भगवान वाल्मीकि मंदिर में निशान साहिब के रंग को लेकर दो धड़ों में हुआ तनाव

Hoshiarpur News - स्थानीय बुड्‌ढावड़ चौक स्थित भगवान वाल्मीकि महाराज जी के मंदिर में प्रकाशोत्सव के उपलक्ष्य में होने वाले...

Oct 13, 2019, 07:45 AM IST
स्थानीय बुड्‌ढावड़ चौक स्थित भगवान वाल्मीकि महाराज जी के मंदिर में प्रकाशोत्सव के उपलक्ष्य में होने वाले कार्यक्रम से पहले ही वाल्मीकि समाज के बन चुके 2 धड़ों में चढ़ाए जाने वाले निशान साहिब के रंग को लेकर स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है। एसडीएम मुकेरियां ने कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए कमेटी गठित की है, जो धार्मिक आयोजन की देखरेख करेगी और शांति बहाल करने का काम करेगी। तब तक के मंदिर में चढ़ाए जाने वाले निशान साहिब के कार्यक्रम पर रोक लगा दी है। आदि धर्म समाज के लोग निशान साहिब रंग नीला चाहती है, जबकि, दूसरे धड़े के लोग रंग भगवां लगाने के लिए अड़े हुए हैं। इसके चलते मंदिर परिसर में 4 दिन से पुलिस तैनात कर प्रशासन ने आयोजन को स्थगित करवाया है। आधस के राजीव सिद्धू का कहना था कि वर्षों से महाराज वाल्मीकि जी के प्रकाशोत्सव पर निशान साहिब नीले रंग का ही चढ़ाया जा रहा है पर मंदिर के पूर्व प्रधान सतीश लाडी ने मंदिर में दूसरे निशान साहिब का निर्माण करवा, उस पर भगवां रंग चढ़ाने का पहली बार निर्णय लिया है, जिसे आदि धर्म समाज के लोग नहीं लगने देंगे। अगर वह निशान साहिब नीले रंग का चढ़ाएंगे तो कोई एतराज नहीं होगा।

वहीं, सतीश लाडी का कहना था कि पहले वही मंदिर के प्रधान थे और आधस के लोगों ने उन्हें बुलाए बगैर मंदिर कमेटी का प्रधान नया चुन लिया। जबकि यहां उनकी ओर से भगवान वाल्मीकि वेल्फेयर सोसायटी को रजिस्टर्ड करवाया गया है। जब नए और ऊंचे निशान साहिब को बनाने का निर्माण शुरू करवाया तो किसी ने नहीं रोका। बल्कि, एसडीएम कार्यालय मुकेरियां में बैठकर राजीनामा भी हुआ था कि दोनों पक्षों के लोग अपना- अपना निशान साहिब चढ़ाकर अलग-अलग तिथियों में प्रकाशोत्सव पर धार्मिक आयोजन करेंगे। पर बाद में आधस ने निशान साहिब के रंग को लेकर विवाद कर दिया। उनके निशान साहिब के निर्माण को रुकवा दिया। जबकि, हमारी सोसायटी के निशान साहिब का रंग भगवां ही होता है तो वह नीला का क्यों लगाएं।दोनों पक्षों में तनावपूर्ण स्थिति को देखते हुए शनिवार को नायब तहसीलदार गुरसेवक, बीडीपीओ, कानूनगो, एसएचओ हाजीपुर भारी पुलिस बल के साथ मंदिर परिसर में तैनात रहे। खबर लिखे जाने तक स्थिति तनावपूर्ण ही बनी हुई थी।

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना