--Advertisement--

टारगेट किलिंग मामले ट्रेस करने वाले 13 पुलिस कर्मियों को मिला प्रमोशन

पादरी की हत्या मामले को सुलझाने वाले मोगा स्पेशल सैल के 13 मुलाजिमों को डीजीपी कार्यालय ने प्रमोशन दी है।

Dainik Bhaskar

Dec 22, 2017, 05:54 AM IST
डेमोफोटो डेमोफोटो

मोगा. पंजाब में हिंदू नेताओं और पादरी की हत्या मामले को सुलझाने वाले मोगा स्पेशल सैल के 13 मुलाजिमों को डीजीपी कार्यालय ने प्रमोशन दी है। 19 मुलाजिमों को क्लास वन सर्टिफिकेट के साथ-साथ एक-एक हजार रुपए इनाम दिया जा रहा है। मोगा स्पेशल सैल के अधिकारियों और मुलाजिमों ने एक महीने में इस मिशन को पूरा किया। इसी के चलते करीब एक महीना पहले मोगा के एसएसपी राजजीत सिंह हुंदल ने एक सिफारिश पत्र डीजीपी कार्यालय को भेजा था। इस कांड को अंजाम तक ले जाने वाले स्पेशल सैल से प्रभारी किक्कर सिंह का नाम इस लिस्ट में शामिल नहीं है।

वह इस समय बीमार चल रहे हैं। प्रमोशन पाने वालों में स्पेशल सैल के एएसआई इकबाल हुसैन को सब-इस्पेक्टर, एएसआई पिप्पल सिंह को सब-इंस्पेक्टर, हैड कांस्टेबल गुलाब सिंह, बलजीत सिंह, जसविंदर सिंह सर्बजीत सिंह को एएसआई बनाया गया है। सिपाही हरजीत सिंह, हरजिंदर सिंह, बलविंदर सिंह, गुरभेज सिंह, निर्मल सिंह, गुरदीप सिंह जगमोहन सिंह को हेड कांस्टेबल। क्लास वन सर्टिफिकेट एक-एक हजार रुपए का इनाम पाने वाले 19 मुलाजिमों में गुरनाम सिंह, सतनाम सिंह, सिमरतपाल सिंह, जगतार सिंह, गेजा सिंह, सुखपाल सिंह, परमजीत सिंह, रूपिंदरजीत सिंह, निर्मल सिंह, रूपिंदर सिंह, राजबीर सिंह, सुखजीत सिंह, रणधीर सिंह, परमिंदर सिंह, ओंकार सिंह, जगजीत सिंह, सुनील कुमार, गुरदीप सिंह जतिंदरपाल सिंह शामिल हैं। डीएसपी डी सर्बजीत सिंह ने इसकी पुष्टि की है।

हिंदू नेताओं की हत्याओं में तरलोक सिंह लाडी निवासी जम्मू-कश्मीर, दलजीत सिंह उर्फ जिम्मी जटट्, जगतार सिंह जौहल यूके, धर्मेंदर सिंह उर्फ गुगनी, रमनदीप सिंह रमना, हरिमंदर सिंह मिंटू, हरदीप सिंह शेरा अनिल कुमार बावा, जगजीत सिंह जग्गी को गिरफ्तार किया था।

X
डेमोफोटोडेमोफोटो
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..