• Hindi News
  • Punjab
  • Hoshiarpur
  • जिले की 62 मंडियों में सिर्फ 50% गेहूं की लिफ्टिंग, 1.5 लाख मीट्रिक टन खुले में पड़ी, आज बारिश और ओलावृष्टि के आसार
--Advertisement--

जिले की 62 मंडियों में सिर्फ 50% गेहूं की लिफ्टिंग, 1.5 लाख मीट्रिक टन खुले में पड़ी, आज बारिश और ओलावृष्टि के आसार

Hoshiarpur News - भास्कर संवाददाता | होशियारपुर जिले की 62 मंडियों से गेहूं की मात्र 50 फीसदी ही लिफ्टिंग हो पाई है और ऊपर से मौसम...

Dainik Bhaskar

May 03, 2018, 02:30 AM IST
जिले की 62 मंडियों में सिर्फ 50% गेहूं की लिफ्टिंग, 1.5 लाख मीट्रिक टन खुले में पड़ी, आज बारिश और ओलावृष्टि के आसार
भास्कर संवाददाता | होशियारपुर

जिले की 62 मंडियों से गेहूं की मात्र 50 फीसदी ही लिफ्टिंग हो पाई है और ऊपर से मौसम करवट बदल रहा है। बुधवार दोपहर को जब मौसम खराब हुआ तो गेहूं बचाने के लिए मंडियों में किसानों और आढ़तियों की दौड़ लगती नजर आई। होशियारपुर मंडी में गेहूं बोरियों को ढक दिया गया लेकिन बहुत सी बोरियां खुले आसमान के नीचे ही पड़ी नजर आई। गनीमत रही कि हलकी बूंदाबांदी के बाद बारिश रुक गई। बता दें कि प्रशासन से मिली जानकारी के मुताबिक जिले की 62 मंडियों में मंगलवार तक 2,74,594 मीट्रिक टन गेहूं की आमद हुई है और इस सारे गेहूं को खरीद लिया गया है। इसमें में अब तक 1,21,131 मीट्रिक टन गेहूं की लिफ्टिंग हो चुकी है जबकि 1,53,463 मीट्रिक टन गेहूं अभी मंडियों में पड़ी है। वहीं, होशियारपुर खेतीबाड़ी विभाग ने अगले 24 घंटे में भारी बारिश की संभावना जताई है। गेहूं की लिफ्टिंग को लेकर प्रशासन भी चिंतित है। डीसी विपुल उज्ज्वल बुधवार को खरीद एजेंसियों और आढ़तियों से मीटिंग कर चुके हैं।

बुधवार दोपहर को मौसम खराब हुआ तो गेहूं बचाने के लिए आढ़तियों और किसानों की लगी दौड़

बारिश का मौसम बनता देख घर से तिरपाल लेकर आते किसान।

बूंदाबांदी शुरू होते ही गेहूं की बोरियों पर तिरपाल डालते मजदूर। (दाएं) फसल को ढंकने के लिए तिरपाल लेकर भागता मजदूर।

मंडियों में बारदाने की कमी, किसान परेशान

मंडी में गेहूं लेकर आए गांव जट्टपुर के मलकीत सिंह ने बताया कि आढ़ती ने कहा कि बारदाना नहीं है, इसलिए कुछ देर इंतजार करना होगा। वह सुबह से बैठे हैं। इस दौरान बूंदाबांदी शुरू हो गई जिससे उनके मन में डर भी आया लेकिन बारिश रुक गई। बारिश से बचाव के लिए वह घर से ही बड़ी-बड़ी तिरपालें लाते है। वहीं, गांव बागपुर के किसान अमरीक सिंह, जोगिंदर, दुर्गा दास ससोली, जसवीर सिंह ने बताया कि वह मंगलवार को गेहूं की फसल लेकर आए थे लेकिन बारदाना नहीं होने की वजह से उनको दूसरे दिन तक रुकना पड़ा।

कमी दूर करेंगे : हरजिंदर

मार्केट कमेटी होशियारपुर के अधिकारी हरजिंदर सिंह ने बताया कि इस बार पिछले साल के मुकाबले 10 प्रतिशत गेहूं की आमद ज्यादा होने की उम्मीद है। इस बार फसल की कटाई में एकदम तेजी आने की वजह से बारदाने को लेकर कुछ समस्य आ रही है, वह इसे दूर करने की पूरी कोशिश कर रहे हैं।

खेतों में अब मात्र 10 फीसदी गेहूं बची : खेतीबाड़ी अफसर

खेतीबाड़ी अफसर दलजीत सिंह ने बताया कि गेहूं काटने का 90 प्रतिशत काम समाप्त हो गया है। 10 फीसदी किसान बचे हैं जो फसल हाथ से काटना चाहते हैं। उन्होंने बताया कि आने वाले 24 घंटे में दोआबा में बारिश और ओलावृष्टि के साथ तेज आंधी आ सकती है।

जिले की 62 मंडियों में सिर्फ 50% गेहूं की लिफ्टिंग, 1.5 लाख मीट्रिक टन खुले में पड़ी, आज बारिश और ओलावृष्टि के आसार
जिले की 62 मंडियों में सिर्फ 50% गेहूं की लिफ्टिंग, 1.5 लाख मीट्रिक टन खुले में पड़ी, आज बारिश और ओलावृष्टि के आसार
X
जिले की 62 मंडियों में सिर्फ 50% गेहूं की लिफ्टिंग, 1.5 लाख मीट्रिक टन खुले में पड़ी, आज बारिश और ओलावृष्टि के आसार
जिले की 62 मंडियों में सिर्फ 50% गेहूं की लिफ्टिंग, 1.5 लाख मीट्रिक टन खुले में पड़ी, आज बारिश और ओलावृष्टि के आसार
जिले की 62 मंडियों में सिर्फ 50% गेहूं की लिफ्टिंग, 1.5 लाख मीट्रिक टन खुले में पड़ी, आज बारिश और ओलावृष्टि के आसार
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..