीत कौर ने शिकायत की उनको सौंपा दिया।

बच्ची को मां के पास रहने का हक कनाडा में मिला, यहां नहीं : एसडीएम

एसडीएम के आर्डर पर एनआरआई थाने की पुलिस ने बच्ची को उसके मामा मामी को सौंप दिया। एसडीएम जतिंदर जोरावर ने बताया कि अमरजीत के पास जसकीरत कौर को रखने का हक सिर्फ कनाडा अदालत ने वहां दिया है भारत में नहीं। जब उसका पूर्व पति भारत आकर जसकीरत कौर को ले गया तो उन्होंने आर्डर जारी किया था कि बच्ची जिस जगह और जिसके पास रह रही थी उसके ही सुपुर्द की जाए। जसकीरत ने अपने बयानों में कहा कि वह मामा-मामी के पास रहना चाहती है। इसके बाद जसकीरत उनको सौंप दी गई। अगर अमरजीत कौर बेटी को अपने पास रखना चाहती है तो भारतीय अदालत में केस लगा सकती है।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..