--Advertisement--

बीमार पोती की दवा लेने हॉस्पिटल के बाहर बैठी बुजुर्ग महिला की चेन छीनी

एएसआई बोले आप चिंता करें। लुटेरे पकड़कर आप को चेन दिलवाई जाएगी।

Danik Bhaskar | Dec 22, 2017, 07:26 AM IST
सैदां गेट की 50 साल की संतोष देवी बोलीं- मैंने थाने के चक्कर नहीं लगाने, चाहे चेन मिले या न मिले। एएसआई बोले आप चिंता न करें। लुटेरे पकड़कर आप को चेन दिलवाई जाएगी। सैदां गेट की 50 साल की संतोष देवी बोलीं- मैंने थाने के चक्कर नहीं लगाने, चाहे चेन मिले या न मिले। एएसआई बोले आप चिंता न करें। लुटेरे पकड़कर आप को चेन दिलवाई जाएगी।

जालंधर. आदर्श नगर से सटी पीएंडटी कॉलोनी में बलवीर हॉस्पिटल के मेन गेट के बाहर तीन साल की पोती की दवा लेने के लिए बैठी 50 साल की संतोष देवी की लुटेरे सवा तोले की चेन झपटकर भाग निकले। स्नैचर के साथी ने गली में पहले से बिना नंबर की बाइक स्टार्ट रखी थी। चेन लूटने के बाद वह बाइक के पीछे बैठ निकल गया। एक युवक ने लुटेरों का पीछा करने की कोशिश की पर लुटेरे तेजी से भाग गए।

सीसीटीवी में लुटेरे कैद हुए हैं मगर उनके चेहरे ठीक से नजर नहीं रहे। एसीपी सतिंदर चड्डा ने कहा कि केस दर्ज कर लुटेरों की तलाश शुरू की गई है।

एरिया में लगे और सीसीटीवी कैमरे खंगाले जा रहे हैं। एसीपी का दावा है कि हम लुटेरे जल्द पकड़ लेंगे।

मूल रूप से राजस्थान की रहने वाली संतोष देवी ने बताया कि वह अपनी फैमिली के साथ 30 साल से सैदां गेट में ही रह रही हैं। पति हेमराज और बेटा शू मेकर हैं। उनकी तीन साल की पोती जानवी को टाइफाइड हो गया है। उसकी दवा बलवीर हॉस्पिटल में चल रही है। वह रिक्शा पर पोती को लेकर आई थी। उनकी बारी आने वाली थी। दोपहर 12 बजकर 20 मिनट का टाइम था कि एक युवक के हाथ में हेलमेट पकड़ा हुआ था। वह पैदल आया और इससे पहले कि वह कुछ समझ पाती, लुटेरे ने उसकी चेन झपट ली। एसीपी चड्डा और एएसआई चरन सिंह ने मौके पर पहुंचकर जांच की।

सैदां गेट की 50 साल की संतोष देवी बोलीं- मैंने थाने के चक्कर नहीं लगाने, चाहे चेन मिले या मिले। एएसआई बोले आप चिंता करें। लुटेरे पकड़कर आप को चेन दिलवाई जाएगी।