--Advertisement--

5 साल पहले पिता की मौत, बहन ने पढ़ाया, अब सीए बनी ये गर्ल

पिताजी कहते थे कि मैं पढ़ नहीं पाया तुम खूब पढ़ाई करना और सीए बनना।

Danik Bhaskar | Jan 18, 2018, 06:23 AM IST

जालंधर. हरनाम दास पुरा निवासी 25 वर्षीय तरणजीत कौर सरकारी स्कूल से लेकर यूनिवर्सिटी तक मैरिट होल्डर रही है। पांच साल पहले पिता गुरमीत सिंह की अचानक मौत के बाद परिवार संकट में आ गया था। वह दूध का कारोबार करते थे। तरणजीत ने बताया कि हम तीन बहनें थीं। पिताजी कहते थे कि मैं पढ़ नहीं पाया तुम खूब पढ़ाई करना और सीए बनना।

पिता के जाने के बाद आर्थिक स्थिति को संभालने में बड़ी बहन और जीजा के परिवार ने पूरा सपोर्ट किया। बड़ी बहन हरप्रीत कौर ने मेरे लिए नौकरी की और पढ़ाई का खर्च उठाया। मैं भी नौकरी करने लगी।

महिलाएं सीए बनती हैं लेकिन शहर में किसी ने अभी तक कोई बड़ा मुकाम हासिल नहीं किया है। मेरा सपना है कि मैं शहर में अपना नाम बनाऊं। फिलहाल तरणजीत सीए जेसी अरोड़ा एंड एसोसिएट्स में काम कर रही है। वह अपने परिवार की पहली सीए हैं।