--Advertisement--

इस लड़की ने दी मौत को मात, अब जख्मी हालत में देगी 10 th के एग्जाम

खून से सने कागज पर लिखा 'आई क्विट', दोस्तों ने दिया था धक्का।

Danik Bhaskar | Mar 05, 2018, 03:58 AM IST
खुशी को अच्छे मार्क्स मिलने की उम्मीद। खुशी को अच्छे मार्क्स मिलने की उम्मीद।

जालंधर. 60 दिन बाद खुशी मंगलवार को एग्जाम देने के लिए तैयार है। 10 जनवरी को कैंब्रिज स्कूल की चौथी मंजिल से गिरी खुशी गुप्ता ने मौत को मात दी है। पेरेंट्स और टीचर्स की मोटिवेशन से नए सिरे से जिंदगी की शुरुआत कर रही है। पहला पेपर हिंदी का है...


- मंगलवार को खुशी 10वीं का एग्जाम देगी। पहला पेपर हिंदी का है। कैंट के केवी-3 में सेंटर है। खुशी एंबुलेंस से ही सेंटर तक जाएगी।

- हॉस्पिटलमें ही बुक्स मंगवाकर खुशी ने तैयारी की है। शारीरिक कमजोरी के कारण एक घंटे से ज्यादा लगातार नहीं पढ़ पाती।

- परिवार को उम्मीद है कि वह एग्जाम में अच्छे नंबर लेकर पास होगी और एक साल खराब नहीं हाेगा।

- सबसे आखिर में एक महीने बाद मैथ का पेपर है और तब खुशी काफी हद तक फिट हो जाएगी।

डॉक्टर साथ जाएंगे हॉस्पिटल

- खुशी गुप्ता को सीबीएसई बोर्ड से एग्जाम में एक सहायक साथ रखने की अनुमति मिल गई है।इसके लिए पेरेंट्स ने अथाॅरिटी काे लेटर लिखा था।

- खुशी को हॉस्पिटलसे एंबुलेंस में परीक्षा केंद्र तक ले जाया जाएगा। परीक्षा सुबह 10 बजे शुरू होगी और इसके लिए खुशी 9 बजे हॉस्पिटलसे निकलेगी।

- एंबुलेंस में डॉक्टर साथ रहेंगे ताकि कोई मुश्किल आने पर हैंडल कर सकें।

रोल नंबर मिला, हौसला बढ़ा
- एक हफ्ता पहले जब खुशी को टीचर रोल नंबर देने आए तो पहले वह डर गई, लेकिन जब परिवार और टीचर्स से बात की तो हौसला बढ़ गया।

- खुशी का पूरा स्कूल बैग हॉस्पिटलपहुंचा दिया गया। पढ़ते समय उसे थोड़ी दिक्कत होती थी, आंखों में स्ट्रेस पड़ता था। इसके लिए स्पेशल चश्मा बनवाया गया।

- खुशी ने कहा कि उसका टारगेट है कि एक साल खराब हाेने से बच जाए। फेवरेट सब्जेक्ट मैथ है, जिसका पेपर 28 मार्च को है। वह उसकी अच्छे से तैयारी करेगी।

- बीच-बीच में बैठकर थोड़ी देर पढ़ती है। आंखों या दिमाग पर स्ट्रेस लगता है तो वह पढ़ाई बंद कर लेट जाती है।

ये था मामला

नीते बच्चे ग्राउंड में कर रहे थे स्केटिंग। नीते बच्चे ग्राउंड में कर रहे थे स्केटिंग।