पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Jalandhar News 100 500 500 Fake 500 Rupees Note Bought 5 Got Caught

10000 में 500 के 125 नकली नोट खरीदकर लाए, चलाने आए 5 पकड़े

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
थाना भार्गव कैंप की पुलिस ने 500-500 के 14 नकली नोट बरामद कर पांच दोस्त पकड़े हैं। आरोपियों में दो सगे भाई हैं। पुलिस ने कोट सदीक के राहुल, उसके भाई जसपाल, बस्ती शेख के तेलियां मोहल्ला के मुनीश भगत, बस्ती शेख के गुलबिया मोहल्ला के आकाश और मनजीत नगर के रोहित भाटिया को अदालत में पेश कर रिमांड पर लिया है। थाना भार्गव कैंप में इस बाबत केस दर्ज किया गया है। पुलिस नकली नोट की सप्लाई देने वाले युवक विशु की तलाश कर रही है।

डीसीपी गुरमीत सिंह ने बताया कि एसएचओ सुखदेव सिंह को सूचना मिली थी कि तीन युवक नकली नोट चलाने के लिए उनके एरिया में आ रहे हैं। एसएचओ की सुपरविजन में एएसआई अजय पाल सिंह ने अपनी टीम के साथ न्यू मॉडल हाउस एरिया में ट्रैप लगाकर राहुल, उसके भाई जसपाल और मुनीश को उस समय पकड़ लिया, जब वे एक बाइक पर आ रहे थे। इनकी तलाशी ली गई तो 500-500 के 7 नकली नोट मिले। आरोपी दस हजार के नकली नोट 2500 रुपए में खरीद कर लाए थे यानी 125 रुपए में 500 रुपए का एक नकली नोट।

प्राथमिक पूछताछ में यह बात सामने आई कि राहुल ने उक्त नोट आकाश और रोहित भाटिया से लिए थे। डीसीपी ने कहा कि आकाश और रोहित को भी पकड़ लिया। इनसे भी 7 नकली नोट मिले। पूछताछ में खुलासा हुआ कि राहुल लुटेरा था और नशे के केस में पकड़ा गया था। उसने नशे के केस में दस साल की कैद हो गई थी। हाईकोर्ट में सजा के खिलाफ अपील करने के कारण उसे बेल मिल गई थी।

बेल पर आने पर उसकी दोस्ती रोहित भाटिया और आकाश से हो गई थी। सभी अमीर बनना चाहते थे। इस बीच तीन दिन पहले रोहित और आकाश की मुलाकात बस्ती बाबा खेल नगर के पास विशु से हुई थी। विशु ने इन्हें 2500 रुपए में दस हजार के नकली नोट दिए थे।

नोट लेने के बाद दोनों ने मुनीश और राहुल से बात की। राहुल लालच में आ गया और उसने बड़े भाई को भी जल्द अमीर बनाने के लिए शॉर्टकट बताया।

आरोपियों में दो सगे भाई, छोटा भाई बेल पर आया और बड़े को लालच देकर बना लिया हिस्सेदार
आरोपियों के बारे जानकारी देते थाना भार्गव कैंप के मुलाजिम। -भास्कर

7 नोट चलाने के लिए दिए, 6 हो गए थे बरसात में खराब... रोहित ने कहा कि उक्त लोगों को 7 नोट दिए थे कि वे किसी तरह बाजार में चला कर आएं पर 6 नोट बारिश में खराब हो गए। इतवार को नोट चलाने के लिए राहुल, जसपाल और मुनीश को भेजा था। पुलिस ने रोहित और आकाश की उक्त जगह की निशानदेही करवाई। यहां पर वह विशु से नोट लेकर आए थे। डीसीपी ने कहा कि विशु को पकड़ने की कोशिश की जा रही है।

3 पंचायतों को आया सरकारी नौकरी का लेटर लोगों ने ड्राफ्ट जमा कराए, कंपनी फ्रॉड निकली
कंपनी के दफ्तर में फोन करने पर हुआ खुलासा, किसी ने रिसीव नहीं की काॅल
भास्कर न्यूज | जालंधर

शहर से सटे 3 गांवों बल्लां, ब्यास, गाजीपुर के नौजवानों के साथ एक कंपनी ने फ्रॉड किया है। पहले कनक इंटरप्राइजेस नाम की इस कंपनी के लेटर गांव की पंचायतों को मिले, जिनमें ग्राम विकास रोजगार योजना का हवाला देकर कहा गया था कि हर गांव में 3 लोगों को प्रति महीना 18,500 रुपए सैलरी पर सरकारी नौकरी दी जानी है। इसके लिए आवेदकों को दिल्ली में ड्राफ्ट भेजना होगा।

तीनों गांवों के 20 के करीब युवाओं ने 1200-1200 रुपए के बैंक ड्राफ्ट भेज दिए। लेकिन जब उन्हें कंपनी की तरफ से कोई काॅल नहीं आई तो उन्होंने इंटरनेट पर आॅनलाइन कंपनी का नाम देख कर वहां पर उपलब्ध लैंड लाइन नंबरों पर फोन किया लेकिन वहां भी किसी ने काॅल रिसीव नहीं की। इसके बाद पंचायत विभाग के दफ्तर के स्टाफ से ग्राम विकास रोजगार योजना के बारे में पूछताछ की गई तो यहां से पता लगा कि पंजाब सरकार ने ऐसी कोई योजना शुरू ही नहीं की है। पंचायतों का कहना है कि उनकी तरह और भी कितने ही गांवों के लोग इन ठगों का शिकार जरूर बने होंगे।

बल्लां, ब्यास और गाजीपुर से भेजे ड्राफ्ट, बीडीओ से गांववालों ने पता किया तो पता लगा कि सरकार की ऐसी कोई स्कीम नहीं
बेटा बेरोजगार है, काम पर लगवाने के लिए पंचायत ने लेटर दिया था : मनजीत
गांव गाजीपुर की पंचायत के पंच मनजीत सिंह ने बताया कि उनकी पंचायत को लेटर आई, जिसमें लिखा था कि ग्रामीण शिक्षित युवकों को रोजगार देने के लिए पंजाब सरकार ने ग्राम विकास रोजगार योजना शुरू की है। सरपंच ने उनसे अपने बेरोजगार बेटे को नौकरी दिलाने के लिए कहा। मनजीत ने कहा कि उन्होंने 1200 रुपए का कंपनी के नाम पर ड्राफ्ट जमा करवा दिया ताकि बेटे की 18,500 रुपए प्रतिमाह सैलरी लग जाए। उन्हें शक हुआ कि अगर पंजाब सरकार नौकरी आदि के लिए स्कीम लांच करती है तो लेटर पंजाबी में ही आती। उन्होंने बीडीपीओ दफ्तर में आकर अधिकारी से बात की तो फ्राॅड का पता लगा। उन्होंने बताया कि उनके गांव से करीब 10 युवकों ने ड्राफ्ट जमा करवाए हैं।

जानिए...सरकारी स्कीमों के नाम पर फ्राॅड कैसे-कैसे
रेलवे में नौकरी दिलाने के नाम पर सूटेड-बूटेड ठग घूमने लगे थे। अब रेलवे ने एडवाइजरी जारी करके कहा है, उसने ऐसी कोई योजना शुरू नहीं की गई है। नीले कार्ड बनाने के नाम पर ठग 500 से 1000 रुपए तक फीस ले लेते थे। डीसी वरिंदर शर्मा ने स्टेटमेंट जारी करके कहा था कि ऐसी कोई योजना नहीं है। घर-घर नौकरी देने के नाम पर सिटी स्टेशन के सटे इलाकों में लोगों ने ठग पकड़े थे। बीएसएफ में भर्ती की ठगी हुई तो जालंधर बीएसएफ हेडक्वार्टर के सामने लिखकर लगाया गया था कि एेसे लोगों से बचकर रहें।

फ्राॅड से बचिए

पंजाब या केंद्र सरकार किसी भी तरह की नौकरी की भर्ती के लिए प्राइवेट कंपनियों की नियुक्ति नहीं करती। सारी भर्तियां सरकारी विभाग की परीक्षा और भर्ती आयोग के जरिये होती है।

लेटर में लिखीं नियुक्ति और योग्यताओं की शर्तें
ग्राम विकास रोजगार योजना के तहत आपकी ग्राम पंचायत के सभी गांवों से तीन-तीन व्यक्तियों की इस पर नियुक्त किया जाए। ग्राम सेवा प्रतिनिधि को सरकार की उपलब्धियों, सरकारी योजनाओं, शहरी एवं ग्रामीण लघु उद्योगों एवं पशु पालन आदि की जानकारी ग्राम पंचायत को देनी होगी। ग्राम के कोई भी तीन उम्मीदवार ग्राम सेवा प्रतिनिधि के पद के लिए आवेदन कर सकते हैं। योजना के अंतर्गत ग्राम सेवा प्रतिनिधि का वेतन 18500 रुपए निर्धारित किया गया है। आवेदन पत्र मिलने के 15 दिन में करना होगा। उम्र कम से कम 18 और ज्यादा से ज्यादा 37 साल होनी चाहिए, अनुसूचित जाति के आवेदकों को 5 साल की छूट है। इसके अलावा शिक्षा की भी शर्त रखी गई है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज परिवार के साथ किसी धार्मिक स्थल पर जाने का प्रोग्राम बन सकता है। साथ ही आराम तथा आमोद-प्रमोद संबंधी कार्यक्रमों में भी समय व्यतीत होगा। संतान को कोई उपलब्धि मिलने से घर में खुशी भरा माहौल ...

और पढ़ें