गेहूं-धान की कटाई के बाद किसान सट्‌ठी मूंगी या सट्‌ठे माह की काश्त कर सकते हैं : सतनाम सिंह

Hoshiarpur News - सोमवार को विश्व दाल दिवस मनाने के संबंध में ब्लॉक खेतीबाड़ी और किसान भलाई विभाग दफ्तर टांडा ने मुख्य खेतीबाड़ी...

Feb 11, 2020, 08:26 AM IST
Tanda News - after harvesting of wheat and paddy farmers can cultivate satthi coral or satthe month satnam singh

सोमवार को विश्व दाल दिवस मनाने के संबंध में ब्लॉक खेतीबाड़ी और किसान भलाई विभाग दफ्तर टांडा ने मुख्य खेतीबाड़ी अफसर होशियारपुर विनय कुमार के दिशा निर्देश और खेतीबाड़ी अफसर सतनाम सिंह की अगुवाई में गांव खोखर में किसान सिखलाई कैंप लगाया। कैंप में सतनाम सिंह ने दालों की मनुष्य सेहत में महत्वता संबंधी बताते हुए कहा कि गेंहू-धान की फसल की कटाई के बाद किसान अपने खाली हुए खेतों में सरकार की ओर से प्रमाणित सट्ठी मूंगी यां सट्ठे माह की किस्मों की काश्त कर सकते हैं। इसके साथ किसान अपनी आमदन में बढ़ोतरी कर सकते हैं। किसानों को फसली विभिन्नता अपनाते हुए गेंहू-धान के बदल के तौर पर सावन रुत में मांह, मूंगी, सोयाबीन आदि और हाड़ी में छोले और मसरों की काशत करनी चाहिए। इस मौके हरप्रीत सिंह खेतीबाड़ी विकास अफसर टांडा ने किसानों को गेहूं की फसल पर होने वाली बिमारियों और कीड़ों के हमले और उनकी रोकथाम की जानकारी दी। गुरमीत सिंह खेतीबाड़ी विस्तार अफसर टांडा और सरबजीत सिंह एटीएम टांडा ने चूहों की ओर से फसल के होने वाले नुकसान और उनको काबू करने के तरीकों की जानकारी दी। कैंप में मूंगी की काशत करने के लिए चाहवान किसानों को मूंगी की छोटी किटों भी बांटी गई। इस मौके जसपाल सिंह खेतीबाड़ी विस्तार अफसर, हरिंदर सिंह खेतीबाड़ी उप निरीखक, पवनदीप सिंह, राजवीर सिंह, गुरदियाल सिंह, जुगराज सिंह आदि किसान उपस्थित थे।

जागरूकता कैंप के दौरान खेतीबाड़ी अफसर व अन्य।

X
Tanda News - after harvesting of wheat and paddy farmers can cultivate satthi coral or satthe month satnam singh

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना