--Advertisement--

जज्बाती हुए DSP ने मारी खुद को गोली, वीडियो वायरल हुआ तो पता चली मौत की वजह

खुफिया तंत्र ने दी थी सुरक्षा कड़ी करने की सलाह फिर भी पुलिस ने नहीं दिखाई गंभीरता

Dainik Bhaskar

Jan 30, 2018, 03:38 AM IST
डीएसपी बलजिंदर सिंह सिद्धू डीएसपी बलजिंदर सिंह सिद्धू

फरीदकोट. जैतो के डीएसपी बलजिंदर सिंह सिद्धू की मृत्यु व उनके साथ अटैच सुरक्षा कर्मी कांस्टेबल लाल सिंह के घायल होने के मामले में अफसरों की चुप्पी के चलते मामले को लेकर असमंजस अभी तक बना हुआ है। बेशक दबी जुबान में सभी अधिकारी इस मामले को डीएसपी द्वारा की गई आत्महत्या का मामला बता रहे हैं। लेकिन इस आत्महत्या के पीछे छिपे कारणों का खुलासा करने के मामले को लेकर अधिकारियों ने खामोशी धारण रखी है।

डीएसपी बलजिंदर के पटियाला रहते परिजनों के आने में हुई देरी व कानूनी कार्रवाई के चलते पोस्टमार्टम की कार्रवाई कल तक के लिए टल गई है जबकि मामले में घायल गनमैन लाल सिंह के आपरेशन होने के बाद उसकी हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है।

वीडियो हुआ था वायरल

पुलिस अफसरों की माने तो डीएसपी बलजिंदर सिंह खुद काफी जज्बाती किस्म के अधिकारी थे। धर्म में पक्की आस्था रखने वाले इस अधिकारी का अपने सहकर्मियों व जैतो के लोगों में अच्छा प्रभाव व इज्जत थी। मौके पर उपस्थित लोगों व सोशल मीडिया पर वायरल हुई वीडियो को देखने से ऐसा प्रतीत होता है कि भीड़ ने ही उन्हें इस कद्र जज्बाती कर दिया कि उन्होंने बिना सोचे समझे अपना सर्विस रिवाल्वर निकाल लिया लेकिन उसके बाद खुद की कनपटी पर रिवाल्वर रख गोली मारने की नौबत क्यों आई इसका जवाब किसी अधिकारी के पास नहीं। वहीं, गनमैन कांस्टेबल लाल सिंह की हालत अभी गंभीर बनी हुई है उसका मेडिकल काॅलेज में इलाज चल रहा है। फिलहाल पुलिस थाना जैतो में अज्ञात आरोपी पर आत्महत्या के लिए उकसाने का केस दर्ज हुआ है।

परिवार से भी नहीं था कोई विवाद

डीएसपी बलजिंदर सिंह के नजदीकियों में शुमार कोटकपूरा के बास्केटबाल खिलाड़ी गुरमनदीप सिंह संधू के अनुसार बलजिंदर का परिवार व माता-पिता पटियाला में रहते हैं। बेटा विदेश में स्टडी करने गया था और वही पर सैट है व उनका पारिवारिक तौर पर कोई विवाद नहीं है।

सुरक्षा में चूक से बिगड़ा मामला
जैतो में असामाजिक तत्वों की कार्रवाइयों के चलते अधिकारियों द्वारा दिए गए कड़े सुरक्षा प्रबंधों के बावजूद काॅलेज की सुरक्षा में हुई चूक भी किसी हद तक अधिकारी की मृत्यु का कारण बनी। बेशक पुलिस का छात्रों के साथ विवाद करीब पंद्रह दिन पुराना था व छात्रों ने भी सोमवार को काॅलेज के बाहर रोष प्रदर्शन करने की चेतावनी दी थी व खुफिया तंत्र ने भी काॅलेज में धरने के मद्देनजर सुरक्षा कड़ी करने की सलाह दी थी। इसके बावजूद पुलिस मामले की गंभीरता को समझने से चूक गई।

अन्य वीडियो के इंतजार में पुलिस
वीडियो बनाकर उसे सोशल मीडिया पर अपलोड करने की युवा प्रवृति अभी भी पुलिस की उम्मीद बनी हुई है। पुलिस अधिकारी मानते हैं कि घटनास्थल पर एकत्रित छात्रों में से ज्यादातर के पास अच्छे मोबाइल भी थे और वह वीडियो बनाने में भी लीन थे। ऐसे में पुलिस इस बात की भी उम्मीद लगाए बैठी है किसी और युवक के पास ऐसी वीडियो हो जो सारे घटनाक्रम पर से पर्दा उठा सके।

आगे की स्लाइड्स में देखें फोटोज...

वायरल वीडियो की क्लिप जिसमें डीएसपी गन कनपटी पर लगाए दिख रहा है। वायरल वीडियो की क्लिप जिसमें डीएसपी गन कनपटी पर लगाए दिख रहा है।
मौके पर बिखरा खून। मौके पर बिखरा खून।
डीएसपी बलजिंदर सिंह सिद्धू की मां। डीएसपी बलजिंदर सिंह सिद्धू की मां।
डीएसपी बलजिंदर के पिता। डीएसपी बलजिंदर के पिता।
वायरल वीडियो की क्लिप जिसमें एक प्रदर्शनकारी से पिस्तौल लेकर डीएसपी उसे कर्मचारियों के हवाले कर रहा है। वायरल वीडियो की क्लिप जिसमें एक प्रदर्शनकारी से पिस्तौल लेकर डीएसपी उसे कर्मचारियों के हवाले कर रहा है।
हॉस्पिटल में DSP हॉस्पिटल में DSP
डीएसपी बलजिंदर डीएसपी बलजिंदर
X
डीएसपी बलजिंदर सिंह सिद्धूडीएसपी बलजिंदर सिंह सिद्धू
वायरल वीडियो की क्लिप जिसमें डीएसपी गन कनपटी पर लगाए दिख रहा है।वायरल वीडियो की क्लिप जिसमें डीएसपी गन कनपटी पर लगाए दिख रहा है।
मौके पर बिखरा खून।मौके पर बिखरा खून।
डीएसपी बलजिंदर सिंह सिद्धू की मां।डीएसपी बलजिंदर सिंह सिद्धू की मां।
डीएसपी बलजिंदर के पिता।डीएसपी बलजिंदर के पिता।
वायरल वीडियो की क्लिप जिसमें एक प्रदर्शनकारी से पिस्तौल लेकर डीएसपी उसे कर्मचारियों के हवाले कर रहा है।वायरल वीडियो की क्लिप जिसमें एक प्रदर्शनकारी से पिस्तौल लेकर डीएसपी उसे कर्मचारियों के हवाले कर रहा है।
हॉस्पिटल में DSPहॉस्पिटल में DSP
डीएसपी बलजिंदरडीएसपी बलजिंदर
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..