--Advertisement--

पिता ने कहा-शादी में जाने ही वाले थे कि दोस्त ले गया बाहर, आई मौत की खबर

खुशी का माहौल गम में बदला, किसी और के जमीनी विवाद में मारा गया दोस्त के साथ गया फौजी।

Dainik Bhaskar

Nov 30, 2017, 05:57 AM IST
15 minutes after the news of death

बरनाला. जिले के थाना टल्लेवाल के अधीन पड़ते गांव छीनीवाल खुर्द में तीन कनाल जमीन पर कब्जा लेने आए अपने बेटे पर पिता ने गोली चला दी। गोली बेटे के साथ खड़े गांव कलाल माजरा के युवक के सिर से पार निकल गई। उसकी मौके पर ही मौत हो गई। मृतक फौज की ट्रेनिंग पूरी करके पहली बार छुट्टी पर आया था। वह अपने किसी दोस्त के साथ इस लड़ाई में आया था। फौजी ने तीन दिन बाद ही ड्यूटी पर लौटना था। अपनी रिश्तेदारी में शादी पर जाने के लिए तैयार खड़े फौजी के परिवार को उसकी मौत की सूचना मिली। जिससे खुशी का माहौल गम में बदल गया।

ईंटभट्ठे को जमीन ठेके पर देने के कारण कई दिन से चल रहा था परिवार में तनाव
एसएच ओटल्लेवाल कुलदीप सिंह ने बताया कि गांव छीनीवाल खुर्द के आरोपी जीत सिंह (75) ने घर के पास ही तीन कनाल जमीन भट्ठा मालिकों को कुछ दिन पहले ठेके पर दे दी। इसी बात के चलते गोली चलाने वाले आरोपी जीत सिंह का अपने बेटे रेशम सिंह के साथ विवाद चल रहा था। रेशम सिंह बुधवार शाम करीब पांच बजे अपने करीब चार-पांच साथियों को लेकर जमीन में घुस गया। उसने वहां पर बनी ईंटें तोड़ने की कोशिश की। इस बात का पता जब जीत सिंह को चला तो वह राइफल लेकर पहुंच गया। पहले तो पिता-पुत्र में तकरार हुई। लेकिन गुस्से में आकर जीत सिंह ने अपने पुत्र रेशम सिंह पर गोली चला दी। निशाना चूकने से रेशम सिंह बच गया गोली उसके साथ आए फौजी सर्वजीत सिंह के सिर पर लगी। जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। वहां पर आफर-तफरी मच गई। सभी मौके से भाग गए।

बयान के आधार पर पर्चा दर्ज होगा: एसएचओ
थानाटल्लेवाल के एसएचओ कुलदीप सिंह ने कहा कि मृतक के पिता कपिल सिंह के बयान दर्ज कर रही है। उसके बयान पर आरोपी जीत सिंह पर कत्ल का पर्चा दर्ज होगा। मृतक फौजी की लाश को पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल बरनाला में रखा गया है।

15 मिनट बाद उसदी मौत दी खबर गई
थाना टल्लेवाल में रोते हुए ये बात मृतक फौजी सर्वजीत सिंह के पिता कपिल सिंह ने कही। उसने बताया कि पूरे परिवार ने बुधवार को बरनाला में किसी शादी पर जाना था। उसका बेटा तैयार होकर बाहर खड़ा था। इतने में उसका एक दोस्त आया। उसे अपने साथ बैठा के साथ वाले गांव छीनीवाल खुर्द ले गया। 15 मिनट बाद फोन आया कि सर्वजीत कि लड़ाई हो गई है। बाद में फोन आया कि उसकी मौत हो गई है।

X
15 minutes after the news of death
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..