--Advertisement--

मामा ने सगे भांजे पर चला दी 4 गोलियां, दो गोली पैर, एक-एक गोली छाती और बाजू में लगी

हाथापाई हुई तो पगड़ी उतरने से था नाराज।

Dainik Bhaskar

Apr 17, 2018, 05:48 AM IST
जख्मी सतविंदर सिंह। जख्मी सतविंदर सिंह।

होशियारपुर(लुधियाना). शहर की दाना मंडी में सोमवार शाम 4:20 बजे तकरार के बाद मंडी के ठेकेदार ने अपने ही भांजे पर गोलियां बरसा दीं। भांजे को पहले सिविल अस्पताल ले जाया गया, जहां उसकी गंभीर हालात को देखते हुए उसे प्राइवेट अस्पताल में शिफ्ट किया गया, लेकिन हालात अधिक गंभीर होने के कारण अब उसे लुधियाना के डीएमसी रेफर कर दिया गया है। पीड़ित को 4 गोलियां लगी हैं, दो गोली पैर में, जबकि एक-एक गोली छाती पर और एक गोली उसकी बाजू से लग कर निकल गई। तीन गोलियां अभी भी उसके शरीर में हैं। ये था मामला...

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार गोलीबारी की वजह एक महिला बताई जा रही है। जानकारी के अनुसार दाना मंडी के एंट्री और पार्किंग का ठेका गांव पंडोरी बीबी के रहने वाले परमजीत सिंह पम्मा के पास है। वह अपने सगे भांजे सतविंदर सिंह उर्फ घुगा के साथ काम करता था। वारदात से पहले रहीमपुर चौक गेट के पास पम्मा अपने भांजे के साथ बैठा था, दोनों में किसी बात को लेकर तकरार हो गई और नौबत हाथापाई पर उतर आई। इस दौरान भांजे ने पम्मे को पटक दिया। पगड़ी उतरने से पम्मा नाराज हो गया और उसने रिवाल्वर से सतविंदर पर गोलियां दागनी शुरू कर दीं। घटना को अंजाम देकर परमजीत सिंह मौके से अपनी गाड़ी से फरार हो गया। पुलिस सूत्रों के मुताबिक वह चंडीगढ़ की ओर निकला है और उसके फोन की लास्ट लोकेशन जैतपुर चब्बेवाल के पास पाई गई।

लड़ाई की वजह पैसा या महिला अभी साफ नहीं

चश्मदीदों और पुलिस सूत्रों के मुताबिक लड़ाई की वजह पिपलांवालां गांव की एक महिला है। इसी महिला को लेकर ही मामा और भांजे में तकरार हुई जिसके चलते गोलीबारी हुई। वहीं, कुछ लोगों का यह भी कहना है कि पैसों के लेनदेन को लेकर भी बात चली थी और सतविंदर सिंह अपने मामा पम्मा से पैसे भी मांग रहा था। अस्पताल में मौके पर पहुंचे सतविंदर सिंह के एक रिश्तेदार कुलविंदर सिंह ने भी इस बात की पुष्टि की है कि लड़ाई की मेन वजह एक महिला है, जिसे लेकर बात गोलीबारी तक पहुंची।

पहले कत्ल के मामले आ चुका है पम्मा का नाम

इससे पहले भी परमजीत सिंह उर्फ पम्मा का नाम होशियारपुर के एक बहुचर्चित टोल प्लाजा मर्डर कांड में भी सामने आया था। 1 जून 2010 को हुई इस घटना में शिव लाल बावा जो फलाही का रहने वाला था, उसकी हत्या हुई थी लेकिन बाद में पुलिस जांच में पम्मा का नाम केस से बाहर हो गया था। इसके अलावा भी पम्मा पर कई अन्य आपराधिक मामले दर्ज हैं।

जल्दी करेंगे मामला दर्ज: एसएसपी

एसएसपी होशियारपुर जे ईलनचेजियन ने बताया कि सतविंदर सिंह के गोलियां लगी हैं। उसकी हालत गंभीर है। कहा उनकी पहली कोशिश यह होगी कि सतविंदर के बयान पर ही मामला दर्ज हो। जब उनसे महिला संबंधी पूछा गया तो उन्होंने कहा कि मामले की जांच चल रही है और इस वक्त कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी।

फरार मामा फरार मामा
जांच करते एसएसपी और पुलिस अधिकारी। जांच करते एसएसपी और पुलिस अधिकारी।
X
जख्मी सतविंदर सिंह।जख्मी सतविंदर सिंह।
फरार मामाफरार मामा
जांच करते एसएसपी और पुलिस अधिकारी।जांच करते एसएसपी और पुलिस अधिकारी।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..