Hindi News »Punjab »Jalandhar» Explosion After Fire In LPG Cylinder Testing Unit

बेटी के सामने पिता- भाई जल रहे थे जिंदा, बोली- मेरे सामने लगी थी दोनों में आग

भाई और पिता की हालत है सीरियस,लड़की ने जमीन पर लेटकर बचाई अपनी जान।

bhaskar news | Last Modified - Jan 14, 2018, 02:58 AM IST

  • बेटी के सामने पिता- भाई जल रहे थे जिंदा, बोली- मेरे सामने लगी थी दोनों में आग
    +7और स्लाइड देखें
    एलपीजी सिलेंडर टेस्टिंग यूनिट में आग के बाद धमाका।

    जालंधर.गांव मुबारकपुर शेखे में सुबह 10 बजे महाजन सिलेंडर कंपनी के एलपीजी सिलेंडर टेस्टिंग यूनिट में आग लगने से एक स्टूडेंट पूनम समेत 7 लोग झुलस गए। सिलेंडर में धमाके से दो कमरों की छत उड़ गई। पूनम को छोड़कर सभी सीरियस हैं। सीरियस लोगों में पूनम का भाई और पिता भी हैं। हादसे के वक्त अंदर 18 लोग थे। 11 लोग किसी तरह जान बचाकर बाहर आ गए। पेंट करने वाले 6 लोग बाद में बाहर आए। टेस्ट से पहले सिलेंडर की बॉल खोली जाती है इसी दौरान आग लगी थी।

    स्टूडेंट बोली- पापा और भाई के कपड़ों को आग लग चुकी थी

    - सीरियस लोगों में एक राम प्रवेश की 19 साल की बेटी पूनम हादसे में 20 फीसदी झुलसी है। उसने बताया कि - वह केएमवी में बीबीए पार्ट-1 की स्टूडेंट है। वह कमरे से बाहर आ रही थी कि अचानक आग फैल गई।

    - वह सबसे पहले बचकर निकली। दौड़ते समय उसके सूट में आग लग गई। आग बुझाने के लिए हाथ मारा, मगर हाथ जल गया। पीछे मुड़कर देखा तो उसके पापा और भाई के कपड़ों में आग लग चुकी थी।

    - यह देख कर चिल्लाई तो उसके पापा, भाई और 4 लोग पीछे-पीछे आ गए। उनके कपड़ों में आग लगी हुई थी। वह जमीन पर लेट गई। दौड़ कर निकल रही थी तो मुंह पर सेक लगा था। इतनी देर में धमाका सुनाई दिया।

    - हादसे के समय उसका छोटा भाई कमलेश बाहर था तो वह बच गया।’ पूनम को सिविल अस्पताल से शिफ्ट करके जनता अस्पताल में लाया गया, जहां उसके पापा और भाई का इलाज चल रहा है।

    पेंट करने के लिए तैयार कर रहा था सिलेंडर

    - झुलसे राम प्रवेश ने कहा कि कंपनी का नियम है कि टेस्टिंग का काम करते समय कोई खाना नहीं बन सकता इसलिए पहले खाना बनाया जाता है।

    - सुबह 10 बजे गैस सिलेंडर की बॉल खोलकर एक टीम चैकिंग कर रही थी। वह पेंट करने के लिए सिलेंडर तैयार कर रहा था। अचानक आग फैल गई। शायद आग शॉर्ट सर्किट से लगी है। आग फैल गई।

    - वह और उसके बेटे समेत 6 लोग आग में फंस गए थे। जैसे ही आग से निकले तो उनके कमरे तक आग पहुंच गई और वहां रखे गैस सिलेंडर में धमाका हो गया। इससे आग और फैल गई थी।
    - गणेश प्रसाद और भोला सिंह ने कहा कि सिलेंडर पर पेंट करने की तैयारी कर रहे उनके 6 साथी आग में फंस गए। आग तेजी से फैली तो वे किसी तरह भाग निकले।

    - उनके साथ राजू, राम विलास, प्रेम सागर, रजवंत, राज श्रीवास्तव, राम पाल, रमेश, धमेंद्र और अखिलेश बाहर की ओर दौड़े। उनके बाकी साथी कुछ देर बाद जरूर निकल आए, मगर उनके शरीर को आग पकड़ चुकी थी। हादसे के समय सुरिंदर और कमलेश घटनास्थल से कुछ ही दूरी पर थे।

    बिहार के गोपाल गंज के रहने वाले हैं सभी

    सुरिंदर कुमार ने कहा वे रिश्तेदार हैं और कंपनी में 17 साल से काम कर रहे हैं। सभी बिहार के गोपाल गंज के रहने वाले हैं। हादसे के समय वह पेंट हो चुके सिलेंडर को धूप में रख रहा था।

    5 साल बाद होती है टैस्टिंग
    - घरेलू गैस सिलेंडर की टेस्टिंग पांच साल बाद कंपनी ठेके पर करवाती है। इंडियन ऑयल का ठेका महाजन सिलेंडर के पास है।

    - कंपनी पांच साल पुराने गैस सिलेंडर टैस्टिंग के लिए भेजती है। यहां कंपनी के कर्मचारी सिलेंडर को पेंट करने से लेकर उसकी बॉल चेक करते हैं। खराब बॉल बदल दी जाती है।

    - कंपनी के एक कर्मचारी ने कहा कि यहां हर रोज 900 सिलेंडरों की टेस्टिंग होती थी।

    6 लोगों को कपड़ों को लगी आग
    - किसान रविंदर सिंह ने कहा कि वे रुटीन में खेत में आए थे। देखा कि सामने फैक्टरी में आग लगी हुई है। उनके सामने 6 लोग आग लगने के कारण दौड़ रहे थे। दो लोग खेत में जाकर लेट गए। इस बीच धमाका हुआ।

    - लोग जमा हो गए। किसी तरह आग बुझाई। दविंदर सिंह ने कहा सबसे पहले 108 एबुलेंस को कॉल की और फिर फायर ब्रिगेड को। फायर ब्रिगेड तो आ गई, मगर एबुलेंस नहीं आई। इसलिए वहां से चमन लाल, राम प्रवेश, अनिल और धनंजय को अपनी कार में जनता अस्पताल ले गए, जबकि बीर बहादुर को एक ऑटो वाला ले गया।

    - इसी तरह रूप चंद्र नंबरदार ने छोटू और जूनल प्रसाद को टैगोर हॉस्पिटल पहुंचाया।

  • बेटी के सामने पिता- भाई जल रहे थे जिंदा, बोली- मेरे सामने लगी थी दोनों में आग
    +7और स्लाइड देखें
    मुबारकपुर शेखे में गैस गडाउन में लगी आग ।
  • बेटी के सामने पिता- भाई जल रहे थे जिंदा, बोली- मेरे सामने लगी थी दोनों में आग
    +7और स्लाइड देखें
    आग से जला युवक।
  • बेटी के सामने पिता- भाई जल रहे थे जिंदा, बोली- मेरे सामने लगी थी दोनों में आग
    +7और स्लाइड देखें
    आग से झुलसे लोग।
  • बेटी के सामने पिता- भाई जल रहे थे जिंदा, बोली- मेरे सामने लगी थी दोनों में आग
    +7और स्लाइड देखें
    सिलेंडर में लगी आग।
  • बेटी के सामने पिता- भाई जल रहे थे जिंदा, बोली- मेरे सामने लगी थी दोनों में आग
    +7और स्लाइड देखें
    आग लगने के समय 18 लोग थे।
  • बेटी के सामने पिता- भाई जल रहे थे जिंदा, बोली- मेरे सामने लगी थी दोनों में आग
    +7और स्लाइड देखें
    6 लोगों के कपड़ों को लगी आग।
  • बेटी के सामने पिता- भाई जल रहे थे जिंदा, बोली- मेरे सामने लगी थी दोनों में आग
    +7और स्लाइड देखें
    आग बुझाते हुए फायरकर्मा।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Jalandhar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×