Hindi News »Punjab »Hoshiarpur» सामूहिक रूप से त्यौहार मनाने से बढ़ती हैं खुशियां : पार्षद तलवाड़

सामूहिक रूप से त्यौहार मनाने से बढ़ती हैं खुशियां : पार्षद तलवाड़

होशियारपुर| हर त्यौहार को मनाने के पीछे एक गंभीर मकसद छिपा होता है और अगर यह त्यौहार हम उस मकसद को ध्यान में रख कर...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 17, 2018, 02:15 AM IST

सामूहिक रूप से त्यौहार मनाने से बढ़ती हैं खुशियां : पार्षद तलवाड़
होशियारपुर| हर त्यौहार को मनाने के पीछे एक गंभीर मकसद छिपा होता है और अगर यह त्यौहार हम उस मकसद को ध्यान में रख कर पारंपरिक तरीके से मनाएं तो आने वाली पीढ़ियों को इसका लाभ मिलता है, ऐसा ही मकसद बैसाखी के त्यौहार में छिपा है। यह बात पार्षद नीति तलवाड़ ने बैसाखी के त्यौहार को सखियों सहित पारंपरिक तरीके से मनाने के मौके करवाए समारोह में कही। पार्षद तलवाड़ ने कहा कि बैसाखी का त्यौहार पंजाबियों के लिए विशेष महत्ता रखता है। इस दिन एक और श्री गुरु गोबिंद सिंह जी ने खालसा पंथ की सृजना कर देश और देशवासियों की रक्षा का प्रण लिया था, तो दूसरी और किसान की खून पसीने की कमाई सोने जैसी गेंहूं की फसल कटने के लिए तैयार हो जाती है।

गेहूं की लहलहाती फसल की पूजा अर्चना करने के के बाद बैसाखी के पर्व को मनाते हुए पार्षद तलवाड़ ने कहा कि पंजाब और पंजाबियत हमेशा ही विश्व शांति की कामना करते आए हैं। उन्‍होंने कहा कि इसके साथ साथ पंजाब का किसान साल भर की मेहनत व रातों की तपस्या का दर्द उस समय भूल जाता है, जब लहलहाती फसल प्रभु के आशीर्वाद से सोने जैसी दिखने लग पड़ती है। इस मौके पर गिद्दे व भंगड़े के साथ बैसाखी के आगमन का स्वागत किया। समारोह में भाजपा ओबीसी सैल की प्रदेश सचिव सुरिंदर कौर, जिला उपाध्यक्ष सरबजीत कौर, जिला उपाध्यक्ष सुषमा सेतिया, कमलजीत कौर, रजनी तलवाड़, प्रिया सैनी, डोली शर्मा, कृष्णा थापर, बलवीर कौर मेहता, मंजीत कौर, हिमानी, कमलेश सैनी, मोनिका उप्पल, नीतू थापर, सोनल सैनी व रजनी कुमारी मौजूद थी।

पारंपरिक तरीके से मनाया बैसाखी का त्यौहार

बैसाखी का त्यौहार मनाती पार्षद नीति तलवाड़ व अन्य। -भास्कर

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Hoshiarpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×