--Advertisement--

आसानी से पैसे कमाने के चक्कर में ड्रग कोरियर बनीं, हेरोइन से भरी 6 मछलियां पकड़ी थीं

ड्रग रैकेट | 21 जनवरी को हेरोइन से भरी 6 मछलियां पकड़ी थीं

Dainik Bhaskar

Jan 30, 2018, 05:12 AM IST
रोसेट नमूतेबी रोसेट नमूतेबी

जालंधर. इंटरनेशनल ड्रग रैकेट की कोरियर युगांडा की रोसेट नमूतेबी से 9 दिन की पूछताछ में यह बात सामने आई है कि वह युगांडा लौटना चाहती थी। पैसे की जरूरत थी और उसे यह भी पता था कि ईजी मनी ड्रग में है। इसलिए वह कोरियर बन गई।

रोसेट ने माना कि मेडिकल वीजा पर इंडिया आई थी। दिल्ली के उत्तम नगर में मनप्रीत कौर, मिकेल और उसके अन्य साथी रहते थे, जहां ड्रग की ही बात होती थी। वह पैसे कमाकर युगांडा लौट जाना चाहती थी। दिल्ली से ड्रग की दो डिलीवरी तो उसने आसानी से दे दीं लेकिन तीसरी डिलीवरी देने से पहले उसे अरेस्ट कर लिया गया। उसे मनप्रीत ने बताया था कि नाभा जेल में बंद माइकल उनका बॅस है। उस के जरिये नेटवर्क चल रहा है।

X
रोसेट नमूतेबीरोसेट नमूतेबी
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..