नशे की ओवरडोज...बाइक पर ऐसा लुढ़का फिर उठ न पाया

Hoshiarpur News - मुकेरियां उपचुनाव में मुद्दा बना चिट्‌टा भास्कर संवाददाता | होशियारपुर/हाजीपुर नशा जानें ले रहा है और...

Oct 13, 2019, 07:46 AM IST
मुकेरियां उपचुनाव में मुद्दा बना चिट्‌टा

भास्कर संवाददाता | होशियारपुर/हाजीपुर

नशा जानें ले रहा है और नौजवान इससे सबक नहीं ले रहे। अब विधानसभा हलका मुकेरियां के गांव ढाडेकटवाल के एक नौजवान की नशे की ओवरडोज से मौत हो गई। मृतक की पहचान जसविंदर सिंह (31) पुत्र सुखदेव सिंह के रूप में हुई है। गांव के लोगों के अनुसार युवक लंबे समय से नशे का आदी था और नशा नहीं छोड़ रहा था। वहीं, पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। शनिवार सुबह ढाडेकटवाल के जसविंदर सिंह की गांव निक्कूवाल में मुकेरियां हाइडल नहर की पटड़ी पर सुनसान एरिया में मौत हो गई। लोगों के अनुसार वह ओवरडोज लेकर मोटरसाइकिल पर बैठा था और बैठा ही रह गया। इससे पहले भी जुगियाल के युवक इसी जगह नशे की ओवरडोज से मौत हो चुकी है।

बताया जा रहा है कि इस सुनसान इलाके में कई लोग नशा करते देखे गए हैं। लोगों का कहना है कि यहां चिट्टा जोरों से बिक रहा है। बता दें कि जसविंदर का बड़ा भाई पुर्तगाल में है। जसविंदर पिता के साथ खेतीबाड़ी करता था। वहीं, ढाडेकटवाल में एक जलसे को संबोधित कर रही कांग्रेस उम्मीदवार इंदू बाला से पूछने पर उन्होंने कहा कि यह जांच का विषय है। पुलिस की जांच में ही पता चलेगा कि युवक की मौत नशे से हुई या किसी और वजह से।


इसी नहर किनारे पहले भी एक युवक की हो चुकी है मौत

चिट्‌टे के लिए बदनाम है हिमाचल से सटा इलाका

मुकेरियां हलके का एक हिस्सा हिमाचल से लगता है। इस वजह से दोनों राज्यों के नशा तस्कर मिलकर पंजाब के हिस्से में चिट्टे की तस्करी कर रहे हैं। क्योंकि, हिमाचल में भी तस्करों पर पुलिस की ढीली पकड़ है। हिमाचल-पंजाब बॉर्डर पर सख्ती न होने से हिमाचल के तस्कर आराम से पंजाब में चिट्टा बेचकर लौट जाते हैं। इस इलाके का गांव लाहन पहले देसी शराब के लिए मशहूर था, जो अब चिट्टे के लिए बदनाम है। लोगों के अनुसार दोनों राज्यों की पुलिस की मिलीभगत से यह सब चल रहा है। हालांकि, इस इलाके में चिट्टे को लेकर दोनों राज्यों के पुलिस अधिकारी मीटिंगें कर चुके हैं।

चुनाव के चलते इलाके में नशा बांटे जाने की चर्चा

वहीं, उपचुनाव के चलते नशा बांटे जाने की भी चर्चा है। सूत्रों के मुताबिक हलका मुकेरियां में पुलिस को नशा तस्करों के मामले में हाथ नरम रखने की हिदायतें हैं ताकि ऐसे मामले सामने आने से सरकार की बदनामी न हो सके।

एसएचओ का अजीब जवाब- युवक परेशान था, इसलिए खुदकुशी कर ली

इलाके के लोगोें के अनुसार जसविंदर सिंह की मौत नशे की ओवरडोज से हुई है। चश्मदीदों के मुताबिक वहां कुछ सीरिंजें भी पड़ी थीं। जब एसएचओ हाजीपुर लोमेश कुमार से बात की तो उन्होंने कहा-घरवालों के मुताबिक जसविंदर बाहर जाना चाहता था। काम न बनने से मानसिक तौर पर परेशान था। इस कारण खुदकुशी कर ली है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना