जालंधर

--Advertisement--

मोबाइल गड्डे में गिरा तो 4 साल का मासूम निकल पड़ा ढूंढने, फिर उसी गड्डे से 16 घंटे बाद निकली लाश

तीन साल में दूसरा बेटा खोया, पहली पत्नी ने तांत्रिक के चक्कर में आकर कर दिया था कत्ल

Dainik Bhaskar

Jun 14, 2018, 08:10 AM IST
इस गड्डे में डूबा था बच्चा, मृतक आकाश इस गड्डे में डूबा था बच्चा, मृतक आकाश

जालंधर. घर के पास देर शाम मोबाइल ढूंढते हुए पानी भरे गड्डे में गिरे 4 साल के आकाश की लाश 16 घंटे बाद बाहर निकाली गई। पुलिस ने 174 की कार्रवाई कर शव परिजनों को सौंप दिया है। मंगलवार देर शाम सात बजे के करीब बच्चे के पिता मनदीप और माता आपस में मोबाइल पानी भरे गड्डे में गिर जाने की बात कर रहे थे। बच्चे ने उनकी बात को सुन लिया और खुद ही छप्पड़ के किनारे मोबाइल को ढूंढने लगा। इस दौरान वह छप्पड़ में गिर गया। इसका पता मां-बाप को नहीं चला। लोगों की मदद से बच्चे को काफी देर तक ढूंढा लेकिन कुछ पता नहीं चल पाया। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई।

तलाश के दौरान गांव के पानी भरे गड्डे के पास बच्चे की चप्पलें मिलीं तो मौके पर ट्रैक्टरों की मदद से बुलाए गए गोताखोरों ने ढूंढना शुरू किया। 16 घंटे की तलाश के बाद बुधवार सुबह 11 बजे के करीब गांव के पानी भरे गड्डे से बच्चे की लाश मिल गई है।

तांत्रिक के चक्कर में आकर कर दिया था कत्ल

- मनदीप सिंह ने तीन साल में अपना दूसरा बेटा खो दिया।

- जानकारी के अनुसार लगभग तीन साल पहले मनदीप के एक बेटे का हरिद्वार के पास तांत्रिक के कहने पर पहली पत्नी ने अन्य दो साथियों के साथ मिलकर कत्ल कर दिया था।

- पुलिस ने उस समय मनदीप की पहली पत्नी को उसके दो साथियों को गिरफ्तार किया था।

- कोर्ट ने तीनों को सजा सुनाई थी। तीनों आरोपी संगरूर जेल में सजा काट रहे हैं।

पिता बेटे की लाश के पास विलाप करते हुए। पिता बेटे की लाश के पास विलाप करते हुए।
X
इस गड्डे में डूबा था बच्चा, मृतक आकाशइस गड्डे में डूबा था बच्चा, मृतक आकाश
पिता बेटे की लाश के पास विलाप करते हुए।पिता बेटे की लाश के पास विलाप करते हुए।

Related Stories

Click to listen..